1. हिन्दी समाचार
  2. IPL
  3. IPL 2021: जानें क्यों महेंद्र सिंह धोनी को अपने साथ हर साल बरकरार रखती है चेन्नई सुपर किंग्स

IPL 2021: जानें क्यों महेंद्र सिंह धोनी को अपने साथ हर साल बरकरार रखती है चेन्नई सुपर किंग्स

जब से भारत में इंडियन प्रीमियर क्रिकेट लीग का आयोजन हो रहा है। तब से भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व और सबसे सफल कप्तान महेंद्र सिंह धोनी आईपीएल की फ्रेंचाइजी चेन्न्ई सुपर किंग्स के लिए खेलते नजर आ रहे हैं। लेकिन जब दो साल के लिए चेन्न्ई की फ्रेंचाइजी पर प्रतिबंध लगाया गया और उस दौरान पुणे की टीम मैदान में खेलने के लिए उतरी तब धोनी सिर्फ दो साल पुणे की टीम का हिस्सा थे।

By शिव मौर्या 
Updated Date

नई दिल्ली। जब से भारत में इंडियन प्रीमियर क्रिकेट लीग का आयोजन हो रहा है। तब से भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व और सबसे सफल कप्तान महेंद्र सिंह धोनी आईपीएल की फ्रेंचाइजी चेन्न्ई सुपर किंग्स के लिए खेलते नजर आ रहे हैं। लेकिन जब दो साल के लिए चेन्न्ई की फ्रेंचाइजी पर प्रतिबंध लगाया गया और उस दौरान पुणे की टीम मैदान में खेलने के लिए उतरी तब धोनी सिर्फ दो साल पुणे की टीम का हिस्सा थे।

पढ़ें :- होटल में सिराज और उमरान के तिलक न लगवाने पर विवाद, सोशल मीडिया पर लोग उठा रहे सवाल

धोनी आईपीएल का पहला सत्र जो 2008 में खेला गया था तब से आज तक वो चेन्न्ई की टीम का नेतृत्व कर रहे हैं। धोनी की कप्तानी में टीम आईपीएल के इतिहास की दूसरी सबसे बड़ी टीम है। अब तक चेन्न्ई सुपर किंग्स ने आईपीएल के तीन खिताबों पर कब्जा किया है। तीन बार टीम विजेता रही है। आज धोनी और चेन्नई की टीम के इतने गहरे रिश्ते को लेकर बात की टीम के मालिक और भारतीय ​क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष एन श्रीनीवासन ने।

उन्होंने कहा कि उन्हें धोनी की सबसे अच्छी बात यह लगती है कि वे सीएसके के लिए हर मैच जीतना चाहते हैं। उन्हें जो पसंद होता है, वे हमेशा वही करते हैं। वे ऐसे शख्स हैं जो क्रिकेट को काफी सीरियसली लेते हैं और यही वजह है कि अभी से उनकी आईपीएल 2021 की तैयारी शुरू हो चुकी है।

महेंद्र सिंह की धोनी की कप्तानी वाली चेन्नई सुपर किंग्स इस साल आईपीएल में अपना पहला मैच 10 अप्रैल को दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ मुंबई में खेलेगी। वहीं टीम को अपना आखिरी मैच रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के खिलाफ 23 मई को कोलकाता में खेलना है। चेन्नई सुपर किंग्स की टीम का प्रदर्शन पिछले साल कुछ खास नहीं रहा था और धोनी की कप्तानी में टीम आईपीएल के इतिहास में पहली बार प्लेऑफ में अपनी जगह बनाने में नाकाम रही थी।

पढ़ें :- भारत और पाकिस्तान के बीच होने जा रहा है महामुकाबला, 8 दिनों बाद दोनों टीमों के बीच होगी भिड़ंत
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...