1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तराखंड
  3. ब्रह्ममुहूर्त में खोले गए बदरीनाथ धाम के कपाट, सीएम ने की कोरोना महामारी से मुक्ती की प्रार्थना

ब्रह्ममुहूर्त में खोले गए बदरीनाथ धाम के कपाट, सीएम ने की कोरोना महामारी से मुक्ती की प्रार्थना

मंगलवार ब्रह्ममुहूर्त के पुष्य नक्षत्र और वृष लग्न में 4:15 बजे बदरीनाथ के कपाट खोले गए। कोरोना महामारी के चलते केवल हक-हकूकघारियों, धर्माधिकारी और आचार्य ब्राह्मणों को मंदिर के अंदर जाने की अनुमति थी। मंदिर के कपाट खुलते ही जय बदरीनाथ के जयकारे लगे।

By शिव मौर्या 
Updated Date

चमोली। मंगलवार ब्रह्ममुहूर्त के पुष्य नक्षत्र और वृष लग्न में 4:15 बजे बदरीनाथ के कपाट खोले गए। कोरोना महामारी के चलते केवल हक-हकूकघारियों, धर्माधिकारी और आचार्य ब्राह्मणों को मंदिर के अंदर जाने की अनुमति थी। मंदिर के कपाट खुलते ही जय बदरीनाथ के जयकारे लगे।

पढ़ें :- Lok Sabha Election 2024 : यूपी में 5 बजे तक 57.54 प्रतिशत मतदान, बंगाल में 78% वोटिंग, जानें- कहां कितना हुआ मतदान

वहीं, इस दौरान पहली पूजा और महाभिषेक पीएम नरेंद्र मोदी की ओर से किया गया। इस दौरान उनकी ओर से विश्व कल्याण और आरोग्यता की भावना से पूजा-अर्चना एवं महाभिषेक समर्पित किया गया। वहीं, इस अवसर पर सीएम तीरथ सिंह रावत ने देश—विदेश के श्रद्धालुओं को शुभकामनाएं दीं।

इस दौरान उन्होंने कोरोना महामारी से मुक्ती के लिए प्रर्थाना की। बता दें कि, कोरोना महामारी के चलते ही चारधाम की यात्रा स्थगित कर दी गयी है। ऐसे में सभी लोग घर में ही रहकर पूजा करेंगे।

देवस्थानम बोर्ड की ओर से धाम के कपाटोद्घाटन की जोरदार तैयारियां की गई थीं। नारायण फ्लावर ऋषिकेश व बदरी-केदार पुष्प सेवा समिति ऋषिकेश की ओर से बदरीनाथ धाम के सिंहद्वार व अन्य देवालयों को 20 क्विंटल फूलों से सजाया गया है।

 

पढ़ें :- Israel Iran War : Air India ने तेल अवीव जाने वाली सभी उड़ानें रोकी ,  खतरे को देखते हुए लिया फैसला

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...