1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. Sukhdev Singh Murder Case : आरोपियों पर 5-5 लाख रुपये का इनाम घोषित, जांच के लिए SIT गठित

Sukhdev Singh Murder Case : आरोपियों पर 5-5 लाख रुपये का इनाम घोषित, जांच के लिए SIT गठित

राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना (Rashtriya Rajput Karni Sena) के अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेड़ी हत्याकांड (Sukhdev Singh Gogamedi Murder Case) में बुधवार को बड़ा अपडेट सामने आया है। पुलिस महानिदेशक उमेश मिश्रा (Director General of Police Umesh Mishra) ने सुखदेव सिंह की हत्या के दोनों आरोपियों पर पांच-पांच लाख रुपये का इनाम घोषित कर दिया है। वहीं मामले की जांच के लिए एडीजी क्राइम दिनेश एमएन (ADG Crime Dinesh MN) के सुपरविजन में एसआईटी (SIT) का गठन किया गया है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

जयपुर। राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना (Rashtriya Rajput Karni Sena) के अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेड़ी हत्याकांड (Sukhdev Singh Gogamedi Murder Case) में बुधवार को बड़ा अपडेट सामने आया है। पुलिस महानिदेशक उमेश मिश्रा (Director General of Police Umesh Mishra) ने सुखदेव सिंह की हत्या के दोनों आरोपियों पर पांच-पांच लाख रुपये का इनाम घोषित कर दिया है। वहीं मामले की जांच के लिए एडीजी क्राइम दिनेश एमएन (ADG Crime Dinesh MN) के सुपरविजन में एसआईटी (SIT) का गठन किया गया है। हालांकि हत्या के दोनों आरोपियों की पहचान हो गई है लेकिन उन्हें अभी तक गिरफ्तार नहीं किया जा सका है। वहीं हत्याकांड का विरोध कर रहे लोग आरोपियों की तत्काल गिरफ्तारी या फिर एनकाउंटर की मांग रहे हैं।

पढ़ें :- UP News: कानपुर में सौतेली मां ने पिता के साथ मिलकर नौ साल की मासूम के साथ की ऐसी खौफनाक हरकत जानकर दहल जाएंगे आप

वहीं अभी तक इस मसले को लेकर गतिरोध बना हुआ है। वारदात के 25 घंटे बाद भी अभी तक इस मामले में एफआईआर दर्ज नहीं की जा सकी है। दूसरी तरफ मामले की जांच के लिए एनआईए (NIA)की भी जयपुर पहुंचने की सूचना है। वारदात के बाद राज्य में पैदा हुए हालात की समीक्षा करने के लिए राज्यपाल ने डीजीपी (DGP) और सीएस को तलब कर रखा है।

जयपुर में रैपिड एक्शन फोर्स की तैनातगी

सुखदेव सिंह गोगामेड़ी (Sukhdev Singh Gogamedi) का शव अभी जयपुर के मेट्रो मास अस्पताल (Metro Mass Hospital) की मोर्चरी में रखा हुआ है। वहां करणी सेना के कार्यकर्ता और सर्व समाज के लोगों की भीड़ लगी हुई है। वहां यह भीड़ लगातार बढ़ती जा रही है। इसको देखते हुए पुलिस प्रशासन ने वहां ऐहतियात के तौर पर रैपिड एक्शन फोर्स की एक कंपनी तैनात की है ताकि किसी भी अप्रिय हालात पर काबू पाया जा सके। पुलिस प्रशासन के आलाधिकारी मौके पर नजर बनाए हुए हैं।

आरोपियों के एनकाउंटर की मांग

पढ़ें :- Viral Video गोलियों की तड़तड़हट से गूंज उठी राजधानी लखनऊ, मामूली विवाद में फायरिंग, दो घायल

वारदात के विरोध में पूरे प्रदेश में प्रदर्शन चल रहे हैं। सड़कों पर टायर जलाए जा रहे हैं. उदयपुर में उग्र भीड़ ने कलक्ट्रेट पर पथराव कर दिया। जयपुर से लेकर जैसलमेर तक और भरतपुर से लेकर चित्तौड़गढ़ तक विरोध की आग लगातार बढ़ती जा रही है। हालात पर काबू पाने के लिए पूरे प्रदेश में पुलिस प्रशासन हाई अलर्ट मोड पर है। प्रदर्शनकारी आरोपियों की तत्काल गिरफ्तारी या फिर एनकाउंटर की मांग पर अड़े हुए हैं।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...