1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. शिवपाल यादव भाजपा में हो सकते हैं शामिल, प्रदेश में बढ़ी सरगर्मियां

शिवपाल यादव भाजपा में हो सकते हैं शामिल, प्रदेश में बढ़ी सरगर्मियां

प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के मुखिया शिवपाल यादव इन दिनों सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव से काफी नाराज नजर आ रहें है। जिसके बाद वह बुधवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से 20 मिनट मुलाकात किए। 

By प्रिया सिंह 
Updated Date

लखनऊ। प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के मुखिया शिवपाल यादव इन दिनों सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव से काफी नाराज नजर आ रहें है। 2022 के विधानसभा चुनाव हारने के बाद सपा के कई मीटिंग में शिवपाल यादव को नही बुलाया गया।  जिसके बाद वह बुधवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से 20 मिनट मुलाकात किए।  राजनीति जानकारों का कहना है कि शिवपाल यादव भाजपा में शामिल हो सकतें है।

पढ़ें :- यदुकुल पुनर्जागरण मिशन के जरिए 'यादव वोट बैंक' में सेंध लगायेंगे शिवपाल, सपा अध्यक्ष को लगेगा झटका

बता दें कि एक दौर था जब शिवपाल यादव को समाजवादी पार्टी का दूसरा हाथ कहा जाता था। लेकिन जब से इस पार्टी की भागदौड़ अखिलेश यादव के हाथ में आया है तब से शिवपाल यादव का वर्चस्व कम हो गया है।

https://fb.watch/c5iGX3T0PE/
वहीं साल 2022 के विधानसभा चुनाव में शिवपाल यादव ने अखिलेश यादव के लिए जमकर चुनाव प्रसार किए लेकिन अखिलेश ने उनको वो सम्मान नही दिया जो पहले उनको मिलता था। जिसके बाद यह कयास लगाया जा रहा है कि शिवपाल यादव भाजपा में शामिल हो सकते हैं। बता दें कि बुधवार को शिवपाल यादव ने सीएम योगी से मुलाकात की और साथ ही स्वतंत्र देव सिहं से भी। जिसके बाद से सूत्रों का कहना है कि अधिक संभावना बीजेपी में शामिल होने की है। भाजपा उन्हें राज्यसभा सदस्य बनाने का प्रस्ताव दे रही है। जसवंतनगर की खाली होने वाली सीट पर शिवपाल के बेटे आदित्य यादव को चुनाव लड़ाया जाएगा। शिवपाल सिंह यादव विधानसभा चुनाव में बेटे के लिए टिकट चाहते थे, लेकिन अखिलेश ने मना कर दिया। वह बेटे के भविष्य को लेकर भी चिंतित हैं। भाजपा के फॉर्म्युले के तहत उनकी यह चिंता दूर हो सकती है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...