HBE Ads
  1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. किसानों की आय दोगुनी करने का वादा कर सत्ता में आई भाजपा के राज में 30 किसान रोज़ आत्महत्या करने को मजबूर हैं: राहुल गांधी

किसानों की आय दोगुनी करने का वादा कर सत्ता में आई भाजपा के राज में 30 किसान रोज़ आत्महत्या करने को मजबूर हैं: राहुल गांधी

राहुल गांधी ने एक्स पर किसानों से बातचीत की वीडियो को शेयर करते हुए लिखा कि, किसानों की आय दोगुनी करने का वायदा कर सत्ता में आई भाजपा के राज में आज 30 किसान रोज़ आत्महत्या करने को मजबूर हैं। जब देश के किसानों पर कर्ज़ 2014 के मुक़ाबले 60% अधिक है तब मोदी सरकार ने 10 सालों में उद्योगपतियों का ₹7.5 लाख करोड़ कर्ज़ माफ कर दिया है।

By शिव मौर्या 
Updated Date

नई दिल्ली। कांग्रेस की ‘भारत जोड़ो न्याय यात्रा’ बिहार पहुंच गई है। बिहार के पूर्णिया में राहुल गांधी किसानों से बातचीत करते हुए भी दिखे थे। वहीं, अब किसानों के मुद्दे को लेकर राहुल गांधी ने ​केंद्र की मोदी सरकार को घेरा है। उन्होंने कहा कि, महंगी खाद, महंगे बीज, महंगी सिंचाई, महंगी बिजली के कारण आसमान छूती कृषि लागत के बीच किसान MSP तक के लिए संघर्ष कर रहा है। बिना उचित MSP के किसान को प्रति क्विंटल गेंहू पर ₹200 और धान पर ₹680 का नुकसान हो रहा है।

पढ़ें :- पीएम मोदी की अपील : काशी का एक-एक वोट मेरी शक्ति को बढ़ाएगा, मुझे नई ऊर्जा देगा, पहले मतदान फिर करें जलपान

बुधवार को राहुल गांधी ने एक्स पर किसानों से बातचीत की वीडियो को शेयर करते हुए लिखा कि, किसानों की आय दोगुनी करने का वायदा कर सत्ता में आई भाजपा के राज में आज 30 किसान रोज़ आत्महत्या करने को मजबूर हैं। जब देश के किसानों पर कर्ज़ 2014 के मुक़ाबले 60% अधिक है तब मोदी सरकार ने 10 सालों में उद्योगपतियों का ₹7.5 लाख करोड़ कर्ज़ माफ कर दिया है।

इसके साथ ही लिखा कि, फसल बीमा योजना में किसानों के हिस्से के ₹2700 करोड़ रोकने वाली निजी इंश्योरेंस कम्पनियां खुद ₹40,000 करोड़ मुनाफा कमा कर बैठी हैं। महंगी खाद, महंगे बीज, महंगी सिंचाई, महंगी बिजली के कारण आसमान छूती कृषि लागत के बीच किसान MSP तक के लिए संघर्ष कर रहा है। बिना उचित MSP के किसान को प्रति क्विंटल गेंहू पर ₹200 और धान पर ₹680 का नुकसान हो रहा है।

राहुल गांधी ने आगे लिखा कि, कांग्रेस का लक्ष्य कृषि लागत को घटा कर किसानों को फसल की सही कीमत दिलाना है, क्योंकि किसानों की समृद्धि का रास्ता उनकी आर्थिक आत्मनिर्भरता है और यही उनके साथ वास्तविक न्याय। हमारी सरकार ‘किसानों की सरकार’ होगी, कुछ ‘सरकारी उद्योगपतियों’ की नहीं।

 

पढ़ें :- 15 दिन में 232 बार कांग्रेस का नाम लिया और 758 बार मोदी शब्द का प्रयोग किया...कांग्रेस अध्यक्ष का पीएम पर निशाना

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...