1. हिन्दी समाचार
  2. पर्दाफाश
  3. ‘एक तेली का बेटा राम मंदिर का उद्घाटन कैसे कर सकता है’, PM मोदी पर TMC नेता की जातिगत टिप्पणी से मचा बवाल

‘एक तेली का बेटा राम मंदिर का उद्घाटन कैसे कर सकता है’, PM मोदी पर TMC नेता की जातिगत टिप्पणी से मचा बवाल

Piyush Panda's controversial comment against PM Modi : चुनाव आयोग ने लोकसभा चुनाव में अमर्यादित बयानों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की चेतावनी दी थी, इसके बावजूद नेता विवादित टिप्पणी करने से संकोच करते नजर नहीं आ रहे हैं। इसी कड़ी में पश्चिम बंगाल की सत्ताधारी तृणमूल कांग्रेस नेता (TMC Leader) पीयूष पांडा (Piyush Panda) ने पीएम नरेंद्र मोदी के खिलाफ जातिगत टिप्पणी की है। जिसको लेकर भाजपा ने चुनाव आयोग से एक्शन लेने की मांग की है। 

By Abhimanyu 
Updated Date

Piyush Panda’s controversial comment against PM Modi : चुनाव आयोग ने लोकसभा चुनाव में अमर्यादित बयानों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की चेतावनी दी थी, इसके बावजूद नेता विवादित टिप्पणी करने से संकोच करते नजर नहीं आ रहे हैं। इसी कड़ी में पश्चिम बंगाल की सत्ताधारी तृणमूल कांग्रेस नेता (TMC Leader) पीयूष पांडा (Piyush Panda) ने पीएम नरेंद्र मोदी के खिलाफ जातिगत टिप्पणी की है। जिसको लेकर भाजपा ने चुनाव आयोग से एक्शन लेने की मांग की है।

पढ़ें :- 10 साल में डॉलर और सोना की बढ़ती गई चमक, मोदी राज में लगातार कमजोर होता गया रुपया... कौन देगा जवाब?

दरअसल, सोशल मीडिया प्लैटफॉर्म एक्स पर वायरल एक वीडियो में (TMC Leader) पीयूष पांडा (Piyush Panda) को पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के खिलाफ विवादित टिप्पणी करते ना जा सकता है। वायरल वीडियो में कथित तौर पर पीयूष पांडा कह रहे हैं कि ‘एक तेली का बेटा राम मंदिर का उद्घाटन और पूजा कैसे कर सकता है। नरेंद्र मोदी ने अधूरे राम मंदिर का उद्घाटन करके ईशनिंदा की है। ऐसा मैं नहीं बल्कि शंकराचार्यों ने कहा है। मोदी बहुत अहंकारी हैं। वह तेली समुदाय से हैं और वह मंदिर का उद्घाटन कर रहे हैं, जबकि ब्राह्मणों को आमंत्रित नहीं किया जा रहा है।’

भाजपा विधायक और पश्चिम बंगाल विधानसभा में विपक्ष के नेता सुवेंदु अधिकारी (Suvendu Adhikari) ने पीयूष पांडा का यह वीडियो अपने एक्स अकाउंट से शेयर किया है। इसी के साथ उन्होंने चुनाव आयोग से इस मामले में संज्ञान लेने का आग्रह किया है और उनके खिलाफ उचित कार्रवाई करने की मांग की है। सुवेंदु अधिकारी ने लिखा, ‘मैं राष्ट्रीय पिछड़ा वर्ग आयोग के अध्यक्ष श्री हंसराज गंगाराम अहीर जी से आग्रह करना चाहूंगा कि कृपया ओबीसी समाज पर हमले का संज्ञान लें। चुनाव आयोग को आचार संहिता के इस घोर उल्लंघन को लेकर इस नेता को चुनाव प्रक्रिया में भाग लेने से प्रतिबंधित करना चाहिए।’

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...