1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. मुस्लिम धर्म छोड़कर वसीम रिजवी ने अपनाया सनातन धर्म, जानिए वजह…

मुस्लिम धर्म छोड़कर वसीम रिजवी ने अपनाया सनातन धर्म, जानिए वजह…

शिव वक्फ बोर्ड के पूर्व चेयरमैन वसीम रिजवी (Wasim Rizvi) ने सोमवार को सनातन धर्म अपना लिया। उन्होंने गाजियाबाद के शिव शक्ति धाम स्थित डासना देवी मंदिर में सनातन धर्म गृहण किया। नरसिंहहानंद गिरि महाराज ने पूरे धार्मि रीति-रिवाज के साथ वसीम रिजवी को सनातन धर्म गृहण कराया।

By शिव मौर्या 
Updated Date

लखनऊ। शिव वक्फ बोर्ड के पूर्व चेयरमैन वसीम रिजवी (Wasim Rizvi) ने सोमवार को सनातन धर्म अपना लिया। उन्होंने गाजियाबाद के शिव शक्ति धाम स्थित डासना देवी मंदिर में सनातन धर्म गृहण किया। नरसिंहहानंद गिरि महाराज ने पूरे धार्मि रीति-रिवाज के साथ वसीम रिजवी को सनातन धर्म गृहण कराया।

पढ़ें :- Meerut News : अब मेरठ में बीजेपी नेता ने थार से दो दोस्तों को कुचलकर मौत के घाट उतारा, परिवार का इकलौता बेटा था वंश

सनतान धर्म गृहण करते हुए वसीम रिजवी (Wasim Rizvi) ने सबसे पहले वैदिक मंत्रों के साथ मां काली की पूजा की और उसके बाद उनका शुद्धिकरण हुआ। उन्हें ब्राह्मण समाज में जितेंद्र नारायण त्यागी नाम दिया गया। इस मौके पर उन्होंने कहा कि धर्म परिवर्तन की यहां पर कोई बात नहीं है।

रिजवी (Wasim Rizvi)  ने कहा कि जब उन्हें इस्लाम धर्म से निकाल लिया गया है तो ऐसे में मेरी मर्जी है कि मैं कौन सा धर्म को स्वीकार करूं। सनातन धर्म दुनिया का सबसे पहला धर्म है और उसमें इतनी अच्छाइयां हैं, इंसानियत है कि हम समझते हैं कि इतनी किसी और धर्म में नहीं हैं। साथ ही ​वसीम रिजवी ने कहा कि इस्लाम को हम धर्म समझते ही नहीं है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...