1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. कन्हैया कुमार का बेरोजगारी को लेकर मोदी सरकार पर बड़ा हमला, बोले- ‘देश में हर घंटे दो युवा कर रहे हैं सुसाइड’

कन्हैया कुमार का बेरोजगारी को लेकर मोदी सरकार पर बड़ा हमला, बोले- ‘देश में हर घंटे दो युवा कर रहे हैं सुसाइड’

नेशनल स्टूडेंट्स यूनियन ऑफ इंडिया (NSUI) के प्रभारी कन्हैया कुमार ने बेरोजगारी (Unemployment) को लेकर कांग्रेस पार्टी की ब्रीफिंग में एआईसीसी मुख्यालय (AICC HQ) में केंद्र सरकार पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि देश में बेरोजगारी (Unemployment)  के हालात ऐसे हो गए हैं कि हर घंटे 2 नौजवान आत्महत्या कर रहे हैं। विदेशों में भारतीयों के लिए ‘मृत काल’ शुरू हो गया है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। नेशनल स्टूडेंट्स यूनियन ऑफ इंडिया (NSUI) के प्रभारी कन्हैया कुमार (Kanhaiya Kumar) ने बेरोजगारी (Unemployment) को लेकर कांग्रेस पार्टी की ब्रीफिंग में एआईसीसी मुख्यालय (AICC HQ) में केंद्र सरकार पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि देश में बेरोजगारी (Unemployment)  के हालात ऐसे हो गए हैं कि हर घंटे 2 नौजवान आत्महत्या कर रहे हैं। विदेशों में भारतीयों के लिए ‘मृत काल’ शुरू हो गया है।

पढ़ें :- India Employment Report 2024 : भारत में 83 फीसदी युवा बेरोजगार, ILO-IHD की रिपोर्ट में चौंकाने वाला खुलासा

कन्हैया कुमार (Kanhaiya Kumar) ने कहा कि अगर देश के नौजवान अपने देश के लिए शहादत देते हैं तो यह देशभक्ति है, लेकिन दूसरे देश की लड़ाई में भारतीय नौजवानों को क्यों जाना पड़ रहा है? क्योंकि हमारे देश में नौजवानों के भविष्य के साथ खिलवाड़ हो रहा है। देश में पिछले 10 साल में बेरोजगारी दर दोगुनी हो गई है। केंद्रीय विभागों में लाखों पद खाली हैं और सरकारी क्षेत्रों की हालत काफी खराब है।

कन्हैया कुमार (Kanhaiya Kumar) ने कहा कि देश के नौजवानों की मजबूरी का फायदा उठाकर, विदेश के सपने दिखाकर युवाओं को इजराइल में मजदूरी के लिए भेज दिया गया। इस तरह देश के युवाओं के जीवन के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है। इन सबके बीच ‘विश्वगुरु’ होने का दावा किया जाता है, लेकिन आप ‘विष गुरु हैं, क्योंकि आप नौजवानों के भविष्य में जहर घोल रहे हैं।

कन्हैया कुमार (Kanhaiya Kumar) ने कहा कि रूस में भारतीय नौजवानों को बंधक बनाकर रखा गया है, क्योंकि अपने देश में नौजवानों के लिए ‘मृत काल’ चल रहा है। यदि मोदी सरकार हर साल 2 करोड़ नौकरियां देती तो नौजवानों को विदेश न जाना पड़ता। रूस के पास स्थायी सेना नहीं है, वहां सेना कांट्रैक्ट पर चलती है। जैसे अब देश में ‘अग्निवीर’ का मॉडल लाया गया है। गुजरात का एक नौजवान सिविलियन वर्क के लिए रूस गया, जहां उसकी मौत हो गई है। इस संवेदनशील मुद्दे पर चारों तरफ चुप्पी है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...