1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. Rajya Sabha Election : सपा में उम्मीदवारों पर मंथन तेज, कपिल सिब्बल समेत ये तीन नाम हैं सबसे आगे

Rajya Sabha Election : सपा में उम्मीदवारों पर मंथन तेज, कपिल सिब्बल समेत ये तीन नाम हैं सबसे आगे

Rajya Sabha Election :  राज्यसभा चुनाव के लिए समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) में उम्मीदवारों के नाम पर मंथन जारी है। मौजूदा संख्या बल के हिसाब से समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party)  तीन सदस्यों को राज्यसभा भेज सकती है। ऐसे में पार्टी कारोबारी, पूर्व नौकरशाह और पार्टी के पुराने वफादारों के साथ दूसरे राज्यों के कुछ चेहरों पर भी मंथन कर रही है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

Rajya Sabha Election :  राज्यसभा चुनाव के लिए समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) में उम्मीदवारों के नाम पर मंथन जारी है। मौजूदा संख्या बल के हिसाब से समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party)  तीन सदस्यों को राज्यसभा भेज सकती है। ऐसे में पार्टी कारोबारी, पूर्व नौकरशाह और पार्टी के पुराने वफादारों के साथ दूसरे राज्यों के कुछ चेहरों पर भी मंथन कर रही है। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक जो तीन नाम सबसे आगे चल रहे हैं, उनमें सलीम शेरवानी, आलोक रंजन (Alok Ranjan) और कपिल सिब्बल (Kapil Sibal)  का नाम सबसे आगे बताया जा रहा है। आलोक रंजन उत्तर प्रदेश के पूर्व चीफ सेक्रेटरी रहे हैं और अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) के काफी करीबी माने जाते हैं और कपिल सिब्बल (Kapil Sibal) कांग्रेस के बड़े नेता हैं।

पढ़ें :- नौतनवा:ब्लाक प्रमुख ने आरसीसी सड़क के लिए किया भूमि पूजन

बता दें कि राज्यसभा की 11 सीट के लिए 24 मई से नामांकन की प्रक्रिया शुरू हो रही है। मौजूदा समय में सपा के पांच सांसद राज्यसभा में हैं। इनमें कुंवर रेवती रमन सिंह, विशंभर प्रसाद निषाद, और सुखराम सिंह यादव का कार्यकाल 4 जुलाई को समाप्त हो रहा है। चौधरी सुखराम अब बीजेपी खेमे हैं तो विशंभर प्रसाद निषाद विधानसभा चुनाव हार चुके हैं। कुंवर रेवती रमन सिंह के बेटे उज्जवल सिंह 2022 का चुनाव हार चुके हैं। ऐसे में पार्टी नए चेहरे को मौका देने पर ज्यादा जोर दे रही है।

सूत्रों का कहना है कि पार्टी ऐसे चेहरे पर मंथन कर रही है जो जातीय समीकरणों के साथ ही आर्थिक रूप से भी उपयोगी साबित हो। ऐसे में लखनऊ के दो कारोबारियों का नाम भी चर्चा में है। इसी तरह पूर्व नौकरशाह अलोक रंजन (Alok Ranjan)  और फ़तेह बहादुर का नाम भी चर्चा में है। आजम खान की नाराजगी के अटकलों के बीच उनके परिवार या किसी करीबी मुस्लिम नेता को भी राज्यसभा भेजकर पार्टी सकारात्मक सन्देश दे सकती है। इसके अलावा दूसरे राज्यों के नेता भी राज्यसभा पहुंचने के लिए जोर लगा रहे हैं। इनमें कांग्रेस के कपिल सिब्बल, महाराष्ट्र सपा प्रदेश अध्यक्ष अबु आजमी (Maharashtra SP State President Abu Azmi) का नाम भी चर्चा में है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...