HBE Ads
  1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. प्राण प्रतिष्ठा के बाद बड़ी संख्या में दर्शन करने पहुंचे श्रद्धालु, गर्भगृह में मौजूद हैं प्रमुख सचिव गृह और डीजी प्रशांत कुमार

प्राण प्रतिष्ठा के बाद बड़ी संख्या में दर्शन करने पहुंचे श्रद्धालु, गर्भगृह में मौजूद हैं प्रमुख सचिव गृह और डीजी प्रशांत कुमार

प्रमुख सचिव गृह संजय प्रसाद और डीजी प्रशांत कुमार भी भीड़ को संभालने के लिए राम मंदिर में पहुंच गए हैं। अधिकारियों ने खुद ही मोर्चा संभाल लिया है। वहीं, भारी भीड़ को देखते हुए दूसरे जिलों से अयोध्या आने वाले रास्तों पर भी गाड़ियों को रोका जा रहा है। उन्हें अयोध्या में भारी भीड़ होने की जानकारी देकर किसी और दिन आने की अपील की जा रही है।

By शिव मौर्या 
Updated Date

अयोध्या। अयोध्या में राम लला की प्राण प्रतिष्ठा के बाद दर्शन करने के लिए मंगलवार बड़ी संख्या में श्रद्धालु पहुंचे हैं। बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं के पहुंचने पर पुलिस ने मोर्चा संभालने की कोशिश कर रहे हैं। इस दौरान कई जगहों पर धक्का-मुक्की भी हुई। श्रद्धालुओं की भीड़ जुटने के बाद वहां पर प्रशासन के आला अफसर भी पहुंच गए हैं। कमिश्नर, आईजी और एडीजी भी मौके पर पहुंचे और हाथों में लाउडस्पीकर लेकर भक्तों से शांति बनाए रखने की अपील कर रहे हैं।

पढ़ें :- 'एक तेली का बेटा राम मंदिर का उद्घाटन कैसे कर सकता है', PM मोदी पर TMC नेता की जातिगत टिप्पणी से मचा बवाल

वहीं, प्रमुख सचिव गृह संजय प्रसाद और डीजी प्रशांत कुमार भी भीड़ को संभालने के लिए राम मंदिर में पहुंच गए हैं। अधिकारियों ने खुद ही मोर्चा संभाल लिया है। वहीं, भारी भीड़ को देखते हुए दूसरे जिलों से अयोध्या आने वाले रास्तों पर भी गाड़ियों को रोका जा रहा है। उन्हें अयोध्या में भारी भीड़ होने की जानकारी देकर किसी और दिन आने की अपील की जा रही है। अभी तक आई जानकारी के अनुसार, प्राण प्रतिष्ठा के बाद आज करीब 2.5 लाख से 3 लाख श्रद्धालुओं ने अयोध्या में रामलला के दर्शन किए हैं और इतनी ही संख्या में भक्त दर्शन करने के लिए इंतजार कर रहे हैं।

पढ़ें :- Ram Mandir Pran Prathistha: राम भारतवासियों के अंतर्मन में विराजे हुए हैं...देखिए प्राण प्रतिष्ठा की तस्वीरें

राम मंदिर में रामलला के दर्शन के लिए मंगलवार की सुबह से ही भक्तों की भारी भीड़ पहुंच गई थी। मंदिर खुलने के बाद ही भक्त रामलला के दर्शन के लिए आतुर दिखाई दिए। वहीं, साढ़े 11 बजे मंदिर बंद हुआ तो भीड़ और ज्यादा बढ़ गई। दो बजे मंदिर खुला तो रामपथ पर भक्त बेकाबू हो गए। हर कोई जल्द से जल्द दर्शन करने को आतुर दिखाई दिया। इससे पुलिस वालों को उन्हें संभालने में मुश्किलों का सामना करना पड़ा। श्रद्धालुओं को नियंत्रित करने में एसएसबी और आरएएफ के जवान भी अपने आप को असहाय महसूर करने लगे।

बता दें कि, भक्तों को सुचारू दर्शन सुनिश्चित करने के लिए 8000 से अधिक सुरक्षाकर्मी तैनात हैं। यूपी के प्रमुख सचिव गृह संजय प्रसाद और स्पेशल डीजी (लॉ एंड ऑर्डर) प्रशांत कुमार स्थिति पर नजर रखने के लिए राम मंदिर के अंदर मौजूद हैं।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...