HBE Ads
  1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. खड़गे का EC पर बड़ा अटैक,’वोटिंग आंकड़ा जारी करने में इतनी देरी क्यूं, क्या यह अंतिम परिणामों में गड़बडी करने का प्रयास तो नहीं है?

खड़गे का EC पर बड़ा अटैक,’वोटिंग आंकड़ा जारी करने में इतनी देरी क्यूं, क्या यह अंतिम परिणामों में गड़बडी करने का प्रयास तो नहीं है?

कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे (Congress President Mallikarjun Kharge) ने विपक्षी इंडियन नेशनल डेवलपमेंटल इन्क्लूसिव अलायंस (INDIA) गठबंधन के सहयोगी नेताओं को पत्र लिखकर चुनाव आयोग (Election Commission) के रवैये और मतदान के आंकड़े जारी करने में देरी पर सवाल उठाए।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे (Congress President Mallikarjun Kharge) ने विपक्षी इंडियन नेशनल डेवलपमेंटल इन्क्लूसिव अलायंस (INDIA) गठबंधन के सहयोगी नेताओं को पत्र लिखकर चुनाव आयोग (Election Commission) के रवैये और मतदान के आंकड़े जारी करने में देरी पर सवाल उठाए। खरगे ने अपने पत्र में ‘इंडिया’ के नेताओं से आग्रह किया कि वे ऐसी विसंगतियों के खिलाफ आवाज उठाएं और हमारा एकमात्र उद्देश्य एक जीवंत लोकतंत्र की संस्कृति और संविधान की रक्षा करना है। उन्होंने पत्र में कहा कि हमें भारत के निर्वाचन आयोग की स्वतंत्रता सुनिश्चित करनी चाहिए और इसे जवाबदेह बनाना चाहिए।

पढ़ें :- Viral Video: आठ बार वोट करने और वीडियो सोशल मीडिया में पोस्ट करने वाला व्यक्ति गिरफ्तार, अखिलेश यादव ने की थी कार्ऱवाई की मांग

खड़गे ने कहा कि INDIA गठबंधन के तौर पर लोकतंत्र की रक्षा करना और चुनाव आयोग (Election Commission) की स्वतंत्र कार्यप्रणाली की रक्षा करना हमारा सामूहिक प्रयास होना चाहिए। उपरोक्त सभी तथ्य हमें यह प्रश्न पूछने के लिए मजबूर करते हैं कि क्या यह अंतिम परिणामों में गड़बडी करने का प्रयास तो नहीं है?

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि हम सभी जानते हैं कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) और भारतीय जनता पार्टी (BJP) पहले दो चरणों में मतदान के रुझानों से किस तरह घबराए हुए और निराश दिख रहे हैं। पूरा देश जानता है कि सत्ता के नशे में चूर एक निरंकुश शासन पद पर बने रहने के लिए किसी भी हद तक जा सकता है।

उन्होंने कहा कि मैं आप सभी से आग्रह करूंगा कि हमें सामूहिक रूप से, एकजुट होकर और स्पष्ट रुख के साथ ऐसी विसंगतियों के खिलाफ आवाज उठानी चाहिए, क्योंकि हमारा एकमात्र उद्देश्य एक जीवंत लोकतंत्र की संस्कृति और संविधान की रक्षा करना है।

कई विपक्षी दलों ने चुनाव आयोग (Election Commission) द्वारा मतदान के आंकड़े जारी करने में देरी को लेकर सवाल उठाए हैं। संसदीय चुनाव के तीसरे चरण में मंगलवार को 11 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में 93 निर्वाचन क्षेत्रों में मतदान जारी है।

पढ़ें :- INDIA की सरकार बनते ही ऐसी कार्रवाई होगी कि आगे कोई भी ‘संविधान की शपथ’ का अपमान करने से पहले 10 बार सोचेगा: राहुल गांधी

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...