1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. Bharat Jodo Yatra : बाबा महाकाल की नगरी उज्जैन पहुंचे राहुल गांधी का 200 पंडितों ने किया स्वागत

Bharat Jodo Yatra : बाबा महाकाल की नगरी उज्जैन पहुंचे राहुल गांधी का 200 पंडितों ने किया स्वागत

Bharat Jodo Yatra : राहुल गांधी (Rahul Gandhi) की भारत जोड़ो यात्रा (Bharat Jodo Yatra)  काफिला देवी अहिल्या के नगर इंदौर से बाबा महाकाल (Baba Mahakal)  की नगरी उज्जैन पहुंच गयी है। उज्जैन पहुंचने पर उनका स्वागत भारतीय और हिंदू संस्कृति के तौर तरीकों से किया गया। यात्रा सुबह 6 बजे इंदौर के सांवेर से शुरू हुई थी।

By संतोष सिंह 
Updated Date

Bharat Jodo Yatra : राहुल गांधी (Rahul Gandhi) की भारत जोड़ो यात्रा (Bharat Jodo Yatra)  काफिला देवी अहिल्या के नगर इंदौर से बाबा महाकाल (Baba Mahakal)  की नगरी उज्जैन पहुंच गयी है। उज्जैन पहुंचने पर उनका स्वागत भारतीय और हिंदू संस्कृति के तौर तरीकों से किया गया। यात्रा सुबह 6 बजे इंदौर के सांवेर से शुरू हुई थी। राहुल गांधी (Rahul Gandhi) आज उज्जैन में बाबा महाकाल (Baba Mahakal)  के दर्शन और पूजन करेंगे उसके बाद वहां एक जनसभा को संबोधित करेंगे।

पढ़ें :- India and New Zealand T20 Series: भारत ने न्यूजीलैंड को 168 रनों से हराया, सीरीज पर भी किया कब्जा

राहुल गांधी (Rahul Gandhi)  की भारत जोड़ो यात्रा (Bharat Jodo Yatra) को कन्याकुमारी से शुरू हुए आज 83 दिन पूरे हो जाएंगे। एमपी में यात्रा का आज सातवां दिन है. राहुल गांधी (Rahul Gandhi)  आज बाबा महाकाल (Baba Mahakal) की नगरी में हैं। तय कार्यक्रम के अनुसार राहुल गांधी (Rahul Gandhi)  शाम 4:00 बजे महाकाल मंदिर (Mahakal Temple) में विधि विधान से दर्शन पूजन करेंगे। इससे पहले राहुल दिगम्बर जैन सिद्ध क्षेत्र महावीर तपोभूमि भी पहुंचेंगे। शाम 4:45 बजे समाजिक न्याय परिसर में जनसभा को संबोधित करेंगे। आज की यात्रा सुबह 6:00 सांवेर से शुरू हुई।

ऐतिहासिक औऱ धार्मिक अवंतिका नगरी उज्जैन में राहुल गांधी (Rahul Gandhi)  का परंपरागत भारतीय संस्कृति अनुसार स्वागत किया गया। कांग्रेस ने इसके लिए खास तैयारी की थी। करीब 200 पंडित-बटुक ने राहुल गांधी (Rahul Gandhi)  के पहुंचते ही स्वास्ति वाचन और मंत्र उच्चारण के साथ उनका स्वागत किया। इसके साथ ही राहुल गांधी (Rahul Gandhi)  की भारत जोड़ो यात्रा (Bharat Jodo Yatra)  की सफलता के लिए प्रार्थना भी हुई। यात्रा के दौरान कहीं पारम्परिक नृत्य की झलक दिखी तो कहीं मलखम्ब करते पहलवान नजर आए।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...