HBE Ads
  1. हिन्दी समाचार
  2. बॉलीवुड
  3. Shilpa Shetty-Raj Kundra : मनी लॉन्ड्रिंग केस में शिल्पा शेट्टी-राज कुंद्रा को बड़ा झटका, 97 करोड़ की संपत्ति जब्त

Shilpa Shetty-Raj Kundra : मनी लॉन्ड्रिंग केस में शिल्पा शेट्टी-राज कुंद्रा को बड़ा झटका, 97 करोड़ की संपत्ति जब्त

Shilpa Shetty-Raj Kundra : बॉलीवुड एक्ट्रेस शिल्पा शेट्टी (Shilpa Shetty) और उनके पति राज कुंद्रा (Raj Kundra) के खिलाफ प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने बड़ा एक्शन लेते हुए उनकी 97.79 करोड़ रुपये कीमत की संपत्ति जब्त की है। मनी लॉन्ड्रिंग केस में प्रवर्तन निदेशालय (ED) की मुम्बई ब्रांच ने पीएमएलए एक्ट के तहत यह कार्रवाई की है। जांच एजेंसी ने महाराष्ट्र में दर्ज अलग-अलग एफआईआर को आधार बनाकर पीएमएलए (PMLA) एक्ट के तहत जांच शुरू की थी। 

By Abhimanyu 
Updated Date

Shilpa Shetty-Raj Kundra : बॉलीवुड एक्ट्रेस शिल्पा शेट्टी (Shilpa Shetty) और उनके पति राज कुंद्रा (Raj Kundra) के खिलाफ प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने बड़ा एक्शन लेते हुए उनकी 97.79 करोड़ रुपये कीमत की संपत्ति जब्त की है। मनी लॉन्ड्रिंग केस में प्रवर्तन निदेशालय (ED) की मुम्बई ब्रांच ने पीएमएलए एक्ट के तहत यह कार्रवाई की है। जांच एजेंसी ने महाराष्ट्र में दर्ज अलग-अलग एफआईआर को आधार बनाकर पीएमएलए (PMLA) एक्ट के तहत जांच शुरू की थी।

पढ़ें :- PMLA के तहत आरोपी को अरेस्ट नहीं कर सकती ED : सुप्रीम कोर्ट

सूत्रों की मानें तो केन्द्रीय जांच एजेंसी की ओर से जब्त की गई संपत्ति में जुहू वाला बंगला और पुणे में मौजूद एक बंगला शामिल है। जुहू वाला बंगला शिल्पा शेट्टी (Shilpa Shetty) के नाम पर है। इसके अलावा राज कुंद्रा (Raj Kundra) के नाम पर कुछ शेयर भी ईडी ने जब्त किए हैं। ईडी ने बिटकॉइन पॉन्जी स्कैम में कुंद्रा के खिलाफ ऐक्शन लिया है। जब्त की गई संपत्तियों में पुणे स्थित बंगला और इक्विटी शेयर भी शामिल हैं। खबर है कि ईडी ने महाराष्ट्र पुलिस और दिल्ली पुलिस की तरफ से वन वेरिएबल टेक प्राइवेट लिमिटेड और आरोपी दिवंगत अमित भारद्वाज, अजय भारद्वाज, विवेक भारद्वाज, सिम्पी भारद्वाज, महेंद्र भारद्वाज समेत अन्य लोगों के खिलाफ दर्ज एफआईआर के बाद जांच शुरू की थी।

आरोप था कि दिवंगत अमित भारद्वाज, अजय भारद्वाज, विवेक भारद्वाज, सिंपी भारद्वाज, महेंद्र भारद्वाज और अन्य MLM एजेंट्स ने करीब 6600 करोड़ रुपये की बिटकॉइन साल 2017 में फर्जी वादों के आधार पर इन्वेस्टर्स से हासिल किए थे इन्वेस्टर्स को 10 परसेंट रिटर्न्स का भरोसा दिया गया था और उन्हें बिटकॉइन माइनिंग में निजी हितों के लिए इस्तेमाल किया। यह एक तरह की पोंजी स्किम थी।

आरोप है कि ईडी की जांच में खुलासा हुआ है कि कुंद्रा को यूक्रेन में माइनिंग फार्म लगाने के लिए हासिल किए गए बिटकॉइन के प्रमोटर और मास्टरमाइंड अमित भारद्वाज से 285 बिटकॉइन मिले थे। जिनकी कीमत आज की तारीख में 150 करोड़ रुपये से ज्यादा की है। ईडी ने इस मामले में रेड कर तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया था।

पढ़ें :- Dangerous Disease Endometriosis से जूझ रही शमिता शेट्टी, वीडियो शेयर कर बताया दर्द
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...