1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. ममता बनर्जी ने बीजेपी पर साधा निशाना, कहा-भगवा ‘त्याग’ का रंग है, लेकिन आप हैं ‘भोगी’

ममता बनर्जी ने बीजेपी पर साधा निशाना, कहा-भगवा ‘त्याग’ का रंग है, लेकिन आप हैं ‘भोगी’

पश्चिम बंगाल (West Bengal) की मुख्यमंत्री और टीएमसी सुप्रीमो ममता बनर्जी (Mamta Banerjee) ने गुरुवार को कहा कि मोदी सरकार उनकी पार्टी की सांसद महुआ मोइत्रा को निष्कासित करने की योजना बना रही है। सांसद मोइत्रा के खिलाफ लगाए गए कैश-फॉर-क्वेरी (Cash-For-Query) आरोपों के बाद लंबी समय तक चुप रहने के बाद ममता बनर्जी (Mamta Banerjee) की यह पहली टिप्पणी की है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

कोलकाता। पश्चिम बंगाल (West Bengal) की मुख्यमंत्री और टीएमसी सुप्रीमो ममता बनर्जी (Mamta Banerjee) ने गुरुवार को कहा कि मोदी सरकार उनकी पार्टी की सांसद महुआ मोइत्रा को निष्कासित करने की योजना बना रही है। सांसद मोइत्रा के खिलाफ लगाए गए कैश-फॉर-क्वेरी (Cash-For-Query) आरोपों के बाद लंबी समय तक चुप रहने के बाद ममता बनर्जी (Mamta Banerjee) की यह पहली टिप्पणी की है। पश्चिम बंगाल (West Bengal)  की मुख्यमंत्री ने कहा कि हालांकि, मोइत्रा के प्रस्तावित निष्कासन से उन्हें 2024 के लोकसभा चुनाव में मदद मिलेगी। उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं से कहा कि वर्तमान में विपक्षी नेताओं को निशाना बना रही केंद्रीय एजेंसियां ​​2024 के चुनावों के बाद भाजपा के पीछे लग जाएंगी।

पढ़ें :- Chandigarh New Mayor : सफाई कर्मचारी कुलदीप कुमार टीटा का मेयर की कुर्सी तक पहुंचने का ऐसा रहा सफर

ममता बनर्जी (Mamta Banerjee)  कोलकाता के नेताजी इंडोर स्टेडियम में पार्टी नेताओं की बैठक को संबोधित करने के दौरान यह बयान दिया। बैठक में टीएमसी सांसदों, विधायकों और ब्लॉक और ग्राम स्तर तक के सैकड़ों नेताओं ने भाग लिया। टीएमसी के राष्ट्रीय महासचिव ने बैठक को वर्चुअली सभा को संबोधित किया।

ममता बनर्जी (Mamta Banerjee) ने कहा कि केंद्र में यह सरकार तीन महीने और रहेगी। पश्चिम बंगाल (West Bengal)  की मुख्यमंत्री ने कई हफ्तों तक मोइत्रा पर लगे आरोपों पर चुप्पी साध रखी थी। उनकी यह टिप्पणी लोकसभा की एथिक्‍स पैनल द्वारा इस महीने की शुरुआत में कैश-फॉर-क्वेरी (Cash-For-Query)  विवाद की जांच के कारण मोइत्रा को लोकसभा से अयोग्य ठहराने की सिफारिश के बाद आई है। इससे पहले महुआ मोइत्रा ने एथिक्‍स पैनल पर गंदे सवाल पूछने का आरोप लगाते हुए हंगामा मचा दिया था। उन्‍होंने आरोपों को झूठा, आधारहीन और बिना सबूत वाला बताया था।

संसद में सवाल पूछने के लिए रिश्‍वत लेने का आरोप

दरअसल यह मामला उस समय सुर्खियों में आ गया था जब सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) के वकील जय अनंत देहाद्राई के एक पत्र का हवाला देते हुए बीजेपी सांसद निशिकांत दुबे (BJP MP Nishikant Dubey) ने टीएमसी सांसद पर गंभीर आरोप लगाए थे और जांच की मांग की थी। उन्‍होंने दावा किया था कि टीएमसी सांसद (TMC MP) ने संसद में सवाल पूछने के लिए व्यवसायी दर्शन हीरानंदानी से रिश्वत ली थी।

पढ़ें :- Kisan Andolan : किसान आंदोलन के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट जाने की तैयारी में हरियाणा सरकार, केंद्र फ‍िर बातचीत को तैयार

भाजपा चार मंत्रियों को सलाखों के पीछे डालती है तो…

इस बीच, ममता बनर्जी (Mamta Banerjee) ने एक और कटाक्ष करते हुए कहा कि अगर भाजपा उनके चार मंत्रियों को सलाखों के पीछे डालती है, तो वह ‘उनके आठ (BJP) ’ को जेल में डाल देंगी। ममता बनर्जी ने बीजेपी को खुली चेतावनी देते हुए कहा हमारे चार विधायकों को जेल भेज दिया, यह सोचकर कि वे इस तरह से हमारी संख्या कम कर देंगे। अगर वे मेरे चार लोगों को भ्रष्टाचार के मामलों में जेल भेजेंगे और उन्हें बदनाम करेंगे, तो मैं उनके आठ नेताओं को हत्या और अन्य मामलों में जेल भेजूंगी।

