1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. नवचयनित प्राविधिक सहायकों को सीएम ने बांटे नियुक्ति पत्र, कहा-आवेदन से लेकर नियुक्ति पत्र के लिए नहीं करनी पड़ी होगी सिफारिश

नवचयनित प्राविधिक सहायकों को सीएम ने बांटे नियुक्ति पत्र, कहा-आवेदन से लेकर नियुक्ति पत्र के लिए नहीं करनी पड़ी होगी सिफारिश

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Cm yogi) ने शुक्रवार कृषि विभाग (Agriculture Department) में नवचयनित 1863 प्राविधिक सहायकों (technical assistants) को नियुक्ति पत्र वि​तरण किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ने साढ़े चार सालों में पारदर्शी तरीके से भर्तियां की हैं। चाढ़े चार साल में चार लाख युवाओं को पारदर्शी तरीके से नौकरियां दी गयी हैं। सरकार ने चयन की पूरी प्रक्रिया सुधार कर एक साफ-सुथरी व्यवस्था बनाई है।

By शिव मौर्या 
Updated Date

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Cm yogi) ने शुक्रवार कृषि विभाग (Agriculture Department) में नवचयनित 1863 प्राविधिक सहायकों (technical assistants) को नियुक्ति पत्र वि​तरण किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ने साढ़े चार सालों में पारदर्शी तरीके से भर्तियां की हैं। चाढ़े चार साल में चार लाख युवाओं को पारदर्शी तरीके से नौकरियां दी गयी हैं। सरकार ने चयन की पूरी प्रक्रिया सुधार कर एक साफ-सुथरी व्यवस्था बनाई है।

पढ़ें :- पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे एवं बुन्देलखण्ड एक्सप्रेस-वे क्षेत्र के विकास की मेरुदण्ड साबित होंगे: मुख्यमंत्री

पारदर्शी तरीके से चयनित प्रदेश के युवाओं ने प्रदेश के विकास में अपना योगदान दिया है। मुख्यमंत्री ने प्राविधिक सहायकों को नियुक्ति पत्र देते हुए कहा कि आप लोगों को आवेदन से लेकर नियुक्ति पत्र प्राप्त करने तक किसी की भी सिफारिश नहीं करनी पड़ी होगी। इससे पहले की सरकारों की व्यवस्था किसी से छुपी नहीं थी।

उत्तर प्रदेश में सब कुछ होने के बावजूद प्रदेश पीछे ही रहता था। आज हर क्षेत्र में यूपी आगे है। उन्होंने कहा कि, प्रदेश को आज 1,863 नवचयनित कृषि तकनीक सहायक प्राप्त हो रहे हैं। मैं विश्वास व्यक्त करता हूं कि आप अपनी ऊर्जा व प्रतिभा से कृषि विभाग के साथ-साथ अन्नदाता किसानों को भी लाभान्वित करेंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि, भारत कृषि प्रधान देश है, जिसमें उत्तर प्रदेश की अग्रणी भूमिका है। मेरा मानना है कि तकनीक और संसाधनों का बेहतर उपयोग व किसानों के साथ बेहतर समन्वय कर लें तो अकेला उत्तर प्रदेश दुनिया का पेट भरने की क्षमता रखता है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...