1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तराखंड
  3. UttarkashiRescue: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने टनल से निकलने वाले मजदूरों से की बात

UttarkashiRescue: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने टनल से निकलने वाले मजदूरों से की बात

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रेस्क्यू ऑपरेशन को सफल बनाने वाले जवानों की सराहना करते हुए कहा कि उनकी बहादुरी और संकल्प शक्ति ने हमारे श्रमिक भाइयों को नया जीवन दिया है। इस मिशन में शामिल हर किसी ने मानवता और टीम वर्क की एक अद्भूत मिसाल कायम की है।

By प्रिन्सी साहू 
Updated Date

UttarkashiRescue:  उत्तराखंड के उत्तरकाशी में सिलक्यारा टनल में फंसे 41 मजदूरों को मंगलवार की रात सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया है। 17 दिन के संघर्ष के बाद आखिरकार टनल में फंसे मजदूर आखिरकार जिंदगी की जंग जीत गए। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने टनल से बाहर निकले सभी मजदूरों से फोन पर बात की।

पढ़ें :- राहुल गांधी, बोले- MSP की गारंटी से भारत का किसान बजट पर बोझ नहीं बल्कि GDP ग्रोथ का बनेगा सूत्रधार

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रेस्क्यू ऑपरेशन को सफल बनाने वाले जवानों की सराहना करते हुए कहा कि उनकी बहादुरी और संकल्प शक्ति ने हमारे श्रमिक भाइयों को नया जीवन दिया है। इस मिशन में शामिल हर किसी ने मानवता और टीम वर्क की एक अद्भूत मिसाल कायम की है।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आप लोगों के बाहर आने पर मैं कितना खुश हूं ये शब्दों में बयां नहीं कर सकता। आपने इतने दिन बड़ी हिम्मत दिखाई है और एक दूसरे का हौसला बढ़ाया। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि टनल के अंदर पाइप से चीजें भेजी गईं, रोशनी, ऑक्सीजन से लेकर खाने पीने की चीजें।

पीएम से बात करते हुए एक मजदूर ने कहा कि टनल के अंदर वे सभी एक दूसरे के साथ हिम्मत के साथ रहे। उन्होने बताया कि टनल के अंदर ढाई किलोमीटर का एरिया है। सभी मजदूर सुबह टनल के अंदर ही वॉक करते थे। उन्होंने वहां योगा भी किया। मजदूरों ने उत्तराखंड सरकार और मजदूरों को बचाने वाले कर्मियों को धन्यवाद दिया।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मजदूरों के बाहर निकलते ही सोशल मीडिया के प्लेटफार्म एक्स पर बेहद इमोशनल ट्वीट कर सभी के जज्बे को सलाम किया था। अपनी पोस्ट में उन्होंने लिखा कि-

पढ़ें :- कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे, बोले-जय जवान : अन्याय के विरुद्ध न्याय का युद्ध

पढ़ें :- राहुल गांधी का अमित शाह पर बड़ा अटैक, बोले- उनके बेटे को बैट पकड़ना नहीं आता और  वह चला रहा है हिंदुस्तान का क्रिकेट 

उत्तरकाशी में हमारे श्रमिक भाइयों के रेस्क्यू ऑपरेशन की सफलता हर किसी को भावुक कर देने वाली है। टनल में जो साथी फंसे हुए थे, उनसे मैं कहना चाहता हूं कि आपका साहस और धैर्य हर किसी को प्रेरित कर रहा है। मैं आप सभी की कुशलता और उत्तम स्वास्थ्य की कामना करता हूं। यह अत्यंत संतोष की बात है कि लंबे इंतजार के बाद अब हमारे ये साथी अपने प्रियजनों से मिलेंगे। इन सभी के परिजनों ने भी इस चुनौतीपूर्ण समय में जिस संयम और साहस का परिचय दिया है, उसकी जितनी भी सराहना की जाए वो कम है। मैं इस बचाव अभियान से जुड़े सभी लोगों के जज्बे को भी सलाम करता हूं। उनकी बहादुरी और संकल्प-शक्ति ने हमारे श्रमिक भाइयों को नया जीवन दिया है। इस मिशन में शामिल हर किसी ने मानवता और टीम वर्क की एक अद्भुत मिसाल कायम की है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...