1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. Jahangirpur Violence : दिल्ली पुलिस ने दर्ज की FIR, अब तक 14 संदिग्ध गिरफ्तार, जानें बड़े अपडेट्स

Jahangirpur Violence : दिल्ली पुलिस ने दर्ज की FIR, अब तक 14 संदिग्ध गिरफ्तार, जानें बड़े अपडेट्स

Jahangirpur Violence : जहांगीरपुर हिंसा मामले में दिल्ली पुलिस (Delhi Police) ने अब तक 14 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। FIR के मुताबिक शोभा यात्रा शांति से चल रही थी। जामा मस्जिद के पास यात्रा पहुंची तो अंसार नाम का शख्स 4-5 लड़कों के साथ आया और शोभा यात्रा में शामिल लोगों से बहस करने लगा, यहीं से हुई बवाल की शुरुआत हुई।

By संतोष सिंह 
Updated Date

Jahangirpur Violence : जहांगीरपुर हिंसा मामले में दिल्ली पुलिस (Delhi Police) ने अब तक 14 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। FIR के मुताबिक शोभा यात्रा शांति से चल रही थी। जामा मस्जिद के पास यात्रा पहुंची तो अंसार नाम का शख्स 4-5 लड़कों के साथ आया और शोभा यात्रा में शामिल लोगों से बहस करने लगा, यहीं से हुई बवाल की शुरुआत हुई।

पढ़ें :- Stock Market Crash : निवेशकों के डूबे 12 लाख करोड़ रुपये,बजट से पहले शेयर बाजार धराशायी

FIR में शोभा यात्रा पर पथराव और फायरिंग का भी जिक्र किया गया है। वहीं, दिल्ली पुलिस (Delhi Police)  को हिंसा से जुड़े 100 वीडियो मिले हैं। वीडियो के जरिए उपद्रवियों की पहचान की कोशिश की जा रही है।

शोभायात्रा पर फायरिंग के आरोपी के खिलाफ 2020 में भी दर्ज है केस

दिल्ली जहांगीरपुरी हिंसा मामले में शोभायात्रा पर फायरिंग के आरोपी की पहचान 21 साल के असलम उर्फ खोडू उर्फ असलम अली के तौर पर हुई है। असलम के खिलाफ 2020 में भी केस दर्ज है। असलम सीडी पार्क के पास का रहने वाला है। उसके पास से वारदात के दौरान इस्तेमाल की गई एक पिस्टल बरामद हुई है। उसके खिलाफ जहांगीरपुरी थाना में 2020 के एक मामले में आईपीसी की धारा 324/188/506/34 के तहत केस दर्ज किया गया था। दिल्ली पुलिस का कहना है कि जिसे गिरफ्तार किया गया है वह आदतन अपराधी है। आगे की जांच जारी है।

हिंसा की जांच के लिए 10 टीमें बनाई गई हैं: दिल्ली पुलिस कमिश्नर 

पढ़ें :- मुलायम को पद्म विभूषण देने पर भड़कीं पूर्णिमा कोठारी, बोली-तो क्या मोदी सरकार कारसेवकों को घोषित करेगी आतंकी ?

दिल्ली पुलिस कमिश्नर राकेश अस्थाना ने कहा कि कानून व्यवस्था बिगाड़ने की कोशिश करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। उपद्रवियों को बख्शा नहीं जाएगा। उन्होंने बताया कि जहांगीरपुर सहति दिल्ली के अन्य संवेदनशील इलाकों में अतिरिक्त सुरक्षाबलों की तैनाती की गई है। सीनियर अफसरों को मुस्तैद रहने और हालात पर नजर रखने के लिए कहा गया है। ​जहांगीरपुरी में अब स्थिति नियंत्रण में है। हिंसा की जांच के लिए 10 टीमें बनाई गई हैं।

8 पुलिस कर्मियों और 1 नागरिक सहित 9 लोग घायल

डीसीपी उत्तर-पश्चिम उषा रंगनानी ने बताया कि इस मामले में 14 लोग गिरफ्तार किए गए हैं। आगे की जांच चल रही है। हिंसा में 8 पुलिस कर्मियों और 1 नागरिक सहित 9 लोग घायल हुए हैं। अस्पताल में उनका इलाज चल रहा है। एक सब-इंस्पेक्टर को गोली लगी है, उनकी हालत स्थिर है। हिंसा के वक्त जहांगीरपुरी में तैनात इंस्पेक्टर राजीव रंजन की ओर दर्ज कराई है। एफआईआर में उन्होंने कहा कि धार्मिक जुलूस की सुरक्षा में लगी पुलिस ने दोनों गुटों को अलग कर दिया था, लेकिन कुछ देर बाद दोनों पक्षों में फिर झड़प हो गई। उपद्रवियों ने  पथराव कर सांप्रदायिक तनाव पैदा करने की योजना बनाई थी। जुलूस शांतिपूर्ण तरीके से चल रहा था, सी-ब्लॉक मस्जिद के पास पहुंचा तो एक व्यक्ति अपने 4-5 अन्य लोगों के साथ जुलूस में शामिल लोगों से बहस करने लगा। इसके बाद में दोनों ओर से पथराव शुरू हो गया।

