1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. अखिलेश यादव का साथ छोड़ेंगे ओम प्रकाश राजभर? भाजपा के दो नेताओं के साथ बंद कमरे में हुई बातचीत

अखिलेश यादव का साथ छोड़ेंगे ओम प्रकाश राजभर? भाजपा के दो नेताओं के साथ बंद कमरे में हुई बातचीत

सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (सुभासपा) के अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर (Om Prakash Rajbhar) को लेकर चर्चाओं का दौर फिर से शुरू हो गया है। ये चर्चाएं तब शुरू हुईं जब उन्होंने भाजपा के दो दिग्गज नेताओं से वीवीआईपी गेस्ट हादस में करीब दो घंटे तक बातचीत की। ओम प्रकाश राजभर (Om Prakash Rajbhar) के साथ उनके बेटे अरुण राजभर और अरविंद राजभर भी मौजूद थे।

By शिव मौर्या 
Updated Date

लखनऊ। सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (सुभासपा) के अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर (Om Prakash Rajbhar) को लेकर चर्चाओं का दौर फिर से शुरू हो गया है। ये चर्चाएं तब शुरू हुईं जब उन्होंने भाजपा के दो दिग्गज नेताओं से वीवीआईपी गेस्ट हादस में करीब दो घंटे तक बातचीत की। ओम प्रकाश राजभर (Om Prakash Rajbhar) के साथ उनके बेटे अरुण राजभर और अरविंद राजभर भी मौजूद थे।

पढ़ें :- सीएम योगी बोले-कभी सफल नहीं होगी अवैध धर्मांतरण वालों की मंशा, जाग चुका है देश

हालांकि, इस मुलाकात के बाद ओम प्रकाश राजभर (Om Prakash Rajbhar ने चल रहे कयासों का खंडन किया और कहा कि वो अपने क्षेत्र के विकास को लेकर दोनों नेताओं से मुलाकात की है। बताया जा रहा है कि ओपी राजभर ने करीब दो घंटे मुलाकात केंद्रीय मंत्री कौशल किशोर (Kaushal Kishore) और योगी सरकार में परिवहन मंत्री दयाशंकर सिंह (Dayashankar Singh) से बंद कमरे में की है। इसके बाद से कयासों का बाजार गर्म हो गया। वहीं, इस मुलाकात के बाद ओपी राजभर ने कयासों को सिर्फ अफवाह बताते हुए इसे खारिज कर दिया।

उन्होंने कहा कि, वह अपने क्षेत्र के कुछ काम के सिलसिले में मिलने के लिए आए थे। वहीं, दयाशंकर सिंह (Dayashankar Singh) ने भी कहा कि ओपी राजभर एक बस डिपो की मांग को लेकर आए थे। हालांकि, उनसे जब राजभर के भाजपा संग आने की संभावना को लेकर पूछा गया तो उन्होंने कहा कि राजनीति में संभावनाएं कभी खत्म नहीं होती हैं।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...