1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. गोरखपुर पुलिस के हत्थे चढ़े चार शातिर बदमाश,बिहार से यूपी आ कर करते थे बड़ी वारदात

गोरखपुर पुलिस के हत्थे चढ़े चार शातिर बदमाश,बिहार से यूपी आ कर करते थे बड़ी वारदात

गोरखपुर पुलिस ने बीती रात शहर के कैंट क्षेत्र में बड़ी कार्रवाई की है। पुलिस ने चार ऐसे बदमाशों को गिरफ्तार किया है जो बिहार से आ कर के यूपी में बड़ी लूट-पाट की घटनाओं को अंजाम दिया करते थे। दरअसल पुलिस चेकिंग के दौरान पुलिस को दो बाइकों पर सवार चार लोग दिखाई दिये।

By प्रिन्स राज 
Updated Date

गोरखपुर। गोरखपुर पुलिस ने बीती रात शहर के कैंट क्षेत्र में बड़ी कार्रवाई की है। पुलिस ने चार ऐसे बदमाशों को गिरफ्तार किया है जो बिहार से आ कर के यूपी में बड़ी लूट-पाट की घटनाओं को अंजाम दिया करते थे। बदमाशों के पास से लूट की घटना का 55 हजार रुपया नकद,03 मोबाइल,गाड़ी की डिग्गी तोड़ने का लोहे का नुकिला उपकरण,दो मोटरसाइकिल बरामद हुआ है। दरअसल पुलिस चेकिंग के दौरान पुलिस को दो बाइकों पर सवार चार लोग दिखाई दिये। इस दौरान पुलिस को शक हुआ तो पुलिस ने इन दोनों बाइकों का पीछा किया। पुलिस को अपने पीछे आते देख इन युवकों ने फायरिंग करनी शुरु कर दी।

पढ़ें :- महराजगंज:सर्वा माता का दर्शन कर ब्लाक प्रमुख ने मंदिर के कायाकल्प का ली शपथ

जवाबी कार्रवाई में पुलिस को भी इनके ऊपर फायरिंग करनी पड़ी। जिससे चारों के चारों बदमाश घायल हो गये। पुलिस की गोली के शिकार ये बदमाश घायल हो गये जिसके बाद इनको असानी से गिरफ्तार कर लिया गया। बदमाशों का इलाज स्थानीय अस्पताल में जारी है। बता दें कि ये सभी बिहार के कटिहार के रहने वाले हैं। चारों बदमाश बिहार से आ कर के यूपी में बड़ी चोरी, डकैती और लूट -पाट जैसी तमाम घटनाओं को अंजाम देते थे।

पढ़ें :- Budget 2023: सीएम योगी बोले-बजट से UP की जनता लाभान्वित होने जा रही

गोरखपुर में हुए चार ऐसे बड़ी घटनाओं को इन्हीं बदमाशों ने अंजाम दिया था। ये बहुत बड़ा गैंग है, हाल ही मे इसी गैंग ने कौडीराम और कैम्पियरगंज मे टप्पेबाजी और बड़हलगंज व खलीलाबाद में लाखों की लूट की थी। गोरखपुर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक विपिन ताड़ा ने बताया कि ये सभी बिहार के कटिहार के रहने वाले हैं। ये वहां से आ कर के यूपी में बड़ी घटनाओं को अंजाम देते थे। ये पूर्व में भी जेल जा चुके हैं। ये बिहार के अलावा देवरिया जेल में भी रहे हैं। इनके पूरे अपराधिक इति​हास का पता लगाया जा रहा है।

रिपोर्ट — रवि जायसवाल

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...