हालाँकि, उन्होंने यह टिप्पणी करते समय किसी का नाम नहीं लिया। मुख्यमंत्री ने यह भी दावा किया कि अगर फाइनल मैच मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम या कोलकाता के ईडन गार्डन में खेला जाता तो भारत आईसीसी विश्व कप 2023 (ICC World Cup 2023) जीत जाता। उन्होंने आरोप लगाया कि मेट्रो रेलवे स्टेशनों से लेकर क्रिकेट टीम तक देश का ‘भगवाकरण’ करने की कोशिशें जोरों पर चल रही हैं।

दिसंबर से पीएम नरेंद्र मोदी से मिलने का समय मांगेंगी ममता

ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि भगवा ‘त्यागियों’ का रंग है, लेकिन आप ‘भोगी’ हैं। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि वह दिसंबर में शीतकालीन सत्र के दौरान संसद जाएंगी और प्रधानमंत्री से मिलने का समय मांगेंगी। नरेंद्र मोदी के पास विभिन्न मुद्दों पर बोलने का समय है। उन्होंने कहा कि अगर उन्हें और तृणमूल कांग्रेस के अन्य नेताओं को समय नहीं दिया गया तो वे सड़कों पर उतरेंगे।

पढ़ें :- लोकतंत्र की हत्या की भाजपाई साजिश में मसीह सिर्फ ‘मोहरा’ है : राहुल गांधी

केंद्र ने सभी को बंदूक की नोक पर रखा है: ममता बनर्जी

अपने बयान में ममता बनर्जी ने कहा कि केंद्र ने सभी को बंदूक की नोक पर रखा है। उन्होंने कहा कि आज आप हंस रहे हैं क्योंकि हमारी पार्टी के नेता अनुब्रत मंडल, पार्थ चटर्जी, माणिक भट्टाचार्य, ज्योति प्रिया मल्लिक और कुछ अन्य नेता जेल में हैं। यह परंपरा जारी रहेगी, भविष्य में जब आप कुर्सी पर नहीं रहेंगे तो कहां होंगे? एक कोठरी में?” उल्लेखनीय है कि विभिन्न कथित घोटालों में प्रवर्तन निदेशालय और केन्द्रीय जांच ब्यूरो द्वारा गिरफ्तार किए जाने के बाद कम से कम पांच हाई-प्रोफाइल टीएमसी नेता अब न्यायिक हिरासत में हैं। इनमें से चार विधायक भी शामिल हैं, जिनमें से दो राज्य के मंत्री रह चुके हैं।

ममता ने दिखाए तीखे तेवर

तीखे तेवर दिखाते हुए पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ने कहा कि आप (भाजपा) सोचते हैं कि आप कुछ भी करेंगे क्योंकि आप केंद्र में सत्ता में हैं। आप टीएमसी, अरविंद केजरीवाल, अशोक गहलोत के बेटे और अन्य नेताओं के खिलाफ ईडी और सीबीआई का इस्तेमाल कर रहे हैं। आने वाले दिनों में वही अधिकारी आपके पीछे पड़ जाएंगे और कोई भी आपको सुरक्षा नहीं देगा।

ममता ने आगे कहा कि आप विदेश गए और कई विमान खरीदे। एक दिन तो सवाल उठेंगे ही। एक दिन आपने बोफोर्स को लेकर राजीव गांधी पर सवाल उठाए थे। मैंने वह चुनाव लड़ा था। बोफोर्स को लेकर मजाक उड़ाया गया था, चोर के नारे लगे। अब आपका सौदा क्या था? धन कहां चला गया?

बीजेपी का पलटवार

पढ़ें :- Chandigarh Mayor Election : AAP उम्मीदवार कुलदीप कुमार विजयी घोषित, सुप्रीम कोर्ट ने रिटर्निंग ऑफिसर को धांधली का दोषी माना

ममता बनर्जी के बयान पर बीजेपी ने पलटवार करते हुए कहा कि टीएमसी सुप्रीमो ने विपक्ष को धमकाना शुरू कर दिया है। भाजपा नेता राहुल सिन्हा ने मीडिया से कहा कि वह जानती हैं कि वह अपनी जमीन खो रही हैं। आने वाले दिनों में उनकी पार्टी के और भी नेता भ्रष्टाचार के आरोप में जेल जाएंगे। गिरफ्तारियों से न तो भाजपा और न ही केंद्र का कोई लेना-देना है। ये सभी अदालत द्वारा आदेशित जांच हैं। उनकी पुलिस ने भी भाजपा नेताओं के खिलाफ मामले खंगालने की कोशिश की, लेकिन असफल रही।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...