1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. हार में भी पंजा को दिखी उम्मीद की किरण : कांग्रेस को 4.90 करोड़ वोट तो भाजपा को 4.81 करोड़ मत मिले, ये आंकड़े वापसी के लिए…

हार में भी पंजा को दिखी उम्मीद की किरण : कांग्रेस को 4.90 करोड़ वोट तो भाजपा को 4.81 करोड़ मत मिले, ये आंकड़े वापसी के लिए…

हाल ही में देश के चार राज्यों मध्य प्रदेश,राजस्थान, छत्तीसगढ़ व तेलंगाना में म​तगणना में बाद चुनाव आयोग के तरफ से जारी आंकड़ों के मुताबिक कांग्रेस को मिले 4.90 करोड़, जबकि भाजपा को 4.81 करोड़ मत मिले हैं। चार राज्यों के चुनाव परिणाम पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि तीन प्रदेशों में हमारी जीत 2024 लोकसभा जीत की गांरटी है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। हाल ही में देश के चार राज्यों मध्य प्रदेश,राजस्थान, छत्तीसगढ़ व तेलंगाना में म​तगणना में बाद चुनाव आयोग के तरफ से जारी आंकड़ों के मुताबिक कांग्रेस को मिले 4.90 करोड़, जबकि भाजपा को 4.81 करोड़ मत मिले हैं। चार राज्यों के चुनाव परिणाम पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi)  ने कहा कि तीन प्रदेशों में हमारी जीत 2024 लोकसभा जीत की गांरटी है। बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) की इसी बात को मीडिया समूह हवा बनाने में लग गए हैं कि जैसे देश से विपक्ष खत्म हो गया है। जबकि सच्चाई यह है कि कांग्रेस को हर प्रदेश में 40 प्रतिशत से ज्यादा या उसके आसपास वोट मिले हैं। जबकि मीडिया तेलंगाना पर बात ही नहीं कर रहा या कर रहा है।

पढ़ें :- देखते हैं अगले 1-2 दिन में क्या होता है? बहुत देरी हो गई है...शीट शेयरिंग पर बोले सीएम केजरीवाल

इसी बीच कांग्रेसी नेताओं ने हताशा पैदा करने व प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) की अजेय छवि पेश करने की कोशिशों के सामने चुनाव रिजल्ट के दूसरे पक्ष को सामने लाने की कोशिश की है। कांग्रेस प्रवक्ता सुप्रीया श्रीनेत (Congress spokesperson Supriya Shrinet) ने कहा कि लड़ाई लड़नी क्यों ज़रूरी है? इसलिए कि इस देश ने 4 राज्यों में कांग्रेस को भाजपा से 10 लाख ज़्यादा वोट दिये और जिन राज्यों में भाजपा जीती वहां भी हमें औसतन 40 फीसदी से ऊपर लोगों ने अपना वोट दिया है।

4 राज्यों में BJP-कांग्रेस के वोट

कांग्रेस:4 करोड़ 90 लाख से ऊपर भाजपा: 4 करोड़ 81 लाख से ऊपर।

तेलंगाना वोट प्रतिशत कांग्रेस – 39.40 फीसदी भाजपा – 13.90 फीसदी।

पढ़ें :- यूपी का 69,000 शिक्षक भर्ती भाजपा की आरक्षण विरोधी मानसिकता का सबूत है: राहुल गांधी

छत्तीसगढ़ वोट प्रतिशत कांग्रेस – 42.23 फीसदी भाजपा – 46.27 फीसदी।

राजस्थान वोट प्रतिशत कांग्रेस – 39.53 फीसदी भाजपा – 41.69 फीसदी।

मध्यप्रदेश वोट प्रतिशत कांग्रेस – 40.40 फीसदी भाजपा – 48.55 फीसदी।

हार जीत चुनावी राजनीति का हिस्सा है, लेकिन इतने सारे लोगों के इस विश्वास के भी कुछ मायने हैं। आंकड़ें तो यही बताते हैं।

वोट शेयर मामले में कांग्रेस भाजपा से ज़्यादा दूर नहीं , मिटाया जा सकता है इस अंतर को : जयराम रमेश

पढ़ें :- Lok Sabha Elections 2024: सपा-कांग्रेस के बीच गठबंधन का एलान, इन सीटों पर चुनाव लड़ेगी कांग्रेस

कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश (Congress General Secretary Jairam Ramesh) ने कहा कि इन राज्यों में पार्टी का अच्छा वोट शेयर हमारे लिए आशा और वापसी के लिए उम्मीद है। उन्होंने एक्स पर लिखा कि यह सच है कि छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश और राजस्थान में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस का प्रदर्शन निराशाजनक रहा है। जयराम रमेश आगे लिखा कि नतीजे हमारी उम्मीदों के मुताबिक़ नहीं आए हैं, लेकिन वोट शेयर के मामले में कांग्रेस भाजपा से ज़्यादा दूर नहीं है, बता दें कि इस अंतर को मिटाया जा सकता है। ये आंकड़े वापसी के लिए आशा और उम्मीद जगाते हैं। उन्होंने एक्स पर विपक्षी गठबंधन I.N.D.I.A की टैगलाइन पोस्ट करते हुए कहा कि ‘जुड़ेगा भारत, जीतेगा इंडिया’। बता दें कि यह गठबंधन 2024 के लोकसभा चुनावों में एकजुट होकर भाजपा से मुकाबला करने के लिए बनाया गया है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...