1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. BJP leader murder exposed: भाजपा नेता की हत्या का खुलासा, पत्नी ने प्रेमी के साथ मिलकर रची थी हत्या की साजिश

BJP leader murder exposed: भाजपा नेता की हत्या का खुलासा, पत्नी ने प्रेमी के साथ मिलकर रची थी हत्या की साजिश

नोएडा पुलिस ने भाजपा नेता की हत्या का खुलासा कर दिया है। पत्नी ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर मुआवजे की राशि के लिए पति की हत्या की साजिश रची और मौत के घाट उतार दिया। यही नहीं मृतक की पहचान न हो इसको लेकर शव को जला दिया गया था। पुलिस ने इस मामले का खुलासा करते हुए उसके प्रेमी समेत चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। बता दें कि, मृतक भाजपा का बूथ अध्यक्ष था।

By शिव मौर्या 
Updated Date

BJP leader murder exposed: नोएडा पुलिस ने भाजपा नेता की हत्या का खुलासा कर दिया है। पत्नी ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर मुआवजे की राशि के लिए पति की हत्या की साजिश रची और मौत के घाट उतार दिया। यही नहीं मृतक की पहचान न हो इसको लेकर शव को जला दिया गया था। पुलिस ने इस मामले का खुलासा करते हुए उसके प्रेमी समेत चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। बता दें कि, मृतक भाजपा का बूथ अध्यक्ष था।

पढ़ें :- भाजपा नेता की अभद्रता से थाने में फूट-फूटकर रोने लगा ट्रैफिक सिपाही, FIR दर्ज

बता दें कि, नेहा उर्फ बासू ने गुरुवार को पुलिस को फोन करके सूचना दी थी कि ग्राम निलौनी मिर्जापुर में पति वीरपाल उर्फ पप्पन को घर में किसी ने किसी ने आग से जलाकर मार डाला है। पुलिस को वीरपाल का शव अधजली अवस्था में मकान के फर्स्ट फ्लोर पर बने कमरे में मिला था। वहीं, इस मामले में पुलिस ने खुलसा कर दिया है। पुलिस ने इस मामले में नेहा उर्फ बासू निवासी ग्राम मिर्जापुर वर्तमान पता दनकौर, भूदेव शर्मा निवासी ग्राम नीलौनी, मुकेश कुमार उर्फ सोनू निवासी मोहल्ला ऊंची दुकान कस्बा दनकौर व राजकुमार निवासी ग्राम लडूखी थाना ककौड़ बुलंदशहर को गिरफ्तार किया है।

पुलिस पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि उसकी शादी 2008 में वीरपाल के साथ हुई थी। उसके एक बेटा और दो बेटी हैं। नेहा उर्फ बासू ने बताया कि शादी के बाद वो अक्सर दनकौर बाजार में शॉपिंग करने के लिए बाजार जाती थी। इस दौरान दुकान के सेल्समैन मुकेश उर्फ सोनू कुमार से नेहा की पहचान हो गई। देखते ही देखते दोनों के बीच प्रेम संबंध हो गया। वीरपाल को इसकी जानकारी हुई तो उसने इसका विरोध किया।

2018 में नेहा पति को छोड़ एक बेटी और बेटे को साथ लेकर प्रेमी के साथ दनकौर में रहने लगी, जबकि एक बेटी पिता के साथ रहती थी। इन सबके बीच यमुना एक्सप्रेसवे औद्योगिक विकास प्राधिकारण ने अधिगृहित की थी। इसका मुआवजा एवं प्लॉट उसको मिलना था। इसको लेकर वीरपाल और नेहा के बीच विवाद चल रहा था। इसी को लेकर नेहा ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर पति की हत्या की साजिश रची। वारदात के बाद मुकेश अपने साथियों के साथ पहुंचा और वीरपाल की गला दबाकर हत्या कर दी, जिसके बाद शव को जला दिया।

 

पढ़ें :- नोएडा के गार्डन गैलेरिया मॉल में मर्डर: पार्टी करने आए युवकों की कर्मचारियों से हुआ विवाद, मारपीट में एक की मौत

 

 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...