1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. BJP MP Varun Gandhi बोले- जनता के पैसे की बर्बादी बर्दाश्त करने योग्य नहीं, PWD मंत्री करें कठोर कार्रवाई

BJP MP Varun Gandhi बोले- जनता के पैसे की बर्बादी बर्दाश्त करने योग्य नहीं, PWD मंत्री करें कठोर कार्रवाई

यूपी के पीलीभीत लोकसभा सीट से बीजेपी सांसद वरुण गांधी (BJP MP Varun Gandhi) ने अपने ही संसदीय क्षेत्र में घटिया सड़क को बनाने वाले ठेकेदार पर पीडब्लयूडी मंत्री जितिन प्रसाद (PWD Minister Jitin Prasad) से गंभीर कार्रवाई सुनिश्चित करे जाने की मांग की है। वरुण गांधी ने ट्वीट कर कहा कि लगभग 4 करोड़ की लागत से बनी इस सड़क के अनूठे ‘क्वॉलिटी चेक’ के परिणाम देख हम सभी स्तब्ध हैं।

By संतोष सिंह 
Updated Date

पीलीभीत। यूपी के पीलीभीत लोकसभा सीट से बीजेपी सांसद वरुण गांधी (BJP MP Varun Gandhi) ने अपने ही संसदीय क्षेत्र में घटिया सड़क को बनाने वाले ठेकेदार पर पीडब्लयूडी मंत्री जितिन प्रसाद (PWD Minister Jitin Prasad) से गंभीर कार्रवाई सुनिश्चित करे जाने की मांग की है। वरुण गांधी ने ट्वीट कर कहा कि लगभग 4 करोड़ की लागत से बनी इस सड़क के अनूठे ‘क्वॉलिटी चेक’ के परिणाम देख हम सभी स्तब्ध हैं। उन्होंने कहा​कि जनता की गाढ़ी कमाई के पैसे की ऐसी बर्बादी बर्दाश्त करने योग्य नहीं है। उन्होंने कहा कि मेरी PWD मंत्री जितिन प्रसाद (PWD Minister Jitin Prasad) से विनती है कि इस सड़क को बनाने वाले ठेकेदार पर गंभीर कार्रवाई सुनिश्चित करें।

पढ़ें :- यूपी देश के टॉप-4 राज्यों में शामिल, 75 लाख से अधिक नल कनेक्शन देने का आंकड़ा किया पार

यूपी के पीलीभीत जिले से भ्रष्टाचार की पोल खोलकर रख देने वाला वीडियो सोशल मीडिया तेजी से वायरल हो रहा है। इस वीडियो में एक युवक सड़क निर्माण में बरती गई लापरवाही को उजागर करता नजर आ रहा है। नई बनी रोड की गुणवत्ता इतनी खराब है कि युवक उसे अपने हाथों से उखाड़ देता है।

बता दें कि जनपद के पूरनपुर से भगवंतापुर गांव के बीच प्रधानमंत्री सड़क योजना के तहत 3 करोड़ 80 लाख रुपए की लागत से सड़क निर्माण किया जा रहा है, लेकिन इसके लिए इस्तेमाल की गई सामग्री और बनाने का तरीका काफी घटिया है। वीडियो में देखा गया कि ठेकेदार ने धूल पर ही गिट्टी मिला डामर बिछा दिया। इसी खराब क्वालिटी को दिखाने के लिए राहगीर अपने हाथों से ही सड़क की परत उधेड़कर विभाग की कलई खोलता दिख रहा है।

बता दें कि बीते दिन एक वाहन के ब्रेक लगाने पर टायर से नई सड़क उखड़ गई थी। इससे राहगीरों के मन में संदेह पैदा हुआ और फिर उन्होंने जब सड़क के एक किनारे को हिलाया तो बजरी और कोलतार का हिस्सा उनके हाथों में आ गया। इसके बाद लोगों ने अपने मोबाइल से वीडियो बनाया और उसे सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। ग्रामीण अब सड़क की खराब क्वालिटी को लेकर प्रदर्शन करने की तैयारी में हैं। आरोप है कि इस पूरे मामले में ठेकेदार के अलावा जूनियर इंजीनियर (जेई) की अहम भूमिका है।

वर्षों से जर्जर हैं ट्रांस शारदा की सड़कें

पूरनपुर विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत आने वाली ट्रांस शारदा की सड़कें वर्षों से काफी जर्जर हैं। यहां पर भी कुछ इसी तरह का निर्माण किया जाता है। सड़कों के निर्माण के कुछ दिन बाद भी खराब हो जाती है। यहां के क्षेत्रीय विधायक जनता की मांगों को अनसुना कर देते हैं। सरकार की बेरुखी से क्षेत्र की जनता काफी त्रस्त है।

पढ़ें :- Budget 2023: लोगों को बजट से क्या हैं उम्मीदें? किसानों के लिए किए जा सकते हैं खास ऐलान

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...