1. हिन्दी समाचार
  2. ख़बरें जरा हटके
  3. …नई उमंगें साथ लिए, नव वर्ष अब आया है

…नई उमंगें साथ लिए, नव वर्ष अब आया है

नई उमंगें साथ लिए ,नव वर्ष अब आया है। बहुत कठिन था साल पुराना, छायी थी अंधियारी।

By शिव मौर्या 
Updated Date

 

पढ़ें :- नया साल 2022: ओमाइक्रोन के डर के बीच आपके नए साल को दिलचस्प बनाने के लिए 5 चीजें

कविता – डॉक्टर कमलेंद्र कुमार श्रीवास्तव

नई उमंगें साथ लिए,
नव वर्ष अब आया है।

बहुत कठिन था साल पुराना,
छायी थी अंधियारी ।
दुर्भाग्य ने सबको घेर लिया
आई थी लाचारी ।।
डर, चिंता आतंक ने
सबको बहुत सताया है।
नई उमंगें साथ लिए ,
नव वर्ष अब आया है ।।

पढ़ें :- नया साल 2022: 5 आसान नए साल के संकल्प विचार और उनका पालन कैसे करें

आतंक रूपी कोरोना से,
सबको आफत आयी।
जाने कितने चले गए,
सब देने लगे दुहाई ।।
कोरोना रूपी दानव ने
आतंक बहुत मचाया है।
नई उमंगें साथ लिए,
नव वर्ष अब आया है।।

सब मिलजुल कर एक हुए,
नीति नयी अपनाई।
सबने मुंह में मास्क पहन,
नई दिशा दिखलाई।।
वैक्सीन औऱ होशियारी से
कोरोना को दूर भगाया है।
नई उमंगें साथ लिए,
नव वर्ष अब आया है।।

साथ रहेंगें हम सब मिलकर
गीत खुशी का गाएंगें ।
नया जोश साथ में लेकर,
नव विकास हम लायेंगें ।।
आगें बढ़ते जायेगें हम ,
कोई रोक न पाया है ।
नई उमंगें साथ लिए ,
नव वर्ष अब आया है।।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...