1. हिन्दी समाचार
  2. क्रिकेट
  3. टीम इंडिया के खिलाड़ियों के पास फिटनेस के लिए नहीं था जरूरी ज्ञान, जानें किसने कहा ऐसा

टीम इंडिया के खिलाड़ियों के पास फिटनेस के लिए नहीं था जरूरी ज्ञान, जानें किसने कहा ऐसा

भारत की युवा प्रतिभाओं को तराशने का श्रेय द्रविड़ को जाता है। राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी (एनसीए) के निदेशक राहुल द्रविड़ ने कहा कि जब वह भारत की अंडर-19 और ए स्तर की टीमों के कोच थे तो उन्होंने सुनिश्चित किया था कि दौरे पर गए प्रत्येक खिलाड़ी को मैच खेलने का मौका मिले।

By प्रिन्स राज 
Updated Date

नई दिल्ली। भारत की युवा प्रतिभाओं को तराशने का श्रेय द्रविड़ को जाता है। राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी (एनसीए) के निदेशक राहुल द्रविड़ ने कहा कि जब वह भारत की अंडर-19 और ए स्तर की टीमों के कोच थे तो उन्होंने सुनिश्चित किया था कि दौरे पर गए प्रत्येक खिलाड़ी को मैच खेलने का मौका मिले, जबकि उनके जमाने में ऐसा नहीं होता था। वह अब अगले महीने श्रीलंका के दौरे पर जाने वाली भारत की सीमित ओवरों की टीम के कोच होंगे।

पढ़ें :- T20 विश्व कप में पाकिस्तान के इस बल्लेबाज और भारत के गेंदबाज के बीच होगा कांटे का मुकाबला
Jai Ho India App Panchang

इस टीम की अगुआई शिखर धवन करेंगे। द्रविड़ ने कहा कि भारतीय क्रिकेटरों को अब दुनिया में सबसे फिट माना जाता है, लेकिन एक जमाना था, जबकि उन्हें फिटनेस का जरूरी ज्ञान नहीं था तथा वे अधिक चुस्त ऑस्ट्रेलियाई और दक्षिण अफ्रीकी खिलाड़ियों से ईर्ष्या करते थे। अब जबकि द्रविड़ राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी में प्रमुख हैं तब वह अगली पीढ़ी के क्रिकेटरों को तैयार करने में अहम भूमिका निभा रहे हैं।

 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...