1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. 15 सितंबर तक नहीं लगवाई Corona Vaccine तो होगी कार्रवाई, राज्य सरकार ने जारी किया बड़ा फरमान

15 सितंबर तक नहीं लगवाई Corona Vaccine तो होगी कार्रवाई, राज्य सरकार ने जारी किया बड़ा फरमान

कोरोना के खिलाफ पंजाब की कैप्टेन अमरिंदर सिंह सरकार ने जंग तेज कर दिया है। इसके साथ ही राज्य के कर्मचारियों को 15 सितंबर तक वैक्सीन की कम से कम एक डोज लगवाने की सख्त हिदायत जारी की। राज्य सरकार ने कहा कि यदि कोई सरकारी कर्मचारी 15 सितंबर तक वैक्सीन की पहली डोज नहीं लेता है तो फिर उसे जबरन छुट्टी पर भेज दिया जाएगा।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। कोरोना (Corona) के खिलाफ पंजाब की कैप्टेन अमरिंदर सिंह सरकार (Captain Amarinder Singh Government)  ने जंग तेज कर दिया है। इसके साथ ही राज्य के कर्मचारियों को 15 सितंबर तक वैक्सीन (corona vaccine) की कम से कम एक डोज लगवाने की सख्त हिदायत जारी की। राज्य सरकार (State Government)  ने कहा कि यदि कोई सरकारी कर्मचारी 15 सितंबर तक वैक्सीन की पहली डोज (first dose of vaccine) नहीं लेता है तो फिर उसे जबरन छुट्टी पर भेज दिया जाएगा। हालांकि ऐसे सरकारी कर्मचारियों को इससे राहत रहेगी, जिन्हें हाल ही में कोरोना हुआ हो। उन्हें टीका लगवाने से मना किया गया हो। इसके अलावा अन्य मेडिकल कारणों से टीका न लगवा पाने वाले लोगों को भी राहत दी गई है, लेकिन किसी भी स्वस्थ कर्मचारी को 15 सितंबर तक वैक्सीन (vaccine) की कम से कम एक डोज लेनी होगी।

पढ़ें :- Ashok Gehlot बोले- कैप्टन साहब पार्टी के सम्मानित नेता, मुझे उम्मीद है कि वो पार्टी हित में आगे भी कार्य करते रहेंगे
Jai Ho India App Panchang

ऐसा न होने पर उनके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई (Disciplinary Action) की जाएगी। इसके साथ ही उन्हें छुट्टी पर भेज दिया जाएगा। इसके अलावा राज्य के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह (CM Capt Amarinder Singh) ने कोरोना से जुड़ी पाबंदियों को भी 30 सितंबर तक बढ़ाने का फैसला लिया है। पंजाब के सीएमओ (Punjab CMO) की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक फेस्टिवल सीजन को देखते हुए पाबंदियों की अवधि को बढ़ाया गया है। इस दौरान किसी भी आयोजन में 300 से ज्यादा लोगों के जुटने पर रोक होगी। इसके अलावा सोशल डिस्टेंसिंग (Social Distancing) पालन करना और मास्क पहनना पहले की तरह ही अनिवार्य रहेगा।

पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह (CM Amarinder Singh) ने की कि स्वास्थ्य कारणों को छोड़कर यदि 15 सितंबर तक राज्य सरकार के कर्मचारियों ने कोविड-19 रोधी टीके की पहली खुराक भी नहीं ली होगी, तो ऐसे कर्मचारियों को अनिवार्य रूप से छुट्टी पर भेज दिया जाएगा। एक आधिकारिक वक्तव्य के मुताबिक मुख्यमंत्री ने यह कड़ा फैसला इसलिए लिया है ताकि लोगों को महामारी से बचाया जा सके।

इसके अलावा यह सुनिश्चित किया जा सके कि टीका लगवा चुके लोग टीका नहीं लगवाने वाले लोगों की वजह से संक्रमित न हों। मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकारी कर्मचारियों को टीका लगवाने के लिए लगातार प्रेरित किया जा रहा है। ऐसे कर्मचारी जो अभी भी टीका लगवाने से बच रहे हैं, उनको तब तक छ्ट्टी पर भेज दिया जाएगा, जब तक कि वे टीके की पहली खुराक नहीं लगवा लेते।

पढ़ें :- 12 साल से अधिक उम्र के बच्चों को लगेगी वैक्सीन की तीन डोज, अक्टूबर माह के पहले हफ्ते से शुरू होगा वैक्सीनेशन!
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...