1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. Harsh Vardhan Bajpai jeevan parichay : हर्षवर्धन वाजयेपी के रगों में बसी है राजनीति, कांग्रेस के दिग्गज नेता को हराकर बने विधायक

Harsh Vardhan Bajpai jeevan parichay : हर्षवर्धन वाजयेपी के रगों में बसी है राजनीति, कांग्रेस के दिग्गज नेता को हराकर बने विधायक

Harsh Vardhan Bajpai jeevan parichay : यूपी (UP) के प्रयागराज जिले (Prayagraj District) की निर्वाचन क्षेत्र - 262, इलाहाबाद उत्‍तर विधानसभा सीट (Constituency - 262, Allahabad North Assembly seat) से हर्षवर्धन वाजयेपी (Harsh Vardhan Bajpai ) 2017 में भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party) के टिकट पर पहली बार विधायक चुने गए हैं।

By संतोष सिंह 
Updated Date

Harsh Vardhan Bajpai jeevan parichay : यूपी (UP) के प्रयागराज जिले (Prayagraj District) की निर्वाचन क्षेत्र – 262, इलाहाबाद उत्‍तर विधानसभा सीट (Constituency – 262, Allahabad North Assembly seat) से हर्षवर्धन वाजयेपी (Harsh Vardhan Bajpai ) 2017 में भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party) के टिकट पर पहली बार विधायक चुने गए हैं। बता दें कि हर्षवर्धन वाजयेपी (Harsh Vardhan Bajpai ) 2007 और 2012 में बसपा (BSP) के टिकट पर विधानसभा चुनाव लड़ा था, लेकिन दोनों ही बार उन्हें कांग्रेस के दिग्गज नेता अनुग्रह नारायण सिंह  (Anugrah Narayan Singh) से हार का सामना करना पड़ा था।

पढ़ें :- Isudan Gadhvi Biography: जानिए कौन है ईसूदान गढ़वी ​जिनको AAP ने बनाया गुजरात में मुख्यमंत्री का चेहरा?

उन्होंने 2017 में उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव (Uttar Pradesh assembly elections in 2017)  में भाजपा के टिकट पर 35035 के अंतर से कांग्रेस के अनुग्रह नारायण सिंह (Anugrah Narayan Singh) को हराया, यह अंतर इलाहाबाद उत्तर (विधानसभा क्षेत्र)  Allahabad North (Assembly constituency) के इतिहास में सबसे अधिक है । अनुग्रह नारायण सिंह (Anugrah Narayan Singh)  चार बार विधान सभा के सदस्य रह चुके थे।

हर्षवर्धन के परिवार का ऐसी रही है राजनैतिक पृष्ठभूमि

हर्षवर्धन इंदिरा गांधी (Indira Gandhi) के खास रहीं और पूर्व केंद्रीय मंत्री व पूर्व राज्यपाल राजेन्द्र कुमारी वाजपेयी (Rajendra Kumari Vajpayee) के पोते हैं। हर्षवर्धन के दादा डीएन बाजपेयी पेशे से शिक्षक थे। हर्ष के पिता अशोक कुमार बाजपेयी (Ashok Kumar Bajpai)  कांग्रेस (Congress)के बड़े नेता थे। वर्ष 1980 में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस (Indian National Congress) के टिकट पर अशोक कुमार बाजपेयी (Ashok Kumar Bajpai) ने प्रयागराज उत्तर विधानसभा क्षेत्र (Prayagraj North Assembly Constituency) से विजय प्राप्त की थी। हर्षवर्धन की मां रंजना वाजपेयी (Ranjana Vajpayee) समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) से काफी समय तक सपा की राष्ट्रीय महिला अध्यक्ष थी। राजनीतिक परिवेश में पले-बढ़े हर्षवर्धन बाजपेयी अपनी दादी व पिताजी की प्रेरणा से राजनीति और समाजसेवा क्षेत्र में आगे बढ़े। भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party) में शामिल होने से पूर्व वह बहुजन समाज पार्टी (Bahujan samaj party) से जुड़े थे।

हर्षवर्धन बाजपेयी की शिक्षा

पढ़ें :- Rama Shankar Singh Patel jeevan parichay : रमाशंकर दिग्गज कांग्रेसी को हराकर बने विधायक, योगी ने दिया मंत्री पद

हर्षवर्धन बाजपेयी (Harsh Vardhan Bajpai) का जन्म 20 जुलाई 1980 में प्रयागराज (Prayagraj ) में हुआ था। उन्होंने प्रयागराज के सेंट जोसेफ कॉलेज (St. Joseph’s College) से शिक्षा प्राप्त की है। साथ ही उन्होंने इंग्लैंड (England) में यूनिवर्सिटी ऑफ शेफील्ड (University of Sheffield) से सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग में स्नातक (Bachelor in Software Engineering) की डिग्री प्राप्त की है। इसके अतिरिक्त उन्होंने दिल्ली यूनिवर्सिटी (Delhi University) से फाइनेंसियल स्टडीज डिपार्टमेंट (Department of Financial Studies) से भी परास्नातक तक शिक्षा ग्रहण की।

ये है पूरा सफरनामा

नाम – हर्षवर्धन बाजपेयी
निर्वाचन क्षेत्र – 262, इलाहाबाद उत्‍तर विधानसभा सीट, प्रयागराज
दल – भारतीय जनता पार्टी
पिता का नाम – अशोक कुमार बाजपेयी
जन्‍म तिथि – 30 जुलाई, 1981
जन्‍म स्थान – प्रयागराज (इलाहाबाद)
धर्म – हिन्दू
जाति – ब्राह्मण
शिक्षा – स्नातकोत्तर
व्‍यवसाय – उद्योग
मुख्यावास – 109, रामगढ़, जनपद- प्रयागराज

राजनीतिक योगदान
मार्च, 2017 सत्रहवीं विधान सभा के सदस्य प्रथम बार निर्वाचित

पढ़ें :- Ratnakar Mishra jeevan parichay : मां विंध्यवासिनी मंदिर के पुरोहित रत्नाकर मिश्रा बने विधायक, 20 साल बाद खिलाया कमल
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...