1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. Braking- बिहार के सीएम कुर्सी पर बीजेपी ने गड़ाई नजर, नीतीश कुमार को ऐसे आउट करने का ये है फुलप्रूफ प्लान

Braking- बिहार के सीएम कुर्सी पर बीजेपी ने गड़ाई नजर, नीतीश कुमार को ऐसे आउट करने का ये है फुलप्रूफ प्लान

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राज्यसभा में जाने की इच्छा जताकर बीजेपी के उम्मीदों को परवान चढ़ा दिया है। नीतीश कुमार इस बयान के बाद से बिहार की राजनीति का सियासी पारा तेजी से चढ़ गया है। बता दें कि बिहार सरकार में जेडीयू की सहयोगी बीजेपी भी नीतीश कुमार को राज्यसभा भेजने का समर्थन कर बड़ा खेल करने की जुगत में जुट गई है। मौके नजाकत भांपते हुए बिहार बीजेपी के फायर ब्रांड नेता और विधायक हरि भूषण ठाकुर ने यहां तक कह दिया कि अगर नीतीश कुमार राज्य सभा में जाना चाहते पार्टी उनकी इच्छा को पूरा करेगी। उन्होंने कहा कि ऐसा होने की स्थिति में फिर बिहार में बीजेपी का मुख्यमंत्री बनेगा।

By संतोष सिंह 
Updated Date

पटना। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राज्यसभा में जाने की इच्छा जताकर बीजेपी के उम्मीदों को परवान चढ़ा दिया है। नीतीश कुमार इस बयान के बाद से बिहार की राजनीति का सियासी पारा तेजी से चढ़ गया है। बता दें कि बिहार सरकार में जेडीयू की सहयोगी बीजेपी भी नीतीश कुमार को राज्यसभा भेजने का समर्थन कर बड़ा खेल करने की जुगत में जुट गई है। मौके नजाकत भांपते हुए बिहार बीजेपी के फायर ब्रांड नेता और विधायक हरि भूषण ठाकुर ने यहां तक कह दिया कि अगर नीतीश कुमार राज्य सभा में जाना चाहते पार्टी उनकी इच्छा को पूरा करेगी। उन्होंने कहा कि ऐसा होने की स्थिति में फिर बिहार में बीजेपी का मुख्यमंत्री बनेगा।

पढ़ें :-  देश की तीसरी ‘वंदे भारत एक्सप्रेस’, पीएम मोदी ने दिखाई हरी झंडी  

नीतीश के गिरते ग्राफ का फायदा उठाने के मूड में BJP

बिहार में कानून व्यवस्था और शराबबंदी मुद्दे पर नीतीश कुमार का लगातार ग्राफ गिरता जा रहा है। इसी मौके का फायदा उठाकर बीजेपी नीतीश कुमार को राष्ट्रीय राजनीति में भेजकर बिहार में अपना सीएम बनाने की जुगत में जुट गई है। अगर नीतीश कुमार बिहार की राजनीति को छोड़कर दिल्ली आते हैं तो ऐसे हालात में बिहार में बीजेपी अपना मुख्यमंत्री बनाएगी, क्योंकि 2020 विधानसभा चुनाव के बाद बीजेपी 74 विधायकों के साथ सबसे बड़ी एनडीए में घटक दल थी। पिछले दिनों वीआईपी पार्टी के 3 विधायकों के बीजेपी में शामिल हो जाने के बाद अब पार्टी की विधानसभा में संख्या 77 हो गई है।

सीएम चेहरे की तलाश में बीजेपी

2020 विधानसभा चुनाव के बाद बीजेपी और ज्यादा मजबूत हो गई है। लगातार बीजेपी नेताओं के तरफ से भी इस तरीके के बयान आते रहते हैं कि अब बिहार में बीजेपी का मुख्यमंत्री होना चाहिए। सूत्र बताते हैं कि अगर नीतीश कुमार राज्यसभा में जाते हैं, तो इस स्थिति में बीजेपी बिहार में अपना मुख्यमंत्री देगी, जबकि जदयू के दो डिप्टी सीएम बनाए जा सकते हैं।

पढ़ें :- BJP की राष्ट्रीय सचिव पकंजा मुंडे बोलीं- 'मैं तो लोगों के दिल-दिमाग में हूं, मोदी जी भी नहीं खत्‍म कर सकते हैं, मेरा करियर'

बिहार के मुख्यमंत्री के तौर पर उनके नाम की है चर्चा

बिहार में अपना मुख्यमंत्री बनाने के लिए बीजेपी कोई दलित या ओबीसी चेहरे को भी तलाश कर रही है। इस बात की भी पूरी संभावना है कि इन्हीं दोनों जातियों में से बीजेपी का कोई मुख्यमंत्री हो सकता है। नित्यानंद का नाम सबसे आगे केंद्र सरकार में गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय भी ओबीसी चेहरा हैं। बिहार के मुख्यमंत्री के तौर पर उनके नाम की भी चर्चा है। जहां तक जनता दल यूनाइटेड के दो को डिप्टी सीएम बनाए जाने का सवाल है। तो मौजूदा जनता दल यूनाइटेड के राष्ट्रीय अध्यक्ष और मुंगेर सांसद ललन सिंह, बिहार सरकार में शिक्षा मंत्री विजय चौधरी और मंत्री श्रवण कुमार में से किसी दो को डिप्टी सीएम बनाया जा सकता है।

राबड़ी देवी ने कसा तंज

राबड़ी देवी पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने नीतीश कुमार के राज्यसभा में जाने की इच्छा का समर्थन किया है। तंज कसते हुए कहा कि और अच्छा होगा वह दिल्ली चले जाएं। उन्हें बिहार में कोई रोकना भी नहीं चाहता है।

नीतीश के बयान पर क्या बोले जदयू नेता?

पढ़ें :- Breaking-अशोक गहलोत दिल्ली निकलने से पहले देंगे इस्तीफा? राजभवन जाने की सूचना से अटकलें तेज

मंत्री श्रवण कुमार ने कहा कि अगर नीतीश कुमार ने राज्यसभा में जाने की बात कही है तो फिर दूसरा व्यक्ति इसमें क्या कह सकता है? नीतीश कुमार ने हमेशा कहा है कि वह जब तक रहेंगे जनता की खिदमत और काम करते रहेंगे।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...