HBE Ads
  1. हिन्दी समाचार
  2. जीवन मंत्रा
  3. Benefits of Sendha Namak: ये नमक आंखों के लिए वरदान, ब्लड प्रेशर से दिलाए छुटकारा जानें और भी फायदे

Benefits of Sendha Namak: ये नमक आंखों के लिए वरदान, ब्लड प्रेशर से दिलाए छुटकारा जानें और भी फायदे

Benefits of Sendha Namak: सेंधा नमक (Sendha Namak)  खाने में सिर्फ स्वादिष्ट ही नहीं, बल्कि स्वास्थ्य के लिए भी बहुत लाभकारी है। क्योंकि नमक में मौजूद गुणकारी तत्व हमारे शरीर को बीमारियों से बचाव में मदद करते हैं। आयुर्वेद में सेंधा नमक (Sendha Namak)  सभी के लिए अच्छा विकल्प है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

Benefits of Sendha Namak: सेंधा नमक (Sendha Namak)  खाने में सिर्फ स्वादिष्ट ही नहीं, बल्कि स्वास्थ्य के लिए भी बहुत लाभकारी है। क्योंकि नमक में मौजूद गुणकारी तत्व हमारे शरीर को बीमारियों से बचाव में मदद करते हैं। आयुर्वेद में सेंधा नमक (Sendha Namak)  सभी के लिए अच्छा विकल्प है। आयुर्वेद के आचार्य चरक ने चरक संहिता (Charak Samhita) ग्रंथ में सेंधा नमक (Sendha Namak) को वर्णित करते हुए ‘सैन्धवं लवणोत्तम’ सभी प्रकार के नमकों में सेंधा नमक को श्रेष्ठ बताया है।

पढ़ें :- प्रज्वल रेवन्ना का छोटा भाई सूरज भी गिरफ्तार, JDS कार्यकर्ता से जबरन अप्राकृतिक संबंध बनाने के लगे हैं आरोप

पाचन तंत्र में सुधार: सेंधा नमक (Sendha Namak) प्रकृति द्वारा तैयार होता है, जिस कारण इसका स्वाद हल्का मीठा होता है और इसके अंदर मौजूद गुणकारी तत्व पाचन शक्ति को बढ़ाने में सहायक होते हैं, जिससे शरीर के अंगों को ऊर्जा अच्छे से प्राप्त होती है।

ब्लड प्रेशर नियंत्रित करे : साधारण नमक को समुद्र से प्रोसेस कर आयोडाइज्ड बनाया जाता है, जिसमें आयोडीन की अच्छी मात्रा होती है, जो घेंघा रोग की समस्या को दूर करता है, लेकिन कई मामलों में साधारण नमक से ब्लड प्रेशर की समस्या भी उत्पन्न होती है। ऐसे में सेंधा नमक (Sendha Namak)  में साधारण नमक की तुलना में बहुत कम सोडियम होता है, जिस कारण उच्च रक्तचाप की समस्या नहीं होती है और यह रक्तचाप को नियंत्रित करने में मदद करता है और हृदय को सुरक्षित रखता है।

आंखों के लिए लाभकारी: सेंधा नमक (Sendha Namak) में मैग्नीशियम और पोटाशियम जैसे मिनरल्स हैं, जो आंखों को स्वस्थ रखते हैं और आंखों से संबंधित समस्याओं से बचाव में मदद करते हैं।

सूजन से राहत: सेंधा नमक (Sendha Namak) में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण पाए जाते हैं जो मांसपेशियों को राहत पहुंचाकर दर्द कम करने में सहायक होते हैं। इसके लिए एक ग्लास गर्म पानी में आधा चम्मच सेंधा नमक (Sendha Namak) मिलाकर सूजन वाले जगह पर सेंकने से राहत मिलती है।

पढ़ें :- NEET-NET परीक्षा विवाद मामले में मोदी सरकार का बड़ा एक्शन, NTA के महानिदेशक सुबोध कुमार को हटाया

वीर्य वर्धक : सेंधा नमक (Sendha Namak) के उपयोग से शुक्राणु की गुणवत्ता बेहतर होती और इससे शरीर में शुक्राणु की संख्या भी बढ़ती है। इसलिए सभी वर्गों के लोगों को रोजाना 1.5 मिलीग्राम से लेकर 2.3 मिलीग्राम सेंधा नमक का उपयोग करना चाहिए।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...