1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. UP Election 2022 : बसपा ने आगरा में दो विधानसभा सीटों पर बदले प्रत्याशी, जानें किसको उतारा?

UP Election 2022 : बसपा ने आगरा में दो विधानसभा सीटों पर बदले प्रत्याशी, जानें किसको उतारा?

UP Election 2022 : बहुजन समाज पार्टी ने बीती बुधवार रात आगरा जिले की दो विधानसभा सीटों पर अपने प्रत्याशी बदल दिया है। एत्मादपुर विधानसभा सीट से सर्वेश बघेल का टिकट काटकर बसपा ने पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष राकेश बघेल को प्रत्याशी बनाया है। जबकि इसी तरह आगरा उत्तर से कांग्रेस छोड़कर आए शब्बीर अब्बास को मुरारी लाल गोयल पेंट की जगह प्रत्याशी बनाया गया है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

UP Election 2022 : बहुजन समाज पार्टी ने बीती बुधवार रात आगरा जिले की दो विधानसभा सीटों पर अपने प्रत्याशी बदल दिया है। एत्मादपुर विधानसभा सीट से सर्वेश बघेल का टिकट काटकर बसपा ने पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष राकेश बघेल को प्रत्याशी बनाया है। जबकि इसी तरह आगरा उत्तर से कांग्रेस छोड़कर आए शब्बीर अब्बास को मुरारी लाल गोयल पेंट की जगह प्रत्याशी बनाया गया है। मुस्लिम बहुल आगरा दक्षिण सीट की जगह वैश्य बहुल आगरा उत्तर सीट से बसपा का मुस्लिम प्रत्याशी को उतारना राजनीतिक दलों को भी चौंकाया। बुधवार रात को बसपा कार्यालय की ओर से नई प्रत्याशियों की सूची जारी कर दी गई।

पढ़ें :- हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022: पीएम मोदी में करेंगे दौरा, युवाओं से करेंगे खास चर्चा

 

बुधवार सुबह से ही बसपा सेक्टर प्रभारी गोरेलाल जाटव के घर पर प्रत्याशियों का जमावड़ा लगा रहा। सभी बी फॉर्म लेने के लिए पहुंचे, लेकिन आगरा उत्तर से मुरारीलाल गोयल, एत्मादपुर से सर्वेश बघेल और खेरागढ़ से गंगाधर कुशवाहा को बी फॉर्म न दिया गया।

इसके बाद जब हंगामा शुरू हुआ तो बसपा सेक्टर प्रभारी गोरेलाल ने दो घंटे का समय मांगा और इंतजार करने को कहा। दोपहर में नामांकन का वक्त खत्म होने के बाद शाम को तय हो गया कि प्रत्याशियों में फेरबदल होगा। रात में बसपा ने अपने प्रत्याशियों में बदलाव की सूची जारी की, जिसमें आगरा से एत्मादपुर और आगरा उत्तर के प्रत्याशियों को बदला गया।

खेरागढ़ पर बदलाव बना चर्चा का विषय

पढ़ें :- Free Scooty Yojana 2022 : योगी सरकार लड़कियों को जल्द देगी मुफ्त स्कूटी, यहां जानें सब कुछ

बसपा द्वारा  एत्मादपुर और आगरा उत्तर सीट पर चार दिन के अंदर बदलाव करने से बसपा कार्यकर्ताओं में असमंजस की स्थिति है। संगठन से जुड़े लोग भी पार्टी की नीति नहीं समझ पा रहे कि जो प्रत्याशी घोषित हुए हैं, उनके जनसंपर्क के कार्यक्रम लगाएं या नहीं। खेरागढ़ पर गंगाधर कुशवाहा को भी बी फॉर्म नहीं दिया गया, इससे खेरागढ़ पर भी बदलाव की चर्चा है। भाजपा छोड़कर आए क्षत्रिय समाज के नेता का नाम यहां आगे आ रहा है।

 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...