1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. बीजेपी सांसद वरुण गांधी का खत किसानों को कर सकता है खुश, तो योगी सरकार की बढ़ सकती हैं मुश्किलें

बीजेपी सांसद वरुण गांधी का खत किसानों को कर सकता है खुश, तो योगी सरकार की बढ़ सकती हैं मुश्किलें

यूपी के पीलीभीत जिले से बीजेपी सांसद वरुण गांधी (BJP MP Varun Gandhi) ने उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के किसानों को राहत देने के लिए बड़ी पहल की है। इसके तहत उन्होंने यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (UP Chief Minister Yogi Adityanath) को लेटर लिखकर कई तरह की मांगें रखी हैं।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। यूपी के पीलीभीत जिले से बीजेपी सांसद वरुण गांधी (BJP MP Varun Gandhi) ने उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के किसानों को राहत देने के लिए बड़ी पहल की है। इसके तहत उन्होंने यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (UP Chief Minister Yogi Adityanath) को लेटर लिखकर कई तरह की मांगें रखी हैं। रविवार को लिखे इस खत में वरुण गांधी (Varun Gandhi)ने मुख्यमंत्री से अपील की है कि गन्ने की कीमतों में अच्छी वृद्धि की जाए। इसके साथ ही गेहूं और धान की फसल पर बोनस दिया जाए।

पढ़ें :- CM योगी के मंदिर पर अखिलेश का तंज, कहा-दिल्ली से विशेष दस्ता आयेगा या फिर... 

पीएम किसान योजना (PM Kisan Yojana) में मिलने वाली राशि को दोगुना कर दिया जाए। इसके अलावा डीजल पर सब्सिडी दी जाए। वरुण गांधी (Varun Gandhi) का यह खत किसानों को जरूर खुश कर सकता है, लेकिन योगी सरकार (Yogi Sarkar) की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। माना जा रहा है कि वरुण के इस लेटर के सहारे विपक्ष के साथ किसान संगठन( farmers organization) भी योगी सरकार पर दबाव बढ़ा सकते हैंं।

पढ़ें :- जनहित के मुद्दों को लेकर सड़क से सदन तक निरंतर संघर्ष करती रहेगी सपा : अखिलेश यादव

बता दें कि यूपी से तीन बार के सांसद वरुण गांधी (Varun Gandhi)  किसानों से बातचीत की लगातार पैरवी भी करते आ रहे हैं। पीलीभीत से सांसद वरुण ने योगी को लिखे दो पन्ने के लेटर में किसानों की सभी समस्याओं, उनकी मांगों का जिक्र करते हुए उनके समाधान भी सुझाए हैं। वरुण गांधी ने सलाह दी है कि गन्ने का मूल्य 400 रुपए प्रति क्विंटल कर दिया जाए, जोकि अभी 315 रुपए प्रति क्विंटल है।

गन्ना मुख्यतौर पर पश्चिमी यूपी में उगाया जाता है, जो केंद्र सरकार के नए कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसानों का केंद्र भी है। वरुण गांधी ने कहा कि किसानों को गेहूं और धान पर 200 रुपए प्रति क्विंटल की दर से एमएसपी पर अतिरिक्त बोनस मिलना चाहिए। उन्होंने यह भी मांग रखी है कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि (PM Kisan Yojana) योजना के तहत मिलने वाली राशि को 6 हजार से बढ़ाकर 12 हजार रुपए कर दिया जाए। केंद्र की तरह राज्य सरकार भी 6 हजार रुपए सालाना दे।

किसानों की समस्याएं गिनाते हुए वरुण गांधी (Varun Gandhi)  ने बिजली और डीजल की ऊंची कीमत का जिक्र किया है। उन्होंने यूपी के सीएम से अपील की है कि किसानों को डीजल पर प्रति लीटर 20 रुपए की सब्सिडी दी जाए और बिजली की कीमत कर दी जाए। वरुण गांधी ने योगी आदित्यनाथ के सामने ये मांगें ऐसे समय पर रखी हैं, जब 2022 यूपी  विधानसभा चुनाव (2022 UP Assembly Elections) होने जा रहा है।

बता दें कि बीते 5 सितंबर को कई किसान संगठनों ने मुजफ्फरनगर महापंचायत( Muzaffarnagar Mahapanchayat) की थी तो उस दौरान वरुण गांधी (Varun Gandhi)  ने वीडियो ट्वीट कर लिखा था कि मुजफ्फरनगर( Muzaffarnagar)   में आज लाखों किसान धरना प्रदर्शन में जुटे हैं। वे हमारे अपने मांस और खून हैं। हमें उनके साथ सम्मानजनक तरीके से फिर से जुड़ना शुरू करने की जरूरत है। उनके दर्द, उनके दृष्टिकोण को समझें और आम जमीन तक पहुंचने के लिए उनके साथ काम करें।

इसके अलावा करनाल में एसडी द्वारा किसानों पर लाठी चार्ज के वायरल वीडियो पर ​कहा था कि यदि यह वीडियो सही है तो यह हमारे अपने नागरिकों के लिए लोकतांत्रिक भारत में अस्वीकार्य है।

पढ़ें :- Gorakhpur News : सीएम योगी हनुमान प्रसाद पोद्दार की 130वें जयंती महोत्सव में हुए शामिल

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...