HBE Ads
  1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. Madhavi Latha : BJP प्रत्याशी माधवी लता को मिली ‘वाई+’ श्रेणी की सुरक्षा, ओवैसी के खिलाफ हैं चुनावी मैदान में

Madhavi Latha : BJP प्रत्याशी माधवी लता को मिली ‘वाई+’ श्रेणी की सुरक्षा, ओवैसी के खिलाफ हैं चुनावी मैदान में

Madhavi Latha BJP candidate : केंद्र सराकर ने हैदराबाद लोकसभा सीट से भाजपा प्रत्याशी माधवी लता (Madhavi Latha) को सीआरपीएफ की 'वाई+' श्रेणी की सुरक्षा मुहैया कराने का फैसला किया है। असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) के परिवार का 40 साल पुराना सियासी किला भेदने के लिए भाजपा ने फायर ब्रांड माधवी लता को हैदराबाद से चुनावी मैदान में उतारा है। माधवी लता पेशे से कारोबारी होने के साथ समाजसेवी भी हैं और वह लंबे समय से इस मुस्लिम-बहुल पुराने शहर में सक्रिय हैं। 

By Abhimanyu 
Updated Date

Madhavi Latha BJP candidate : केंद्र सराकर ने हैदराबाद लोकसभा सीट से भाजपा प्रत्याशी माधवी लता (Madhavi Latha) को सीआरपीएफ की ‘वाई+’ श्रेणी की सुरक्षा मुहैया कराने का फैसला किया है। असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) के परिवार का 40 साल पुराना सियासी किला भेदने के लिए भाजपा ने फायर ब्रांड माधवी लता को हैदराबाद से चुनावी मैदान में उतारा है। माधवी लता पेशे से कारोबारी होने के साथ समाजसेवी भी हैं और वह लंबे समय से इस मुस्लिम-बहुल पुराने शहर में सक्रिय हैं।

पढ़ें :- Lok Sabha Elections 2024: भाजपा प्रत्याशी माधवी लता मुश्किलों में फंसी, मुस्लिम महिलाओं के चेक किए आईडी कार्ड

हैदराबाद की यह सीट वर्ष 1984 से ही एआईएमआईएम (AIMIM) के पास रही है। पहले सलाहुद्दीन औवेसी और फिर उनके बेटे असदुद्दीन औवेसी यहां से चुनाव जीतते रहे हैं। चार बार के सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने 2019 में बीजेपी के भगवंत राव को 2.5 लाख से अधिक वोटों से हराया था। हालांकि इस बार भाजपा प्रत्याशी नेता माधवी लता (Madhavi Latha) ओवैसी से यह सीट छीनने को लेकर आश्वस्त हैं। सूत्रों के मुताबिक, माधवी लता (Madhavi Latha) को केवल तेलंगाना (Telangana) के लिए सीआरपीएफ की ‘वाई+’ श्रेणी की सुरक्षा प्रदान की गयी है।

पहली बार चुनावी मैदान में उतरीं माधवी ने कहा था कि भाजपा (BJP) ने सनातन की रक्षा का जो जिम्मा सौंपा है, उसे बिना किसी मुश्किल के पूरा करेंगी। हालांकि, वह राजनीति में नई हैं और यह उनका पहला चुनाव है, लेकिन वह हैदराबाद में ओवैसी को कड़ी चुनौती देने वाली हैं।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...