1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. सेना भर्ती को लेकर वरुण गांधी ने अपनी सरकार को फिर घेरा, कहा-पांवों में छाले लिए 3 सालों से दौड़ रहे युवा हताश हैं

सेना भर्ती को लेकर वरुण गांधी ने अपनी सरकार को फिर घेरा, कहा-पांवों में छाले लिए 3 सालों से दौड़ रहे युवा हताश हैं

भारतीय जनता पार्टी  (Bharatiya Janata Party) के पीलीभीत से सांसद वरुण गांधी (Varun Gandhi) अपनी ही सरकार पर हमलावर हैं। वो अक्सर अपनी ही सरकार पर हमले बोल रहे हैं। इस बार उन्होंने सेना और अर्धसैनिक बलों की भर्ती के मुद्दे को लेकर अपनी सरकार को घेरा है। उन्होंने कहा कि, ‘राष्ट्रसेवा’ का संकल्प लेने वाले इन युवाओं की आवाज ‘राष्ट्रवादी सरकार’ तक पहुंचनी चाहिए।

By शिव मौर्या 
Updated Date

लखनऊ। भारतीय जनता पार्टी  (Bharatiya Janata Party) के पीलीभीत से सांसद वरुण गांधी (Varun Gandhi) अपनी ही सरकार पर हमलावर हैं। वो अक्सर अपनी ही सरकार पर हमले बोल रहे हैं। इस बार उन्होंने सेना और अर्धसैनिक बलों की भर्ती के मुद्दे को लेकर अपनी सरकार को घेरा है। उन्होंने कहा कि, ‘राष्ट्रसेवा’ का संकल्प लेने वाले इन युवाओं की आवाज ‘राष्ट्रवादी सरकार’ तक पहुंचनी चाहिए।

पढ़ें :- PM मोदी ने दी एकनाथ शिंदे और देवेंद्र फडणवीस को बधाई, कहा-महाराष्ट्र के विकास पथ को और मजबूत करेंगे

दरअसल, काफी दिनों से सेना की रैली भर्ती ​बंद है, जिसके कारण युवा भर्ती शुरू करने की मांग कर रहे हैं। रक्षामंत्री राजनाथ सिंह के चुनावी जनसभा में भी युवाओं ने सेना भर्ती की मांग उठाई थी। इस बीच वरुण गांधी ने एक वीडिया को ट्वीट करते हुए अपनी सरकार को घेरा है।

वरुण गांधी (Varun Gandhi) ने ट्वीट कर लिखा है कि, ‘सेना और अर्धसैनिक बलों में भर्ती न आने के कारण पांवों में छाले लिए 3 सालों से दौड़ रहे युवा हताश हैं। बढ़ती उम्र के कारण अयोग्य हो रहे इन युवाओं को आर्थिक तंगी अवसादग्रस्त बना रही है। ‘राष्ट्रसेवा’ का संकल्प लेने वाले इन युवाओं की आवाज ‘राष्ट्रवादी सरकार’ तक पहुंचनी चाहिए। इससे पहले उन्होंने यूक्रेन में फंसे भारतीय छात्रों को लेकर केंद्र की सरकार को घेरा था।

उन्होंने कहा था कि, सही समय पर सही फैसले न लिए जाने के कारण 15 हजार से अधिक छात्र भारी अव्यवस्था के बीच अभी भी युद्धभूमि में फंसे हुए है। ठोस रणनीतिक और कूटनैतिक कार्यवाही कर इनकी सुरक्षित वापसी इन पर कोई उपकार नहीं बल्कि हमारा दायित्व है। हर आपदा में ‘अवसर’ नही खोजना चाहिए।

पढ़ें :- बीजेपी से निष्कासित नेता नवीन जिंदल को अब मिली धमकी, कहा-'कन्हैया की तरह काटेंगे गला'
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...