1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. भाजपा नेता के ​बयान पर भड़की शिवसेना, मुखपत्र सामना में लिखा-इनका अंत निकट है

भाजपा नेता के ​बयान पर भड़की शिवसेना, मुखपत्र सामना में लिखा-इनका अंत निकट है

महाराष्ट्र (Maharashtra) में भाजपा (BJP) और शिवसेना (Shiv Sena) एक बार फिर आमने सामने आ गईं हैं। भाजपा विधायक प्रसाद लाड (BJP MLA Prasad Lad) द्वारा शिवसेना भवन (Shiv Sena Bhawan) को गिराए जाने के बयान के बाद सियासी सरगर्मी बढ़ गयी है। शिवसेना (Shiv Sena) भाजपा विधायक (BJP MLA) के इस बयान पर बेहद ही नाराज है। इसको लेकर शिवसेना (Shiv Sena) ने सामना के जरिए भाजपा (BJP) पर हमला बोला है।

By शिव मौर्या 
Updated Date

मुंबइ। महाराष्ट्र (Maharashtra) में भाजपा (BJP) और शिवसेना (Shiv Sena) एक बार फिर आमने सामने आ गईं हैं। भाजपा विधायक प्रसाद लाड (BJP MLA Prasad Lad) द्वारा शिवसेना भवन (Shiv Sena Bhawan) को गिराए जाने के बयान के बाद सियासी सरगर्मी बढ़ गयी है। शिवसेना (Shiv Sena) भाजपा विधायक (BJP MLA) के इस बयान पर बेहद ही नाराज है। इसको लेकर शिवसेना (Shiv Sena) ने सामना के जरिए भाजपा (BJP) पर हमला बोला है।

पढ़ें :- Gujarat Election 2022: भाजपा को लगा बड़ा झटका, 4 बार के विधायक जय नारायण व्यास कांग्रेस में शामिल

सामना में लिखा गया है कि, शिवसेना भवन (Shiv Sena Bhawan) में बालासाहेब ठाकरे (Balasaheb Thackeray) के साथ साथ छत्रपति शिवाजी महाराज (Chhatrapati Shivaji Maharaj) की प्रतिमा है। उनका भगवा झंडा भवन में फहराया जाता है। यह कुछ लोगों को परेशान करता है, इसलिए वे लोग शिवसेना भवन को तोड़ने की बात करते हैं।

साथ ही लिखा है कि भाजपा (BJP) कभी जमीनी कार्यकर्ताओं की पार्टी थी लेकिन अब इसकी मूल विचारधारा बदल गई है। भाजपा (BJP) में अब बाहरी लोगों या गुंडों के लिए कोई जगह नहीं थी लेकिन अब ये प्रचलन पार्टी में ज्यादा बढ़ गया है। लिहाजा, अब इनका अंत निकट है।

सामना में आगे लिखा गया है कि, शिवसेना भवन भूमिपूत्रों की अस्मिता का प्रतीक है। अगर ​किसी ने भी शिवसेना भवन को बुरी नजर से देखा तो उनकी पार्टी गटर में बह जाएगी। वे फिर दोबारा कभी किसी को नहीं मिल सके। इसके साथ ही शिवसेना ने अपने मुखपत्र में लिखा है कि हमारी पार्टी से कई पार्टियों के राजनीतिक मतभेद हैं और उन्होंने समय-समय पर चुनौती दी।

शिवसेना उन चुनौतियों की छाती पर चढ़कर सामना किया लेकिन कभी किसी पार्टी ने तोड़-फोड़ की बात नहीं की। वहीं, भाजपा नेता ने कहा कि उनके इस बयान को गलत तरीके से दिखाया गया है।

पढ़ें :- UP News: नवगठित कमिश्नरेट में अफसरों की तीन दिन बाद भी तैनाती नहीं, कई बैठकों के बाद भी नहीं हुआ निर्णय

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...