1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. भगवान शिव उत्तरकाशी टनल हादसे में मजदूरों की स्वयं कर रहे हैं सुरक्षा? टनल के गेट पर दिखी ये आकृति

भगवान शिव उत्तरकाशी टनल हादसे में मजदूरों की स्वयं कर रहे हैं सुरक्षा? टनल के गेट पर दिखी ये आकृति

उत्तराखंड के उत्तर काशी में सिलक्यारा टनल (Silkyara Tunnel) में बीते 16 दिनों से 41 मजदूर फंसे हुए हैं, उत्तराखंड व केंद्र सरकार की लाख कोशिशों के बाद अभी तक इनको बाहर नहीं निकाला जा सका है। अब माना जा रहा है कि अब इन मजदूरों की सुरक्षा के लिए खुद भोलेनाथ (Lord Shiva) पहुंच गए हैं।

By संतोष सिंह 
Updated Date

उत्तर काशी। उत्तराखंड के उत्तर काशी में सिलक्यारा टनल (Silkyara Tunnel) में बीते 16 दिनों से 41 मजदूर फंसे हुए हैं, उत्तराखंड व केंद्र सरकार की लाख कोशिशों के बाद अभी तक इनको बाहर नहीं निकाला जा सका है। अब माना जा रहा है कि अब इन मजदूरों की सुरक्षा के लिए खुद भोलेनाथ (Lord Shiva) पहुंच गए हैं। सोमवार को इस टनल से एक सुखद तस्वीर सामने आई है। इसमें साफ नजर आ रहा है कि भगवान शिव तांडव की मुद्रा (Lord Shiva Tandava Pose) में हैं और मजदूरों को बचाने के लिए खुद कैलाश से चलकर सिलक्यारा पहुंचे हैं।

पढ़ें :- UttarkashiRescue: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने टनल से निकलने वाले मजदूरों से की बात

इस आकृति को देखने के बाद स्थानीय लोगों के साथ बचाव दल की उम्मीदें बढ़ गई हैं। अब उन्हें लगने लगा है कि बहुत जल्द सफलता मिलने वाली है। भगवान शिव (Lord Shiva)  की इस आकृति की तस्वीरें लगातार सोशल मीडिया में वायरल है। टनल के एंट्रेंस पर बनी इस आकृति में भगवान शिव को प्रकट रूप में देखा जा सकता है। बता दें कि बीते 16 दिनों से सिलक्यारा टनल (Silkyara Tunnel) में 41 मजदूर फंसे हैं।

इन्हें बाहर निकालने के लिए केंद्र और उत्तराखंड सरकार (Uttarakhand Government) हर संभव प्रयास कर रही है। रेस्क्यू के लिए फौज तक उतार दी गई है। बावजूद इसके, अभी तक सफलता हाथ नहीं लगी है। इससे पूरा देश चिंतित है है और जगह जगह इन मजदूरों के लिए दुआएं और प्रार्थना का दौर शुरू हो गया है। रविवार को ही उत्तर काशी के सभी मंदिरों में भगवान शिव (Lord Shiva)  की पूजा हुई थी।

भगवान से इन मजदूरों के लिए प्राणदान की प्रार्थना की गई थी। इसके 24 घंटे के अंदर ही टनल के एंट्रेंस पर भोलेनाथ (Lord Shiva)  की आकृति बन जाने से लोगों में आशा का संचार हुआ है। लोग कह रहे हैं कि अब खुद भोलेनाथ (Lord Shiva)  ही कैलाश से चलकर सिलक्यारा टनल (Silkyara Tunnel) पहुंचे हैं। अब किसी भी वक्त मजदूरों को टनल से बाहर निकालने में सफलता मिल सकती है।

पढ़ें :- UttarkashiRescue: 17 दिन टनल में जिंदगी के लिए लड़ने के बाद हॉस्पिटल में भर्ती 41 मजदूरों का सामने आया पहला वीडियो
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...