1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. नासिक : ऑक्सीजन टैंकर लीक होने से 22 की मौत, पीएम मोदी ने जताया शोक तो उद्धव ने बैठाई जांच

नासिक : ऑक्सीजन टैंकर लीक होने से 22 की मौत, पीएम मोदी ने जताया शोक तो उद्धव ने बैठाई जांच

देश में कोरोना वायरस महामारी की वजह से उपजे ऑक्सीजन संकट के बीच बुरी तरह प्रभावित राज्य महाराष्ट्र से एक बेहद दर्दनाक खबर मिली है। महाराष्ट्र के नासिक में डॉ. जाकिर हुसैन अस्पताल के बाहर ऑक्सीजन टैंकर लीक होने से 22 लोगों ने दम तोड़ दिया है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नासिक । देश में कोरोना वायरस महामारी की वजह से उपजे ऑक्सीजन संकट के बीच बुरी तरह प्रभावित राज्य महाराष्ट्र से एक बेहद दर्दनाक खबर मिली है। महाराष्ट्र के नासिक में डॉ. जाकिर हुसैन अस्पताल के बाहर ऑक्सीजन टैंकर लीक होने से 22 लोगों ने दम तोड़ दिया है।

पढ़ें :- कभी यूपी में वसूली और फिरौती  मांगने वाले मांग रहे हैं  माफी : डा दिनेश शर्मा
Jai Ho India App Panchang

लीकेज के कारण अस्पताल में 30 मिनट तक ऑक्सीजन सप्लाई बाधित रही। इसके कारण वेंटिलेटर पर रखे गए 22 मरीजों की मौत हो गई। खबरों के मुताबिक, अभी कई लोगों की हालत गंभीर बनी हुई है। महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा कि संभवतः ऑक्सीजन सप्लाई में आई रुकावट की वजह से इन मरीजों की मौत हुई है। जिला कलेक्टर के मुताबिक, इस हादसे में मरने वालों की संख्या अब 22 हो गई है।

पीएम नरेंद्र मोदी ने दुख जताते हुए कहा कि नासिक हादसा दिल दहलाने वाला है। उन्होंने हादसे में लोगों की मौतों पर दुख जताते हुए पीड़ित परिवारों के प्रति संवेदना जाहिर की है। इस बीच महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री ने घटना की जांच का आदेश देते हुए मुआवजे का ऐलान किया है।

पीएम मोदी ने ट्वीट किया कि ऑक्सीजन टैंक लीकेज की वजह से नासिक के अस्पताल में हुआ हादसा दिल दहलाने वाला है। इसकी वजह से लोगों की मौत से दुखी हूं। दुख की इस घड़ी में पीड़ित परिवारों के साथ संवेदनाएं। महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने भी हादसे पर दुख जताते हुए कहा कि नासिक के जाकिर हुसैन अस्पताल में ऑक्सीजन टैंकर लीक होने से कोविड मरीजों की मौत से बहुत दुखी हूं। मृतकों के परिवारों के प्रति मेरी संवेदनाएं हैं और प्रभावितों के जल्द ठीक होने की कामना करता हूं।

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने घटना की उच्च स्तरीय जांच के आदेश देते हुए मृतकों के परिवारों के लिए 5-5 लाख रुपए मुआवजे का ऐलान किया है। इससे पहले महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि किसी और अस्पताल में इस तरह का हादसा ना हो, यह सुनिश्चित किया जाए। घटना की विस्तृत जांच कराई जाए।

जिलाधिकारी सूरज मंधारे ने कहा कि जाकिर हुसैन निगम अस्पताल में ऑक्सीजन की आपूर्ति बाधित होने से 22 लोगों की मृत्यु हो गई। ये रोगी वेंटिलेटर और ऑक्सीजन पर थे। ऑक्सीजन आपूर्ति टैंक में लीकेज के बाद आपूर्ति बाधित हो गई। मंधारे ने कहा कि नगर निगम ने तत्काल दूसरी जगहों से ऑक्सीजन सिलेंडर लाकर लगाए हैं जहां ऑक्सीजन की जरूरत अपेक्षाकृत कम थी।

पढ़ें :- PM Modi ने पंजाब के सीएम चरणजीत सिंह चन्नी को दी बधाई, कही- ये बड़ी बात
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...