यूपी में सुरक्षा एजेंसियों को अलर्ट कर दिया गया

जहांगीरपुरी इलाके में भड़की हिंसा को लेकर यूपी में सुरक्षा एजेंसियों को अलर्ट कर दिया गया है। पश्चिमी उत्तर प्रदेश समेत राज्य के अन्य संवेदनशील इलाकों में पुलिस मुस्तैद है और जरूरत पड़ने पर फ्लैग मार्च भी कर रही है। यूपी पुलिस के अतिरिक्त महानिदेश कानून-व्यवस्था प्रशांत कुमार ने सभी जिलों के पुलिस कप्तानों को अलर्ट रहने का निर्देश दिया है।

पढ़ें :- Gautam Adani Networth: गौतम अडानी को लगा बड़ा झटका, अरबपतियों की लिस्ट में हुए पीछे, इस रिपोर्ट ने बढ़ाई उनकी मुसीबत

दिल्ली पुलिस ने भी हिंसा को लेकर केंद्रीय गृह मंत्री को अवगत कराया

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने दिल्ली पुलिस आयुक्त और विशेष आयुक्त (कानून-व्यवस्था) से बात की है और उन्हें आवश्यक कार्रवाई करने का निर्देश दिया है।आधिकारिक सूत्रों ने यह जानकारी दी कि दिल्ली पुलिस ने भी हिंसा को लेकर केंद्रीय गृह मंत्री को अवगत कराया है।

चौराहे पर सीआरपीएफ के जवान भी तैनात नजर आ रहे हैं। सड़क पर अब भी पत्थर और कांच के टुकड़े बिखरे पड़े दिख रहे हैं। स्थानीय लोगों ने बताया कि अब स्थिति नियंत्रण में है। चारों तरफ पुलिस है। रैली निकल रही थी, कुछ उपद्रवी लोग आए और पथराव शुरू कर दिया। भगदड़ मच गयी, जो यहां के लोग थे वे छुप गए। रैली निकालने वाले भी बचकर भागे। जुलूस निकल रहा था, अचानक हंगामा मच गया। ईंट पत्थर बरसने लगे।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि शोभायात्रा में पथराव की घटना बेहद निंदनीय

जहांगीरपुर हिंसा मामले में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि शोभायात्रा में पथराव की घटना बेहद निंदनीय है। जो भी दोषी हों उन पर सख्त कार्रवाई होनी चाहिए। सभी लोगों से अपील है कि वे एक दूसरे का हाथ पकड़कर शांति बनाए रखें। उन्होंने कहा कि बिना शांति देश तरक्की नहीं कर सकता। एजेसिंयां और दिल्ली पुलिस केंद्र सरकार की जिम्मेदारी है तो केंद्र सरकार दिल्ली में शांति व्यवस्था बनाए रखे।

शोभायात्रा पर अचानक हुई घटना नहीं बल्कि एक सुनियोजित साजिश थी :बीजेपी 

पढ़ें :- IND vs NZ T20 Match : भारत और न्यूजीलैंड के बीच 29 जनवरी को इकाना स्टेडियम में खेले जाने मैच की तैयारियों का जायजा लेने पहुंची मण्डलायुक्त डॉ. रोशन जैकब

भाजपा दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता और पार्टी सांसद मनोज तिवारी ने कहा कि शोभायात्रा पर अचानक हुई घटना नहीं बल्कि एक सुनियोजित साजिश थी। बीजेपी नेताओं ने कहा कि हिंसा के मामले में बाहर से आए घुसपैठियों की क्या भूमिका है, इसकी जांच की जाए। आदेश गुप्ता ने यह भी सवाल किया कि दिल्ली में अवैध रूप से रह रहे रोहिंग्याओं और बांग्लादेशियों की बस्ती को पानी और बिजली के कनेक्शन कैसे दिए गए?

दिल्ली भाजपा अध्यक्ष ने शांति बनाए रखने की अपील करते हुए कहा कि पार्टी का एक प्रतिनिधिमंडल हिंसा प्रभावित जहांगीरपुरी क्षेत्र का दौरा करेगा। भाजपा सांसद मनोज तिवारी ने घटना के बाद कहा कि अवैध प्रवासी बड़ा खतरा हैं। इसकी जांच की जरूरत है, क्योंकि वे हमारे देश के सद्भाव को नुकसान पहुंचा रहे हैं। जो लोग उनको बचा रहे हैं और उन्हें यहां बसने में मदद कर रहे हैं, वे एक बड़े खतरे को पाल रहे हैं।

उत्तर-पश्चिम दिल्ली के भाजपा सांसद हंस राज हंस ने शनिवार देर रात  हिंसा प्रभावित इलाके का दौरा किया। हंसराज हंस ने कहा कि मुझे नींद नहीं आ रही थी, मैं खुद जाकर स्थिति की जांच करना चाहता था। केंद्रीय गृह मंत्री भी जाग रहे हैं। हर मिनट का ट्रैक रख रहे हैं।

दिल्ली पुलिस के स्पेशल सीपी दीपेंद्र पाठक ने बताया कि स्थिति पूरी तरह नियंत्रण में

दिल्ली पुलिस के स्पेशल सीपी दीपेंद्र पाठक ने बताया कि स्थिति पूरी तरह नियंत्रण में है। माहौल शांतिपूर्ण है। हम लोगों के साथ लगातार संपर्क में हैं । शांति बनाए रखें और अफवाहों पर ध्यान न देने की अपील कर रहे हैं। सुरक्षा के लिए पर्याप्त संख्या में पुलिस अधिकारी यहां मौजूद हैं। प्राथमिकी दर्ज करके जांच शुरू कर दी गई है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...