1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. मैं जब किसानों के मामले में प्रधानमंत्री जी से मिलने गया तो उनसे मेरी पांच मिनट में लड़ाई हो गई: सत्यपाल मलिक

मैं जब किसानों के मामले में प्रधानमंत्री जी से मिलने गया तो उनसे मेरी पांच मिनट में लड़ाई हो गई: सत्यपाल मलिक

​मेघालय के राज्यपाल सत्यपाल मलिक कृषि कानूनों को लेकर कुछ महीने पहले चल रहे किसान आन्दोलन के समय से ही प्रधानमंत्री पर ​हमलावार रहे हैं। अपने कई बयानों में उन्होंने प्रधानमंत्री को किसान विरोधी बताया है। हालांकि अब कृषि कानून केंद्र सराकर के द्वारा वापस ले लिये गये हैं। लेकिन एक बार फिर सत्यपाल मलिक चर्चा में हैं।

By प्रिन्स राज 
Updated Date

नई दिल्ली। ​मेघालय के राज्यपाल सत्यपाल मलिक(Satyapal Malik) कृषि कानूनों को लेकर कुछ महीने पहले चल रहे किसान आन्दोलन के समय से ही प्रधानमंत्री पर ​हमलावार रहे हैं। अपने कई बयानों में उन्होंने प्रधानमंत्री को किसान विरोधी बताया है। हालांकि अब कृषि कानून केंद्र सराकर के द्वारा वापस ले लिये गये हैं। लेकिन एक बार फिर सत्यपाल मलिक चर्चा में हैं। उनका एक वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है।

पढ़ें :- PM Modi की सुरक्षा में चूक या कुछ और?, एक साल पहले ही खालिस्तानी संगठन ने पोस्ट किया था पूरा VIDEO

जिसमे वो कहते नजर आ रहे हैं कि मै मैं जब किसानों(Formers) के मामले में प्रधानमंत्री जी से मिलने गया तो उनसे मेरी पांच मिनट में लड़ाई हो गई। वो बहुत घमंड में थे। जब मैंने उनसे कहा कि हमारे 500 लोग मर गए तो उन्होंने कहा कि मेरे लिए मरे हैं क्या। मैंने कहा आपके लिए ही तो मरे थे जो आप राजा बने हुए हो। फिर उन्होंने कहा कि आप अमित शाह से मिल लो। मैं अमित शाह से मिला। दरअसल, हरियाणा के दादरी में किसानों के एक कार्यक्रम में मेघालय के गवर्नर सत्यपाल मलिक रविवार को पहुंचे थे।

पढ़ें :- पीएम मोदी की फिरोजपुर रैली रद्द, जानें इसके पीछे क्या है कारण?

एक बड़े अखबार के रिपोर्ट के मुताबिक सत्यपाल मलिक ने ये बातें इसी कार्यक्रम के दौरान कहे। इतना ही नहीं इसके बाद पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने कृषि कानूनों को वापस लेने के सरकार के फैसले पर कहा कि प्रधानमंत्री ने जो कहा उसके अलावा वो कह भी क्या सकते थे। हमने अपने पक्ष में फैसला कराया है। मलिक ने कहा कि वे राज्यपाल, मंत्री, सांसद व विधायक रह चुके हैं। लेकिन सेवानिवृति(VRS) के बाद उनके पास रहने के लिए अपना मकान नहीं है। हमेशा ईमानदारी से काम किया। यही उनकी ताकत है। मलिक ने कहा कि इसी ताकत की बदौलत ही उन्होंने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से पंगा लिया है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...