1. हिन्दी समाचार
  2. दुनिया
  3. चीन के नए वायरस से डरा अमेरिका! US के सीनेटरों ने राष्ट्रपति बाइडन से की बिना देरी बड़े एक्शन की मांग

चीन के नए वायरस से डरा अमेरिका! US के सीनेटरों ने राष्ट्रपति बाइडन से की बिना देरी बड़े एक्शन की मांग

New Virus in China: चीन (China) में तेजी से बच्चों में श्वास संबंधी रहस्यमयी बीमारी (Mysterious Disease) का संक्रमण तेजी से फैल रहा है। वहां हर रोज बड़ी संख्या में मरीज सामने आ रहे हैं। कोरोना के बाद अब चीन से सामने आई इस बीमारी ने अन्य देशों की टेंशन भी बढ़ा दी है। वहीं, अमेरिका के सीनेटरों (US Senators) ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए राष्ट्रपति जो बाइडन (US President Joe Biden) से बिना देरी बड़े एक्शन की मांग की है। 

By Abhimanyu 
Updated Date

New Virus in China: चीन (China) में तेजी से बच्चों में श्वास संबंधी रहस्यमयी बीमारी (Mysterious Disease) का संक्रमण तेजी से फैल रहा है। वहां हर रोज बड़ी संख्या में मरीज सामने आ रहे हैं। कोरोना के बाद अब चीन से सामने आई इस बीमारी ने अन्य देशों की टेंशन भी बढ़ा दी है। वहीं, अमेरिका के सीनेटरों (US Senators) ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए राष्ट्रपति जो बाइडन (US President Joe Biden) से बिना देरी बड़े एक्शन की मांग की है।

पढ़ें :- US : राष्ट्रपति बाइडन ने जीता साउथ कैरोलाइना का प्राइमरी चुनाव, मिले 96.2 प्रतिशत वोट  

दरअसल, मार्को रुबियो (Marco Rubio) के नेतृत्व में पांच रिपब्लिकन सीनेटरों (Republican senators) ने शुक्रवार को राष्ट्रपति जो बाइडन के प्रशासन को एक पत्र लिखकर आग्रह किया है कि बिना देरी यूएस-चीन के बीच यात्रा प्रतिबंध लगाया जाये। राष्ट्रपति बाइडेन को लिखे पत्र में कहा, ‘चीनी कम्युनिस्ट पार्टी (सीसीपी) के ट्रैक रिकॉर्ड को देखते हुए हमें WHO की कार्रवाई का इंतजार नहीं करना चाहिए। हमें अमेरिकियों के स्वास्थ्य की रक्षा के लिए आवश्यक कदम उठाने चाहिए। ऐसे में जब तक चीन इस नई बीमारी के खतरों के बारे में ज्यादा जानकारी हासिल न कर लें, तब तक हमें अमेरिका-चीन के बीच यात्रा पर प्रतिबंध (Travel ban between America and China) लगाना चाहिए, ताकि आगे चलकर देश को अनगिनत मौतों और लॉकडाउन जैसी परिस्थिति का सामना न करना पड़ें।’

इस पत्र के जवाब में बाइडन प्रशासन (Biden Administration) के एक अधिकारी ने कहा कि संयुक्त राज्य अमेरिका (United States of America) ने बारीकी से चीन में फैले रहस्यमयी बीमारी पर नजर रखी है, लेकिन यह एक मौसमी बीमारी की तरह लग रहा है। उन्होंने कहा, “हम इसमें मौसमी रुझान देख रहे हैं। कुछ भी सामान्य से अलग नहीं दिख रहा है। इस समय, ऐसा कोई संकेत नहीं दिख रहा है, जिसमें अमेरिकी आपातकालीन विभागों (US Emergency Departments) में भर्ती लोगों और चीन में फैली श्वसन बीमारी वालों लोगों में कोई मेल हो।”

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...