1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. UP Election 2022: स्वतंत्र देव सिंह का बड़ा हमला, बोले-सपा के नेताओं पर बलात्कार के बाद अब भ्रष्टाचार के आरोप भी सिद्ध हो रहे हैं

UP Election 2022: स्वतंत्र देव सिंह का बड़ा हमला, बोले-सपा के नेताओं पर बलात्कार के बाद अब भ्रष्टाचार के आरोप भी सिद्ध हो रहे हैं

UP Election 2022: उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 को लेकर सियासी सरगर्मी बढ़ती जा रही है। नेता एक दूसरे पर आरोप प्रत्यारोप लगा रहे हैं। भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party) और समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के नेताओं के बीच इस समय खूब जुबानी जंग चल रही है। दोनों पार्टियों के नेता एक दूसरे पर हमलावर हो रहे हैं। हर मुद्दे को लेकर दोनों पार्टियों के नेता एक दूसरे को घेरने की कोशिश में जुटे हुए हैं।

By शिव मौर्या 
Updated Date

UP Election 2022: उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 को लेकर सियासी सरगर्मी बढ़ती जा रही है। नेता एक दूसरे पर आरोप प्रत्यारोप लगा रहे हैं। भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party) और समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के नेताओं के बीच इस समय खूब जुबानी जंग चल रही है। दोनों पार्टियों के नेता एक दूसरे पर हमलावर हो रहे हैं। हर मुद्दे को लेकर दोनों पार्टियों के नेता एक दूसरे को घेरने की कोशिश में जुटे हुए हैं।

पढ़ें :- Parag Milk Prices Increased: महंगाई का एक और बड़ा झटका, अमूल के बाद पराग ने भी बढ़ाए दूध के दाम

इस बीच उत्तर प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह (Swatantra Dev Singh) ने समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) पर बड़ा हमला बोला है। उन्होंने कहा कि अब उनका चेहरा भी टोपी की तरह से लाल होता जा रहा है। भाजपा अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह (Samajwadi Party)ने ट्वीट कर लिखा है कि, ‘सपा के नेताओं पर बलात्कार के बाद अब भ्रष्टाचार के आरोप भी सिद्ध हो रहे हैं। टोपी तो लाल थी ही, अब चेहरा भी डर से लाल होता नज़र आ रहा है’।

बता दें कि, विधानसभ चुनाव के करीब आते ही भाजपा नेता हर मौके पर सपा पर हमला बोल रहे हैं। वहीं, समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चुनाव को लेकर विजय रथ निकाल रहे हैं। उनका दावा है कि इस पर जनता पूर्ण बहुमत से समाजवादी पार्टी की सरकार बनवाने जा रही है।

सपा नेताओं के यहां पड़े थे आयकर के छापे
चुनाव के करीब आते ही सपा के कई नेताओं के घर और दफ्तरों में आयकर के छापे पड़े थे। इसमें पूर्व मुख्यमंत्री के ओएसडी समेत अन्य लोग शामिल थे। अखिलेश यादव ने आरोप लगाया था कि चुनाव के करीब आते ही भाजपा इस तरह के काम करने लगी है। उन्होंने कहा था कि अभी ईडी और सीबीआई भी चुनाव लड़ने के लिए आएगी।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...