HBE Ads
  1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. हम आवाज उठाते रहते हैं, हम डरने वाले नहीं हैं…प्रियंका गांधी का पीएम मोदी पर निशाना

हम आवाज उठाते रहते हैं, हम डरने वाले नहीं हैं…प्रियंका गांधी का पीएम मोदी पर निशाना

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी गुरुवार मध्य प्रदेश के मुरैना में चुनावी जनसभा को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि, ये वीरों की धरती है। आपने अपने जवान बेटों को सेना में देश की रक्षा के लिए भेजा है। इसलिए ये धरती हमारे लिए हमेशा पवित्र रहेगी। भाजपा सरकार पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि, नरेंद्र मोदी ने विपक्ष को दबाने की तमाम कोशिशें कर ली हैं। लेकिन.. हम आवाज उठाते रहते हैं, हम डरने वाले नहीं हैं।

By शिव मौर्या 
Updated Date

Lok Sabha Elections 2024: कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी गुरुवार मध्य प्रदेश के मुरैना में चुनावी जनसभा को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि, ये वीरों की धरती है। आपने अपने जवान बेटों को सेना में देश की रक्षा के लिए भेजा है। इसलिए ये धरती हमारे लिए हमेशा पवित्र रहेगी। भाजपा सरकार पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि, नरेंद्र मोदी ने विपक्ष को दबाने की तमाम कोशिशें कर ली हैं। लेकिन.. हम आवाज उठाते रहते हैं, हम डरने वाले नहीं हैं।

पढ़ें :- बीजेपी ने रची पूरी साजिश, घटना के वक्त घर पर नहीं थे केजरीवाल,स्वाति के आरोप झूठे : आतिशी

साथ ही कहा, दिल्ली बॉर्डर पर लाखों किसानों ने आंदोलन किया, लेकिन PM मोदी ने उनकी एक बात नहीं सुनी। जब उत्तर प्रदेश का चुनाव आया और सैकड़ों किसान शहीद हो गए, तब जाकर तीन काले कानून वापस लिए। लखीमपुर में BJP के मंत्री के बेटे ने अपनी जीप से किसानों को रौंद दिया, लेकिन PM मोदी मंत्री और उनके बेटे को बचाने में लगे रहे। मैं किसान परिवारों से मिलने गई तो मुझे ही गिरफ्तार करवा दिया, लेकिन मंत्री और उसके बेटे को गिरफ्तार नहीं होने दिया, जिन्होंने किसानों को कुचला।

प्रियंका गांधी ने आगे कहा कि, इंदिरा गांधी जी ने गरीबों को जमीन के पट्टे दिए। नरेंद्र मोदी ने पट्टे देने की स्कीम बंद कर दी। कोरबा, छत्तीसगढ़ में नरेंद्र मोदी ने लोगों की जमीन ले ली, खदान उठाकर अपने अरबपति मित्रों को दे दिए। आज वहां लोगों के पास रोजगार नहीं है। उन्होंने कहा कि, मेरे पिता को विरासत में ‘शहादत की भावना’ मिली, ये बात नरेंद्र मोदी नहीं समझ पाएंगे। नरेंद्र मोदी हमें कुछ भी कहें, घर से निकाल दें, संसद से निकाल दें, केस डाल दें, चाहे मार डालें। लेकिन शहादत की ये भावना हमारे दिल से कोई नहीं निकाल सकता है।

 

पढ़ें :- अमेठी से मेरा 42 सालों का रिश्ता, मैं जितना रायबरेली का उतना अमेठी का भी : राहुल गांधी
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...