HBE Ads
  1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. COWIN Certificate : कोविशील्ड विवाद के बाद वैक्सीन सर्टिफिकेट से PM मोदी की हटाई गई तस्वीर? स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताई ये वजह

COWIN Certificate : कोविशील्ड विवाद के बाद वैक्सीन सर्टिफिकेट से PM मोदी की हटाई गई तस्वीर? स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताई ये वजह

कोविशील्ड वैक्सीन (Covishield  Vaccine)  के दुष्प्रभाव को लेकर सामने आई खबरों के बीच देश में कोरोना वैक्सीन प्रमाणपत्र से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) की तस्वीर हटा दी गई है। अब डाउनलोड किए जा रहे प्रमाणपत्रों में तस्वीर की जगह सिर्फ प्रधानमंत्री का संदेश लिखा आ रहा है, जिसमें लिखा है कि'भारत एक साथ कोविड 19 को हरा देगा।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। कोविशील्ड वैक्सीन (Covishield  Vaccine)  के दुष्प्रभाव को लेकर सामने आई खबरों के बीच देश में कोरोना वैक्सीन प्रमाणपत्र से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) की तस्वीर हटा दी गई है। अब डाउनलोड किए जा रहे प्रमाणपत्रों में तस्वीर की जगह सिर्फ प्रधानमंत्री का संदेश लिखा आ रहा है, जिसमें लिखा है कि’भारत एक साथ कोविड 19 को हरा देगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) की तस्वीर हटाए जाने के बाद सोशल मीडिया पर इसकी चर्चा शुरू हो गई है। हालांकि स्वास्थ्य मंत्रालय ने इसे लेकर सफाई दी है।

पढ़ें :- गोवर्धनमठ पुरी पीठाधीश्वर शंकराचार्य स्वामी निश्चलानंद सरस्वती का बड़ा बयान, बोले- देश और प्रदेश में चरम पर है भ्रष्टाचार

स्वास्थ्य मंत्रालय ने क्या कहा?

वैक्सीन प्रमाणपत्र (Vaccine Certificate) से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi)  की तस्वीर को स्वास्थ्य मंत्रालय (Health Ministry) ने हटाया है। मंत्रालय के अधिकारियों ने इस संबंध में बताया कि देशभर में चल रहे लोकसभा चुनाव को लेकर आदर्श आचार संहिता लागू है। आचार संहिता के कारण प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi)   की तस्वीर को प्रमाणपत्र से हटाया गया है। गौरतलब है कि यह पहली बार नहीं है जब पीएम मोदी (PM Modi) की तस्वीर कोविड टीकाकरण सर्टिफिकेट (Covid Vaccination Certificate) से हटाई गई हो। इससे पहले साल 2022 में उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, मणिपुर और गोवा में होने वाले विधानसभा चुनाव के दौरान भी उनकी तस्वीर हटा दी गई थी। चुनाव आयोग (Election Commission) के आदेश पर यह कदम उठाया गया था।

इससे पहले उनकी तस्वीर को प्रमुखता से जगह दी गई थी और लिखा गया था- ‘साथ मिलकर, भारत कोरोना को हरा देगा। एक तरह से सरकार ने टीकाकरण के श्रेय पीएम मोदी को दिया था। कुछ लोगों का दावा है कि वैक्सीन बनाने वाली कंपनी एस्ट्राजेनेका द्वारा यूके की अदालत में इसके साइड इफेक्ट्स की बात कबूल करने के बाद यह कदम उठाया गया है।

कोविशील्ड वैक्सीन (Covishield  Vaccine)   के साइड इफेक्ट्स के तौर पर थ्रोम्बोसिस के साथ थ्रोम्बोसाइटोपेनिया सिंड्रोम (TTS) की चर्चा के बाद लोग कोविन ऐप पर अपने टीकाकरण का स्टेटस चेक कर रहे हैं। इस दौरान उन्हें वहां पीएम मोदी की तस्वीर देखने को नहीं मिली। अंग्रेजी अखबार ‘द हिंदू’ ने अपनी एक रिपोर्ट में यह बात कही है।

माइक्रोब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म एक्स पर लोग इसको लेकर तरह-तरह की चर्चा कर रहे हैं। एक्स संदीप मनुधाने ने कहा कि मोदी जी अब कोविड वैक्सीन सर्टिफिकेट (Vaccine Certificate) पर नजर नहीं आएंगे। बस जांचने के लिए डाउनलोड किया है। उनकी तस्वीर चली गई है। इरफ़ान अली ने खुद को कांग्रेस का पदाधिकारी बताते हुए लिखा कि हां, मैंने अभी चेक किया और पीएम मोदी की तस्वीर गायब हो गई है। उनकी तस्वीर के बजाय केवल क्यूआर कोड है।

वैक्सीन सर्टिफिकेट (Vaccine Certificate)  पर पीएम मोदी की तस्वीर छापने को लेकर 2021 में विवाद छिड़ गया था। यह मामला केरल हाईकोर्ट तक पहुंचा था। इसके विरोध में कहा गया था कि अन्य देशों में पीएम की तस्वीर नहीं छपी है। इसके जवाब में न्यायमूर्ति पीवी कुन्हिकृष्णन ने कहा था कि उन्हें अपने प्रधानमंत्रियों पर गर्व नहीं हो सकता है। हमें अपने प्रधानमंत्री पर गर्व है।

पढ़ें :- पीएम मोदी की अपील : काशी का एक-एक वोट मेरी शक्ति को बढ़ाएगा, मुझे नई ऊर्जा देगा, पहले मतदान फिर करें जलपान

गुजरात कांग्रेस ने की मुआवजे की मांग

कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि केंद्र की भाजपा सरकार ने विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के दिशानिर्देशों का पालन नहीं किया है। कांग्रेस ने मांग की है कि जिन लोगों की कोरोना वायरस के खिलाफ कोविशील्ड वैक्सीन (Covishield  Vaccine)  लेने के बाद दिल का दौरा पड़ा या किसी दूसरे कारण से मौत हो गई, उनके परिजनों को इसकी जांच करानी चाहिए। उन्हें मुआवजा दिया जाए।

 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...