HBE Ads
  1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. आने वाले वर्षों में हम दुनिया की तीसरी बड़ी आर्थिक ताकत बनेंगे तो भारत का सैन्य सामर्थ्य भी नई बुलंदी पर होगा: पीएम मोदी

आने वाले वर्षों में हम दुनिया की तीसरी बड़ी आर्थिक ताकत बनेंगे तो भारत का सैन्य सामर्थ्य भी नई बुलंदी पर होगा: पीएम मोदी

पीएम मोदी ने कहा, आने वाले वर्षों में जब हम दुनिया की तीसरी बड़ी आर्थिक ताकत बनेंगे, तो भारत का सैन्य सामर्थ्य भी नई बुलंदी पर होगा। और भारत को तीसरी बड़ी आर्थिक ताकत बनाने में राजस्थान की बहुत बड़ी भूमिका होने वाली है। विकसित राजस्थान, विकसित सेना को भी उतनी ही ताकत देगा।

By शिव मौर्या 
Updated Date

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंगलवार राजस्थान के पोखरण में भारत शक्ति अभ्यास कार्यक्रम में शामिल हुए। इस दौरान उन्होंने कहा कि, आज हमने ये जो दृश्य देखा, अपनी तीनों सेनाओं के जो पराक्रम देखा, वो अद्भुत है। आसमान में ये गर्जना, जमीन पर ये जांबाजी, चारो दिशाओं में गूंजता ये विजय घोष, ये नए भारत का आह्वान है। उन्होंने आगे कहा, आज हमारा पोखरण एक बार फिर भारत की आत्मनिर्भरता, भारत के आत्मविश्वास और भारत के आत्मगौरव की त्रिवेणी का साक्षी बना है। यही पोखरण है, जो भारत की परमाणु शक्ति का साक्षी रहा है और यहीं पर हम आज स्वदेशीकरण से सशक्तिकरण का दम भी देख रहे हैं। साथ ही कहा, भारत शक्ति का ये उत्सव शौर्य की भूमि राजस्थान में हो रहा है। लेकिन इसकी गूंज सिर्फ भारत में ही नहीं, बल्कि पूरी दुनिया में सुनाई दे रही है।

पढ़ें :- भाजपा ने किसानों और नौजवानों को धोखा दिया, संविधान बचाने की लड़ाई जारी है: अखिलेश यादव

प्रधानमंत्री ने कहा, विकसित भारत की कल्पना, आत्मनिर्भर भारत के बिना संभव नहीं है। भारत को विकसित होना है, तो हमें दूसरों पर अपनी निर्भरता को कम करना ही होगा। इसलिए आज भारत, खाने के तेल से लेकर आधुनिक विमान तक, हर क्षेत्र में आत्मनिर्भरता पर बल दे रहा है। साथ ही कहा, हमारी तोपों, टैंकों, लड़ाकू जहाजों, हेलीकॉप्टर, मिसाइल सिस्टम की जो गर्जना आप देख रहे हैं, यही तो भारत शक्ति है। हथियार और गोला-बारूद, संचार उपकरण, साइबर और स्पेस तक हम Made In India की उड़ान अनुभव कर रहे हैं। यही तो भारत शक्ति है।

साथ ही कहा, बाते 10 वर्षों में हमने देश को रक्षा क्षेत्र में आत्मनिर्भर बनाने के लिए एक के बाद एक बड़े कदम उठाए हैं। हमने नीति-विषयक सुधार किए, रिफॉर्म्स किए, हमने प्राइवेट सेक्टर को इससे जोड़ा, हमने MSME स्टार्टअप्स को प्रोत्साहित किया। उन्होंने कहा, आज देश में उत्तर प्रदेश और तमिलनाडु में डिफेंस कॉरीडोर बन रहे हैं। इनमें अब तक 7 हजार करोड़ रुपये से ज्यादा का निवेश हुआ है। आज हेलीकॉप्टर बनाने वाली एशिया की सबसे बड़ी फैक्टरी भारत में काम करना शुरू कर चुकी है।

उन्होंने कहा, बीते 10 वर्षों में भारत ने अपना लड़ाकू हवाई जहाज बनाया है। भारत ने अपना एयरक्राफ्ट कैरियर बनाया है, C295 ट्रांसपोर्ट एयरक्राफ्ट भारत में बनाए जा रहे हैं। आधुनिक इंजन का निर्माण भी भारत में होने वाला है। आप कल्पना कर सकते हैं कि भविष्य में भारत की सेना और भारत का डिफेंस सेक्टर कितना बड़ा होने वाला है। इसमें युवाओं के लिए रोजगार और स्व-रोजगार के कितने अवसर बनने वाले हैं। कभी भारत दुनिया का सबसे बड़ा डिफेंस इम्पोर्टर हुआ करता था। जबकि आज भारत डिफेंस सेक्टर में भी एक बड़ा निर्यातक बनता जा रहा है। आज भारत का डिफेंस एक्सपोर्ट 2014 की तुलना में 8 गुना से ज्यादा बढ़ चुका है।

पीएम मोदी ने कहा, आने वाले वर्षों में जब हम दुनिया की तीसरी बड़ी आर्थिक ताकत बनेंगे, तो भारत का सैन्य सामर्थ्य भी नई बुलंदी पर होगा। और भारत को तीसरी बड़ी आर्थिक ताकत बनाने में राजस्थान की बहुत बड़ी भूमिका होने वाली है। विकसित राजस्थान, विकसित सेना को भी उतनी ही ताकत देगा।

पढ़ें :- छात्रों के भविष्य पर राजनीति करना कांग्रेस की पुरानी आदत है...मल्लिकार्जुन खरगे के बयान पर केंद्रीय मंत्री ने किया पलटवार

 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...