1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. Old Pension Scheme : महाराष्ट्र के सीएम शिंदे ने पुरानी पेंशन स्कीम बहाली के दिए बड़े संकेत, भाजपा शासित राज्यों पर बढ़ा दबाव

Old Pension Scheme : महाराष्ट्र के सीएम शिंदे ने पुरानी पेंशन स्कीम बहाली के दिए बड़े संकेत, भाजपा शासित राज्यों पर बढ़ा दबाव

कांग्रेस पार्टी (Congress Party) पुरानी पेंशन योजना (Old Pension Scheme) का दांव चलकर हिमाचल की सत्ता से भारतीय जनता पार्टी (BJP) को सत्ता से बेदखल कर दिया। अब विपक्ष शासित राज्यों में पुरानी पेंशन योजना (Old Pension Scheme)  की बहाली का दबाव भी भाजपा (BJP)  शासित राज्यों पर बढ़ता जा रहा है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

मुंबई। कांग्रेस पार्टी (Congress Party) पुरानी पेंशन योजना (Old Pension Scheme) का दांव चलकर हिमाचल की सत्ता से भारतीय जनता पार्टी (BJP) को सत्ता से बेदखल कर दिया। अब विपक्ष शासित राज्यों में पुरानी पेंशन योजना (Old Pension Scheme)  की बहाली का दबाव भी भाजपा (BJP)  शासित राज्यों पर बढ़ता जा रहा है। इसी बीच बड़े संकेत मिले हैं कि भाजपा (BJP)  के समर्थन वाली महाराष्ट्र सरकार (Maharashtra Government) भी पुरानी पेंशन योजना (Old Pension Scheme)  लागू करने की दिशा में सकारात्मक संदेश दिए हैं। सीएम शिंदे ने कहा कि शिक्षकों और सरकारी कर्मचारियों के लिए पुरानी पेंशन योजना (Old Pension Scheme)  की बहाली पर विचार किया जा रहा है।

पढ़ें :- BBC Documentary Controversy: दिल्ली से लेकर मुंबई तक बीबीसी डॉक्यूमेंट्री पर हंगामा

 

आगामी चुनाव को लेकर एक रैली को संबोधित करते हुए सीएम एकनाथ शिंदे (Chief Minister Eknath Shinde)  ने कहा कि राज्य का शिक्षा विभाग पुरानी पेंशन योजना (Old Pension Scheme)  पर अध्ययन कर रहा है। उन्होंने कहा कि सरकार शिक्षकों सरकारी कर्मचारियों और गैर-सहायता प्राप्त स्कूलों के लिए पुरानी पेंशन योजना (Old Pension Scheme)  के अलावा अंग्रेजी माध्यम के स्कूलों में 25 प्रतिशत आरक्षण के लिए सकारात्मक है।

विपक्ष को अपने कार्यों से देंगे जवाब

मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे (Chief Minister Eknath Shinde) ने दावोस शिखर सम्मेलन (Davos Summit)के दौरान निवेश प्रस्तावों पर हस्ताक्षर के संबंध में कहा कि सरकार विपक्ष द्वारा लगाए गए आरोपों का अपने काम से जवाब देगी। उन्होंने बताया, कुछ विदेशी कंपनियां प्रत्यक्ष निवेश करने के बजाय संयुक्त उद्यमों में जाना पसंद करती हैं।

पढ़ें :- Hindenburg Research Report से शेयर बाजार में मचा तहलका, अडानी ग्रुप में जानें कितना लगा है सरकारी पैसा, सकते में LIC और बड़े बैंक

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...