HBE Ads
  1. हिन्दी समाचार
  2. दुनिया
  3. प्रधानमंत्री मोदी के शपथ ग्रहण समारोह की तैयारी शुरू; दो पड़ोसी देशों को भेजा गया न्योता

प्रधानमंत्री मोदी के शपथ ग्रहण समारोह की तैयारी शुरू; दो पड़ोसी देशों को भेजा गया न्योता

Modi Government 3.0 Swearing-in Ceremony: लोकसभा चुनाव में पूर्ण बहुमत हासिल करने के बाद बुधवार को एनडीए के घटक दलों की बैठक हुई। इस बैठक में एनडीए ने सर्वसम्मति से नरेंद्र मोदी को अपना नेता चुन लिया है। जिसके बाद लगातार तीसरी बार एनडीए की सरकार बनने जा रही है और मोदी तीसरी बार प्रधानमंत्री की कुर्सी संभालने वाले हैं। वहीं, प्रधानमंत्री मोदी के शपथ ग्रहण समारोह की तैयारियां शुरू हो गयी हैं।

By Abhimanyu 
Updated Date

Modi Government 3.0 Swearing-in Ceremony: लोकसभा चुनाव में पूर्ण बहुमत हासिल करने के बाद बुधवार को एनडीए के घटक दलों की बैठक हुई। इस बैठक में एनडीए ने सर्वसम्मति से नरेंद्र मोदी को अपना नेता चुन लिया है। जिसके बाद लगातार तीसरी बार एनडीए की सरकार बनने जा रही है और मोदी तीसरी बार प्रधानमंत्री की कुर्सी संभालने वाले हैं। वहीं, प्रधानमंत्री मोदी के शपथ ग्रहण समारोह की तैयारियां शुरू हो गयी हैं।

पढ़ें :- मजदूर, सफाई कर्मी और ट्रांसजेंडर समुदाय...नरेंद्र मोदी के शपथ ग्रहण में इन्हें मिला विशेष आमंत्रण

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, वाराणसी लोकसभा सीट से सांसद नरेंद्र मोदी शनिवार यानी 8 जून को रात 8 बजे प्रधानमंत्री पद की शपथ ले सकते हैं। सूत्रों का कहना है कि शपथ ग्रहण कार्यक्रम के लिए पड़ोसी देशों को न्योता भेजा गया है। इस कार्यक्रम में बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना और श्रीलंका के राष्ट्रपति रानिल विक्रमसिंघे शिरकत करेंगे। इसके अलावा शपथ ग्रहण समारोह में भूटान, नेपाल और मॉरीशस के नेताओं को भी न्योता भेजे जाने की उम्मीद है।

प्रधानमंत्री मोदी ने रानिल विक्रमसिंघे को फोन किया और उन्हें शपथ ग्रहण समारोह में आमंत्रित किया है और श्रीलंकाई राष्ट्रपति ने इस आमंत्रण को स्वीकार कर लिया है। विक्रमसिंघे के कार्यालय ने इसकी पुष्टि की है। इसके अलावा मोदी ने बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना से भी फोन पर बात की।

बता दें कि इस बार भाजपा अपने दम पर बहुमत का आंकड़ा नहीं छु पायी है। उसे 240 सीटों पर ही जीत मिल पायी है, जबकि एनडीए के घटक दल टीडीपी को 16 सीटें, जेडीयू को 12 सीटें और चिराग पासवान की पार्टी को भी पांच सीटें मिली हैं। ऐसे में उसे सरकार बनाने के लिए एनडीए के सहयोगी दलों का सहारा लेना पड़ रहा है। माना जा रहा है कि इस बार मोदी 3.0 कैबिनेट में एनडीए के सहयोगियों के अधिक हिस्सेदारी दिखने की संभावना है।

पढ़ें :- भाजपा की मजबूरी का नीतीश और चंद्रबाबू नायडू उठा रहे फायदा! इन बड़े मंत्रालयों की कर दी मांग
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...