1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. Neemuch Violence : हनुमानजी की मूर्ति लगाने पर बवाल, उपद्रवियों ने पत्थर फेंके, धारा 144 लागू

Neemuch Violence : हनुमानजी की मूर्ति लगाने पर बवाल, उपद्रवियों ने पत्थर फेंके, धारा 144 लागू

Neemuch Violence : खरगोन और सेंधवा के बाद अन्य शहरों में सांप्रदायिक झड़पों की घटनाएं सामने आ रही हैं। मध्य प्रदेश के नीमच में दरगाह के पास हनुमानजी की प्रतिमा स्थापित करने की बात पर दो समुदायों में विवाद हो गया। मामला जिले के पुरानी कचहरी क्षेत्र का बताया जा रहा है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

Neemuch Violence : खरगोन और सेंधवा के बाद अन्य शहरों में सांप्रदायिक झड़पों की घटनाएं सामने आ रही हैं। मध्य प्रदेश के नीमच में दरगाह के पास हनुमानजी की प्रतिमा स्थापित करने की बात पर दो समुदायों में विवाद हो गया। मामला जिले के पुरानी कचहरी क्षेत्र का बताया जा रहा है।

पढ़ें :- Stock Market Crash : निवेशकों के डूबे 12 लाख करोड़ रुपये, बजट से पहले शेयर बाजार धराशायी

बता दें कि विवाद के दौरान उपद्रवियों ने पथराव कर एक बाइक में आग लगा दी और महौल बिगाड़ने की कोशिश। इस घटना के बाद इलाके में तनाव की स्थिति बनी हुई है। स्थिति को नियंत्रित करने के लिए पुलिस ने दुकानें बंद कराई और आंसू गैस के गोले छोड़कर हालात पर काबू पाने की कोशिश की, पुलिस को लाठियां भी भाजनी पड़ी। फिलहाल स्थिति नियंत्रण में है। जिला प्रशासन ने नीमच सिटी इलाके (Neemuch City Localities) में धारा 144 लगा दी है। पथराव में नीमच टीआई (Neemuch TI) के घायल होने की खबर है। घटनास्थल पर भारी पुलिस बल तैनात है।

बताया जा रहा है कि जिले के पुरानी कचहरी इलाके में करीब पांच हजार फीट की सरकारी जमीन पर एक दरगाह है। सोमवार शाम करीब 5 बजे दरगाह के पास ही कुछ लोगों ने हनुमानजी की मूर्ति स्थापित करने की कोशिश की। इस दौरान दरगाह में मौजूद लोगों ने आपत्ति दर्ज की। इस बात को लेकर दोनों समुदायों के लोगों के बीच बहसबाजी शुरू हो गई। रात करीब 8 बजे के बाद विवाद बढ़ गया। बड़ी संख्या में दोनों समुदाय के लोग इकट्ठा हो गए। कुछ समय बाद उपद्रवियों ने पत्थरबाजी शुरू कर दी और एक बाइक को आग के हवाले कर दिया।

विवाद की जानकारी मिलने के बाद पुलिस ने दोनों पक्षों को समझाने के लिए कंट्रोल रूम बुलाया था। इस बीच कुछ लोगों ने मौके पर पत्थरबाजी शुरू माहौल खराब करने की कोशिश की। जानकारी मिलते ही पुलिस बल भी मौके पर पहुंचा।

एसपी सूरज वर्मा (SP Suraj Verma) ने बताया कि सूचना पर दल-बल के साथ पुलिस पहुंची, स्थिति नियंत्रित करने के लिए आंसू गैस के गोले छोड़े। भीड़ को तितर-बितर करने के लिए लाठियां भी भाजी गईं। पुलिस ने दुकानें बंद करा दीं। सभी दुकानदारों को घर भेज दिया। यहां अघोषित कर्फ्यू (Undeclared Curfew) जैसे हालात बने हैं। फिलहाल स्थिति नियंत्रण में है। ऐहतियात के तौर पर क्षेत्र में 5 थानों का पुलिस बल तैनात किया गया है। साथ ही, रिजर्व पुलिस फोर्स (Reserve Police Force)भी लगाया गया है। वज्र वाहन भी तैनात किया गया है।

पढ़ें :- मुलायम को पद्म विभूषण देने पर भड़कीं पूर्णिमा कोठारी, बोली-तो क्या मोदी सरकार कारसेवकों को घोषित करेगी आतंकी ?

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...