1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. संसद के मानसून सत्र से पहले सर्वदलीय बैठक 18 जुलाई को, पीएम मोदी होंगे शामिल

संसद के मानसून सत्र से पहले सर्वदलीय बैठक 18 जुलाई को, पीएम मोदी होंगे शामिल

संसद के मानसून सत्र से पहले केंद्रीय संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी ने 18 जुलाई को सर्वदलीय बैठक बुलाई है। इसमें सभी दलों को आमंत्रित किया गया है। बता दें कि संसद सत्र से पहले सर्वदलीय बैठक बुलाने की परंपरा है। इस बैठक में सत्ता पक्ष, विपक्ष से मानसून सत्र को सुचारू रुप से चलाने के लिए सहयोग मांगेगा।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। संसद के मानसून सत्र से पहले केंद्रीय संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी ने 18 जुलाई को सर्वदलीय बैठक बुलाई है। इसमें सभी दलों को आमंत्रित किया गया है। बता दें कि संसद सत्र से पहले सर्वदलीय बैठक बुलाने की परंपरा है। इस बैठक में सत्ता पक्ष, विपक्ष से मानसून सत्र को सुचारू रुप से चलाने के लिए सहयोग मांगेगा।

पढ़ें :- Japan News : शिंजो आबे के राजकीय अंतिम संस्कार में शामिल हुए प्रधानमंत्री मोदी, 100 से अधिक देशों के नेता मौजूद

सरकार को घरेने की तैयारी में है विपक्ष

इस बार मानसून सत्र के हंगामेदार रहने की संभावना है। कोरोना, टीकाकरण, महंगाई और राफेल जैसे तमाम मुद्दों को लेकर विपक्ष सरकार को घेरने की योजना बना रहा है। बताया जा रहा है कि संसद के मानसून सत्र में सरकार 30 बिल लेकर आएगी। वहीं भाजपा सांसद जनसंख्या नियंत्रण और समान आचार संहिता पर भी प्राइवेट मेंबर बिल पेश करने वाले हैं।

संसद में कोरोना प्रोटोकॉल का होगा पालन

भारतीय जनता पार्टी ने अपने तमाम सांसदों को सदन में मौजूद रहने को कहा है। लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला ने संसद की तैयारियो का जायजा लेकर यह सुनिश्चित किया है कि संसद सत्र के दौरान कोरोना प्रोटोकॉल का पूरी तरह से पालन हो। संसद सत्र में शामिल होने के लिए सांसदों को पहले ही टीका के दोनों डोज लेने को कहा गया था।

पढ़ें :- Mann Ki Baat Live : मन की बात में PM मोदी का एलान, अब 'शहीद भगत सिंह के नाम से जाना जाएगा चंडीगढ़ एयरपोर्ट'

मिली जानकारी के मुताबिक राज्यसभा के 231 सांसदों में से तक 200 से ज्यादा सांसदों ने कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज ले ली है। जबकि 16 ने कोरोना वैक्सीन की पहली खुराक ले ली है. वहीं लोकसभा में 540 में से 470 सांसदों ने कम से कम टीके के एक डोज ले ली है।  वहीं जिन सांसदों ने कोरोना का टीका अब तक नहीं लगवाया है या उन्हें टीका लगवाने तक सदन में शामिल होने के लिए हर दो हफ्तों में आरटी-पीसीआर टेस्ट करवाना होगा।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...