1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. प्रशांत किशोर ने पीएम मोदी पर कसा तंज, कहा- सिर्फ वादे, मदद नहीं…

प्रशांत किशोर ने पीएम मोदी पर कसा तंज, कहा- सिर्फ वादे, मदद नहीं…

चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने कहा कि मोदी सरकार की नीतियों के खिलाफ खुलकर बोलने से गुरेज नहीं करते हैं, रविवार को उन्होंने एक बार फिर अपने तेवरों को जारी रखते हुए मोदी सरकार के खिलाफ शाब्दिक बाण छोड़ा है। ट्विटर के माध्यम से उन्होंने अनाथ बच्चों के लिए सरकार द्वारा चलाई जा रही योजना पर निशाना साधा है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

पटना। चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने कहा कि मोदी सरकार की नीतियों के खिलाफ खुलकर बोलने से गुरेज नहीं करते हैं, रविवार को उन्होंने एक बार फिर अपने तेवरों को जारी रखते हुए मोदी सरकार के खिलाफ हमला बोला है। ट्विटर के माध्यम से उन्होंने अनाथ बच्चों के लिए सरकार द्वारा चलाई जा रही योजना पर निशाना साधा है।

पढ़ें :- Forbes Billionaires Index : गौतम अडानी एक हफ्ते में नंबर दो से 16वें पर पहुंचे, हिंडनबर्ग रिपोर्ट की सुनामी जारी

सहानुभूति की नई परिभाषा गढ़ रही है मोदी सरकार

प्रशांत किशोर ने कहा कि सरकार सिर्फ वादे करती है, लेकिन मदद के मौके पर विफल हो जाती है। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार की ओर से एक और मास्टरस्ट्रोक, इस बार कोविड और उसके खराब प्रबंधन के चलते तबाह हुए बच्चों के लिए सहानुभूति और देखभाल को फिर से परिभाषित किया जा रहा है। ऐसे समय में जब बच्चों को ज्यादा सहायता की जरूरत है, उन्हें 18 की साल की उम्र में स्टाइपैंड देने का वादा किया गया, क्या उन्हें इस बारे में सकारात्मक महसूस करना चाहिए।

वह यहीं नहीं रुके उन्होंने आगे लिखा कि मुफ्त शिक्षा के लिए पीएम केयर के लिए आभारी रहें, जिसको संविधान में गारंटीकृत अधिकार के रुप में कहा गया है। पीएमओ को धन्यवाद कहिए जो हमें आयुष्मान भारत की योजना में नामांकित तो करता है ताकी 50 करोड़ भारतीयों को स्वास्थ्य संबंधी जरुरतों को पूरा किया जा सके लेकिन जरूरत पड़ने पर ऑक्सीजन और बेड ही देने में विफल रहता है।

बताते चलें कि मोदी सरकार ने कोविड-19 के कारण अनाथ हुए बच्चों के लिए कुछ योजनाओं का ऐलान किया। जिनके अनुसार ऐसे बच्चों को 18 वर्ष की आयु पूरी करने पर मासिक वित्तीय सहायता और 23 वर्ष की आयु पूरी करने पर पीएम केयर्स फंड से 10 लाख रुपये की राशि मिलेगी। इन योजनाओं की घोषणा करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि बच्चे देश के भविष्य हैं और उनकी सहायता करने और उनका संरक्षण करने के लिए सरकार हरसंभव सहयोग करेगी, ताकि वे मजबूत नागरिक बन सकें और उनका भविष्य उज्ज्वल हो।

हमें सरकार का अंध प्रचारक बनने की जरूरत नहीं

पढ़ें :- डूब रहा है जनता का पैसा और आंख पर पट्टी बांधे है मोदी सरकार : कांग्रेस

पहले भी हाल ही में प्रशांत किशोर ने ट्वीट कर मोदी सरकार पर हमला बोला था। उन्होंने देश की दयनीय स्थिति के लिए मोदी सरकार को जिम्मेदार ठहराया था। ट्वीट पर लोगों से मोदी सरकार के अंध भक्त ना बनने की अपील की है। उन्होंने लिखा था कि ‘हमारे चारों ओर एक शोकग्रस्त राष्ट्र और त्रासदी मची हुई है, ऐसे में गलत प्रचार को आगे बढ़ाने का निरंतर प्रयास घृणित है, सकारात्मक होने के लिए हमें सरकार के अंधे प्रचारक बनने की जरूरत नहीं है’।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...