HBE Ads
  1. हिन्दी समाचार
  2. एस्ट्रोलोजी
  3. भूलकर भी शनिवार और रविवार को ना कटवाएं बाल, धन नाश होने के साथ होती है बड़ी हानी

भूलकर भी शनिवार और रविवार को ना कटवाएं बाल, धन नाश होने के साथ होती है बड़ी हानी

हिन्दू शास्त्र हफ्ते के बाकी दिन ऑफिस-बिजनेस के कामों में लगे रहने के कारण लोग इन कामों के लिए समय नहीं निकाल पाते हैं, जैसे- घर की साफ-सफाई, नाखून काटना या हेयर कट कराना आदि। जबकि वीकेंड के इस समय में बाल कटवाना बहुत नुकसानदेह है। 

By आराधना शर्मा 
Updated Date

नई दिल्ली: हिन्दू शास्त्र कई तरह की बड़ी मान्यताएं दी हुई हैं दरअसल इसमे कई तरह के वीकेंड का के बारे में बताया गया है। आपको बता दें, शनिवार-रविवार की छुट्टियों के लिए कई काम पहले से तय होते हैं। हफ्ते के बाकी दिन ऑफिस-बिजनेस के कामों में लगे रहने के कारण लोग इन कामों के लिए समय नहीं निकाल पाते हैं, जैसे- घर की साफ-सफाई, नाखून काटना या हेयर कट कराना आदि। जबकि वीकेंड के इस समय में बाल कटवाना बहुत नुकसानदेह है।

पढ़ें :- 22 जुलाई 2024 का राशिफल : सूर्यदेव की कृपा से इन राशियों चमकेगा भाग्य,धन-संपदा में होगी वृद्धि

होता है धन-बुद्धि का नाश

महाभारत के अनुशासन पर्व में बताया गया है कि रविवार का दिन सूर्य का दिन है। ऐसे में रविवार के दिन बाल कटवाने से धन, बुद्धि और धर्म का नाश होता है। लिहाजा कभी भी इस दिन बाल नहीं कटवाने चाहिए, जबकि छुट्टी होने के कारण आमतौर पर लोग इसी दिन हेयर कट कराते हैं। ऐसे में यह जानना जरूरी है कि किस दिन बाल कटवाने के क्‍या नतीजे होते हैं और इस काम के लिए सबसे अच्‍छा दिन कौनसा है…

  • सोमवार के दिन भी बाल कटवाना अच्छा नहीं माना जाता है. इस दिन बाल कटवाने से मानसिक दुर्बलता आती है. साथ ही यह संतान के लिए भी ठीक नहीं है.
  • शास्‍त्रों के मुताबिक मंगलवार के दिन बाल कटवाना असामयिक मृत्यु का कारक बनता है.
  • बाल और नाखून काटने के लिए सबसे शुभ दिन बुधवार का होता है. इससे धन-दौलत भी बढ़ती है और खुशहाली बनी रहती है.
  • गुरुवार के दिन बाल कटवाने से धनहानि के साथ-साथ मान-सम्मान को भी ठेस पहुंचती है.
  • बुधवार के अलावा शुक्रवार का दिन भी इस काम के लिए अच्‍छा होता है. चूंकि यह शुक्र ग्रह से प्रभावित होता है और यह ग्रह सौन्दर्य का प्रतीक है. ऐसे में इस दिन बाल काटने से लाभ और यश में बढ़ोतरी होती है.
  • शनिवार के दिन बाल कटवाना भी अशुभ होता है. इसे भी असमय मृत्यु का कारण माना जाता है।

 

 

 

पढ़ें :- Guru Purnima 2024: गुरु पूर्णिमा पर करें हल्दी का ये उपाय , शिक्षा और रोजगार क्षेत्र में मिलेगी सफलता

 

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...