1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि हर मुद्दे पर बड़ी बेबाकी से रखते थे अपनी राय

अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि हर मुद्दे पर बड़ी बेबाकी से रखते थे अपनी राय

देश में संतों की सर्वोच्च संस्था अखाड़ा परिषद (Akhara Parishad, the supreme body of saints) के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि (Mahant Narendra Giri) ने हाल ही में कहा था कि तालिबान (Taliban) का समर्थन करना देशद्रोह है। ऐसा करने वालों के खिलाफ देशद्रोह का मामला दर्ज किया जाना चाहिए। उ

By संतोष सिंह 
Updated Date

प्रयागराज। देश में संतों की सर्वोच्च संस्था अखाड़ा परिषद (Akhara Parishad, the supreme body of saints) के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि (Mahant Narendra Giri) ने हाल ही में कहा था कि तालिबान (Taliban) का समर्थन करना देशद्रोह है। ऐसा करने वालों के खिलाफ देशद्रोह का मामला दर्ज किया जाना चाहिए। उत्तर प्रदेश के संवेदनशील जिलों में आतंकवाद रोधी दस्ता (ATS) के गठन के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Chief Minister Yogi Adityanath) सरकार के कदम का स्वागत करते हुए गिरि ने कहा था कि इससे इन जिलों में देश विरोधी गतिविधियों में लिप्त पाया जाने वालों के खिलाफ उचित और कड़ी कार्रवाई में मदद मिलेगी।

पढ़ें :- CM Yogi का सिर काटने पर दो करोड़ इनाम की घोषणा, पुलिस मुकदमा दर्ज कर जांच में जुटी

संतों की सुविधा के लिए कोरोना की वैक्सीन लगवाने के लिए विशेष प्रबंधन करने का दिया था सुझाव 

महंत नरेंद्र गिरि (Mahant Narendra Giri)  ने बीते रविवार को यूपी के डिप्‍टी सीएम केशव मौर्य (UP Deputy CM Keshav Maurya) से संतों की सुविधा के लिए कोरोना  वैक्सीन (corona vaccine) लगवाने के लिए विशेष प्रबंधन करने का सुझाव दिया था। महंत नरेंद्र गिरि ने कहा था कि इन वृद्ध संतों को कहीं आने-जाने में दिक्कत होती है। ऐसे संतों की सहूलियत के लिए आश्रम व मठ-मंदिरों में कोविड-19 टीकाकरण शिविर (covid-19 vaccination camp) लगाया जाए, जिससे सभी आसानी से वैक्सीन लगवा सकें। इस दौरान श्री मौर्य ने अखाड़ा परिषद के अध्‍यक्ष के सुझाव का समर्थन करते हुए कहा कि अधिकारियों को ऐसा करने के लिए निर्देश दिया जाएगा।

यूपी के धार्मिक स्थलों पर मांस-शराब की बिक्री पर पाबंदी का महंत ने किया था स्वागत

महंत नरेंद्र गिरी ने यूपी में धार्मिक स्थलों व तीर्थ क्षेत्रों में मांस और शराब की बिक्री पर पाबंदी लगाए जाने के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) के फैसले का स्वागत किया था। इसके साथ ही अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेन्द्र गिरी ने धार्मिक स्थलों पर मांस और मदिरा की बिक्री पर रोक लगाये जाने के लिए कड़े कानून भी बनाये जाने की मांग की थी।

पढ़ें :- Shravasti News : राजस्थान के बाद अब यूपी में स्कूल टीचर की हैवानियत, 250 रुपये फीस के लिए छात्र को मार डाला

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...