1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. Kanpur Violence : कानपुर पुलिस कमिश्नर का बड़ा बयान, आरोपियों पर लगेगा गैंगस्टर एक्ट और जब्त होगी प्रॉपर्टी

Kanpur Violence : कानपुर पुलिस कमिश्नर का बड़ा बयान, आरोपियों पर लगेगा गैंगस्टर एक्ट और जब्त होगी प्रॉपर्टी

कानपुर हिंसा (Kanpur Violence) मामले में यूपी पुलिस ने अब तक 29 आरोपियों को गिरफ्तार कर चुकी है। पुलिस की कार्रवाई पर उठ रहे सवाल और एकतरफा कार्रवाई के आरोप का भी कानपुर के पुलिस कमिश्नर (Kanpur Police Commissioner) विजय सिंह मीणा (Vijay Singh Meena) का रविवार को बड़ा बयान सामने आया है। यूपी पुलिस (UP Police) बड़ा एक्शन लेते हुए मामले में मुख्य साजिशकर्ता हयात जफर हाशमी समेत 29 लोगों को गिरफ्तार किया है। इस बीच कानपुर के काजी प्रमुख मौलाना अब्दुल कद्दूस कादी (Qazi chief Maulana Abdul Qaddas Qadi) ने यूपी पुलिस (UP Police)  की कार्रवाई पर सवाल उठाए थे। उन्होंने पुलिस कमिश्नर से एकतरफा कार्रवाई नहीं किए जाने की मांग की थी।

By संतोष सिंह 
Updated Date

Kanpur Violence : कानपुर हिंसा (Kanpur Violence) मामले में यूपी पुलिस ने अब तक 29 आरोपियों को गिरफ्तार कर चुकी है। पुलिस की कार्रवाई पर उठ रहे सवाल और एकतरफा कार्रवाई के आरोप का भी कानपुर के पुलिस कमिश्नर (Kanpur Police Commissioner) विजय सिंह मीणा (Vijay Singh Meena) का रविवार को बड़ा बयान सामने आया है। यूपी पुलिस (UP Police) बड़ा एक्शन लेते हुए मामले में मुख्य साजिशकर्ता हयात जफर हाशमी समेत 29 लोगों को गिरफ्तार किया है। इस बीच कानपुर के काजी प्रमुख मौलाना अब्दुल कद्दूस कादी (Qazi chief Maulana Abdul Qaddas Qadi) ने यूपी पुलिस (UP Police)  की कार्रवाई पर सवाल उठाए थे। उन्होंने पुलिस कमिश्नर से एकतरफा कार्रवाई नहीं किए जाने की मांग की थी।

पढ़ें :- भाजपा सांसद बोले- गांधी जी ने कराई थी सुभाष चंद्र बोस की हत्या, बढ़ा विवाद तो ये दी सफाई

पुलिस कमिश्नर विजय सिंह मीणा (Police Commissioner Vijay Singh Meena) ने ने पुलिस की कार्रवाई को लेकर उठ रहे सवालों के भी जवाब देते हुए कहा कि पूरी तरह साइंटिफिक सबूत जुटाने के बाद ही कार्रवाई की जा रही है। उन्होंने कहा कि जिस दिन ये घटना हुई, उसी दिन पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) ने पश्चिम बंगाल और मणिपुर में बंद का आह्वान किया था। इससे भी कनेक्शन खंगाला जा रहा है। उन्होंने दावा किया कि पकड़े गए आरोपियों के पास से पीएफआई से संबंधित दस्तावेज मिले हैं। आरोपियों के पास से छह मोबाइल फोन भी बरामद किए गए हैं। इन्हें खंगाला जा रहा है। आरोपियों के सोशल मीडिया अकाउंट भी खंगाले जा रहे हैं। कानपुर के पुलिस कमिश्नर ने कहा कि अब तक की जांच में पता चला है कि इन लोगों ने शहर का माहौल खराब करने की कोशिश की थी।

उन्होंने कहा कि सीसीटीवी और वीडियो फुटेज के आधार पर उपद्रवियों को चिह्नित किया जा रहा है। कानपुर  पुलिस कमिश्नर विजय सिंह मीणा (Kanpur Police Commissioner Vijay Singh Meena) ने बताया कि हमारे पास सभी के नाम आ गए हैं। दो से तीन दिन में सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा। कानपुर के पुलिस कमिश्नर ने कहा कि आरोपियों के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट (Gangster Act)लगाया जाएगा और इनकी प्रॉपर्टी जब्त की जाएगी। उन्होंने कहा कि कार्रवाई से ये साफ संदेश जाएगा कि इस तरह की हरकत किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

आज खुले हैं कानपुर में  बाजार

पुलिस कमिश्नर ने बताया कि आज बाजार खुले हैं। पुलिस लगातार पेट्रोलिंग (Patrolling) कर रही है। उन्होंने पर्याप्त सुरक्षाबलों की तैनाती का दावा करते हुए कहा कि अगर कहीं पुलिस फोर्स की कमी होगी तो जिम्मेदारी तय की जाएगी। पुलिस कमिश्नर ने बताया कि हमें यूपी की आर्म्ड फोर्स पीएसी की 12 और CAPF की 3 कंपनियां मिली हैं। इससे पहले कानपुर के पुलिस कमिश्नर ने कहा था कि हम हर पहलू की जांच कर रहे हैं। हर संगठन के कनेक्शन को खंगाला जा रहा है। उन्होंने ये भी कहा था कि हम आरोपियों के बैंक अकाउंट की भी डिटेल निकलवाएंगे और ये पता लगाने की कोशिश की जाएगी कि इनकी फंडिंग कहां से हो रही थी।

पढ़ें :- Uddhav Thackeray ने बागी मंत्रियों के पर कतरे, वापस लिया विभाग

बता दें कि बीजेपी प्रवक्ता नुपुर शर्मा (BJP spokesperson Nupur Sharma) के पैगंबर मुहम्मद को लेकर दिए एक बयान के खिलाफ अल्पसंख्यक समुदाय के लोग रैली निकाल रहे थे। इसी दौरान हिंसा भड़क उठी थी।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...