1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. Bhupendra Patel jeevan parichay: इंजीनियर से पार्षद तक जानिए कैसा है सीएम भूपेंद्र पटेल का राजनीतिक सफर?

Bhupendra Patel jeevan parichay: इंजीनियर से पार्षद तक जानिए कैसा है सीएम भूपेंद्र पटेल का राजनीतिक सफर?

गुजरात के मुख्यमंत्री के रूप में आज भूपेंद्र पटेल ने दूसरी बार शपथ ली है। शपथ ग्रहण समारोह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री अमित शाह, जेपी नड्डा समेत कई केंद्रीय मंत्री और भाजपा के नेता पहुंचे हैं। दूसरी बार गुजरात के मुख्यमंत्री बने भूपेंद्र पटेल की राजनीतिक शुरूआत काफी रोचक है। आइए जानते हैं कि इन्होंने अपनी राजनीति पारी की शुरूआत कैसे की है...

By शिव मौर्या 
Updated Date

Bhupendra Patel jeevan parichay: गुजरात के मुख्यमंत्री के रूप में आज भूपेंद्र पटेल ने दूसरी बार शपथ ली है। शपथ ग्रहण समारोह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री अमित शाह, जेपी नड्डा समेत कई केंद्रीय मंत्री और भाजपा के नेता पहुंचे हैं। दूसरी बार गुजरात के मुख्यमंत्री बने भूपेंद्र पटेल की राजनीतिक शुरूआत काफी रोचक है। आइए जानते हैं कि इन्होंने अपनी राजनीति पारी की शुरूआत कैसे की है…

पढ़ें :- माध्यमिक शिक्षा की मजबूती को मुख्यमंत्री देंगे 25 करोड़ रुपये का उपहार, 3 मार्च को साढ़े चार हजार विद्यार्थियों को मिलेगा स्मार्टफोन व टैबलेट

गुजरात के सीएम के रूप में भूपेंद्र पटेल ने दूसरी बार सीएम पद की शपथ ली है। इनका जन्म 15 जुलाई 1962 में भूपेंद्र पटेल का जन्म अहमदाबाद में हुआ। भूपेंद्र को लोग दादा भी कहते हैं। इनके पिता का नाम रजनीकांत भाई पटेल है। भूपेंद्र पटेल की पत्नी का नाम हेतल पटेल है। भाई का नाम केतन पटेल है। बेटे का नाम अनुज पटेल है। भूपेंद्र पटेल की बहु का नाम देवांशी पटेल है। बता दें कि, भूपेंद्र पटेल गुजरात के पाटीदार हैं।

इंजीनियरिंग की पढ़ाई भी की
गुजरात में दूसरी बार सीएम की शपथ लेने वाले गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने सिविल इंजीनियरिंग में डिप्लोमा किया है। इसके बाद उन्होंने बिल्डर का काम शुरू किया। 1995 में वह अहमदाबाद के मेमनानगर नगर पालिका के पहली बार सदस्य चुने गए। इसके बाद 1999 और फिर 2004 में भी इसके सदस्य रहे। 1999 से 2004 तक वह नगर पालिका के अध्यक्ष भी रहे।
2008 से 2010 तक अहमदाबाद नगर निगम के उपाध्यक्ष रहे। 2015 से 2017 तक अहमदाबाद शहरी विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष रहे।

2017 में पहली बार बने विधायक
बता दें कि, भूपेंद्र पटेल ने पहली बार घाटलोडिया विधानसभा का चुनाव लड़ा और रिकॉर्ड 1.17 लाख वोटों से जीत हासिल की थी। इसके बाद इनके नाम की खूब चर्चा हुई। तब विजयभाई रूपाणी मुख्यमंत्री थे। इस बार भी पटेल ने खाटलोडिया सीट से चुनाव लड़ा और 1.92 लाख वोटों से चुनाव जीत गए।

जानिए कैसे बने सीएम
बता दें कि, गुजरात के सीएम रहे विजय भाई रूपाणी को अचानक 2021 में पद से हटा दिया गया था। इसके बाद भूपेंद्र पटेल का नाम सामने आया था और उन्होंने मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। कहा जाता है कि भूपेंद्र पटेल आनंदीबेन पटेल के करीबी रहे।

पढ़ें :- हाई कोर्ट की ​हरियाणा सरकार पर सख्त टिप्पणी, कहा- बिना पूछे न दी जाए राम रहीम को पैरोल, 10 मार्च को करे सरेंडर

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...